असहज सच और सामाजिक मुद्दों की परत खोलती फिल्म ‘तितली’

फिल्म समीक्षा


इस सप्ताह प्रदर्शित फिल्म ‘तितली’ निर्देशक कनु बहल की पहली फिल्म है। वैसे तो यह एक अपराध आधारित थ्रिलर कहानी है लेकिन फिल्म कई सामाजिक मुद्दों की तह खोलते हुए आगे बढ़ती है। यशराज फिल्म्स और दिबाकर बनर्जी प्रोडक्शन ने संयुक्त रूप से इस फिल्म का निर्माण किया है। फिल्म उस शहर के विकास की कहानी है जिसका एक बड़ा हिस्सा पिछड़ा ही रह गया है। साथ ही यह बढ़ते शहरों के उन लोगों की कहानी है जहां पैसा हवा में उड़ तो रहा है लेकिन गिर रहा है तो सिर्फ कुछ ही तबकों के घरों में ही।

फिल्म में दिखाया गया है कि दिल्ली में कार उठाने का काम करने वाले तीन भाई गरीबी के कारण अपराध की दुनिया में चले जाते हैं और उसके जाल में उलझते जाते हैं। फिल्म के केंद्र में तितली का किरदार है जिसे नवोदित अभिनेता शंशाक अरोड़ा ने निभाया है। वह इस जंजाल से निकलकर खुद के लिए कुछ करना चाहता है और पैसा कमाने के लिए थोड़ा कम खतरे वाला रास्ता चुनता है। लेकिन उसका सबसे बड़ा भाई विक्रम (रणवीर शौरी) और मंझला भाई बावला (अमित सियाल) इस खानदानी काम में इतने गहरे तक लिप्त होते हैं कि तितली के इस धंधे को छोड़ने के विचार से भी उन्हें नफरत होती है। भाइयों के बीच की यह लड़ाई कहानी को आगे बढ़ाती है और इस पूरे दंगा-फसाद को घर के मुखिया डैडी जी (ललित बहल) बस चुपचाप देखते रहते हैं। फिल्म पहली नजर में एक अपराध आधारित कथा लगती है जिसमें एक ही परिवार के तीन भाई उलझे हुए हैं। लेकिन यह कई सामाजिक परतों को भी उधेड़ती है।

फिल्म में एक और नवोदित कलाकार है शिवानी रघुवंशी जिसने तितली की पत्नी नीलू का किरदार निभाया है। उसके भी तितली की तरह अपने सपने हैं और इसीलिए वह तितली के साथ होते हुए भी अपनी तरह से जीवन जीना चाहती है।‘तितली’ के किरदार काफी मजबूत हैं। शौरी का किरदार काफी चुनौतीपूर्ण है। सियाल और ललित ने अपनी भूमिकाओं से न्याय किया है। फिल्म का पूरा दारोमदार नए कंधों पर है और अरोड़ा एवं शिवानी ने इस जिम्मेदारी को बखूबी निभाया भी है। ‘तितली’ आम फिल्मों से बिल्कुल अलग है। मनोरंजन के साथ कई असहज सच और सामाजिक मुद्दों की परत यह फिल्म खोलती है। पटकथा बहल और शरत कटारिया ने लिखी है। दोनों ने सामाजिक मुद्दों को पिरोने का काम बखूबी किया है और उसे कहीं भी बोझिल नहीं होने दिया। एक बार फिल्म देखी जा सकती है।

  • कलाकार- रणवीर शौरी, शशांक अरोड़ा, अमित सियाल, ललित बहल।
  • निर्माता- यशराज फिल्म्स, दिबाकर बनर्जी, शिवानी रघुवंशी।
  • प्रोडक्शन और निर्देशक- कनु बहल।

Post a Comment

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget