सहरिया जनजाति में क्षय रोग नियंत्रण के प्रभावी प्रयास हों



भोपाल।। मुख्य सचिव श्री अन्टोनी डिसा ने प्रदेश के आठ जिलों में सहरिया आबादी में टी बी रोग नियंत्रण के लिए किए जा रहे प्रयासों की समीक्षा की। मुख्य सचिव ने निर्देश दिए कि स्वास्थ्य, चिकित्सा शिक्षा, महिला-बाल विकास, आदिम-जाति कल्याण विभाग संयुक्त रूप से इन क्षेत्रों में टीबी रोग नियंत्रण के लिए प्रयास तेज करें। अभियान संचालित कर इस रोग की अधिकता पर अंकुश के प्रयास हों।
बैठक में बताया गया कि राज्य के शिवपुरी, श्योपुर कला, अशोक नगर, गुना, ग्वालियर, मुरैना, दतिया और विदिशा में करीब छह लाख सहरिया जनसंख्या में गत तीन वर्ष में लगभग पंद्रह हजार टी बी रोगी पाए गए हैं। इनको निर्धारित उपचार पद्धति का लाभ मिल रहा है। मुख्य सचिव ने रोग के कारण समाप्त करने और विशेष पोषण आहार सहित अन्य उपायों से रोग नियंत्रण के निर्देश दिए।
बैठक में जानकारी दी गई कि देश में जहाँ औसतन 216 टी.बी. रोगी प्रति एक लाख की आबादी में पाए जाते हैं वहीं सहरिया क्षेत्र में यह आँकड़ा तीन हजार के आसपास है। इसके लिए वे परिस्थितियाँ और जीवन-शैली जिम्मेदार हैं, जिससे टी बी रोग का प्रसार होता है। बैठक में नेशनल इंस्टीट्यूट फॉर रिसर्च इन ट्राइबल हेल्थ, जबलपुर के अधिकारियों सहित स्वास्थ्य विभाग की प्रमुख सचिव श्रीमती गौरी सिंह और आयुक्त स्वास्थ्य श्री पंकज अग्रवाल उपस्थित थे।

Post a Comment

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget