बरगवां रेल्वे स्टेशन पर कोलयार्ड बनाने का भाकपा करेगी खुला विरोध

बरगवां रेल्वे स्टेशन पर कोलयार्ड बनाने का भाकपा करेगी खुला विरोध


 राजेंद्र अग्रहरि@ उर्जांचल टाईगर 
अपनी डफली अपना राग ,कुछ हमारी भी सुन लो सरकार
                                                         ( संजय नामदेव )
बरगवां रेलवे स्टेशन बाजार से मात्र 500 मीटर दूरी पर है अगर रेलवे स्टेशन पर कोल कोलयार्ड बनेगा तो इस से जनजीवन पर बहुत प्रभाव पड़ेगा 

सिंगरौली। ।  बरगवां रेलवे स्टेशन पर कम्पनी एवं रेल प्रबंधन के मिलीभगत से कोलयार्ड बनाने का प्रयास हो रहा है तथा एक-दो दिन में कार्य प्रारंभ कर दिया जावेगा, जिससे जनहित में रोका जाना अति आवश्यक होगा, कोलयार्ड निर्माण को रोकने के लिये निम्नांकित आधार इस प्रकार हैं 

बरगवां रेलवे स्टेशन के पास डगा गाँव को अभी हाल ही में डगा को आदर्श गाँव घौषित किया गया है जिसमे पूर्ण रूप से बाजार, दर्जनों स्कूल, अस्पताल,आईटीआई पॉलिटेक्निक कालेज, उसके चारों तरफ घनी आबादी है वर्तमान समय में एफसीआई (भारतीय खाद्य निगम) की यार्ड बन रहा है तथा सारे खाद्यान्न बरगवां यार्डों में उतार कर रखे जायेगे, एक तरफ गेहूं और चावल, शक्कर जैसी खाद सामग्री है, वही पर कोयले का प्रदूषण, हालात कितनी भयावह होंगे । 

संजय नामदेव ने बताया कि बरगवां से मझौली रेलवे स्टेशन महज 7 किलोमीटर की दूरी पर है तथा नजदीक भी है वहां पर कोलयार्ड बनाये, बरगवां से गोन्दवाली जहां ललितपुर-सिंगरौली रेल्वे लाइन को जोड़ा जा रहा है वहाँ पर्याप्त मात्रा में शासन की रिक्त भूमि उपलब्ध है वहां बनाये जाय । 

यहां की निवासी जनता अस्पताल स्कूल के साथ-साथ घनी आबादी, हिंडालको से निकलने वाले कोल डस्ट, धुआं, प्रदूषण की मार पहले से झेल रहे हैं ऊपर से कोल यार्ड से बनने से लोगों को जिंदा मारने के बराबर हो जायेगा, फोनलेन व बैढन - रीवा मार्ग के बीचो बीच बसा हुआ है ऐसे में कोलयार्ड बनना गैर कानूनी एवं न्याय हित में नहीं है । 

कम्पनी एवं रेल प्रबंधन के मिलीभगत से कोलयार्ड बनाने का प्रयास हो रहा है तथा एक-दो दिन में कार्य प्रारंभ कर दिया जावेगा, जिससे जनहित में रोका जाना अति आवश्यक होगा, कोलयार्ड निर्माण को रोकने के लिये निम्नांकित आधार इस प्रकार हैं :- बरगवां रेलवे स्टेशन के पास डगा गाँव को अभी हाल ही *डगा को आदर्श गाँव* घौषित किया गया है जिसमे पूर्ण रूप से बाजार, दर्जनों स्कूल, अस्पताल,आईटीआई पॉलिटेक्निक कालेज, उसके चारों तरफ घनी आबादी है वर्तमान समय में एफसीआई (भारतीय खाद्य निगम) की यार्ड बन रहा है तथा सारे खाद्यान्न बरगवां यार्डों में उतार कर रखे जायेगे, एक तरफ गेहूं और चावल, शक्कर जैसी खाद सामग्री है, वही पर कोयले का प्रदूषण, हालात कितनी भयावह होंगे । 

संजय नामदेव ने बताया कि बरगवां से मझौली रेलवे स्टेशन महज 7 किलोमीटर की दूरी पर है तथा नजदीक भी है वहां पर कोलयार्ड बनाये, बरगवां से गोन्दवाली जहां ललितपुर-सिंगरौली रेल्वे लाइन को जोड़ा जा रहा है वहाँ पर्याप्त मात्रा में शासन की रिक्त भूमि उपलब्ध है वहां बनाये जाय । 

यहां की निवासी जनता अस्पताल स्कूल के साथ-साथ घनी आबादी, हिंडालको से निकलने वाले कोल डस्ट, धुआं, प्रदूषण की मार पहले से झेल रहे हैं ऊपर से कोल यार्ड से बनने से लोगों को जिंदा मारने के बराबर हो जायेगा, फोनलेन व बैढन - रीवा मार्ग के बीचो बीच बसा हुआ है ऐसे में कोलयार्ड बनना गैर कानूनी एवं न्याय हित में नहीं है । 

जनहित में भारतीय कम्युनिष्ट पार्टी के संजय नामदेव ने सम्बन्धित अधिकारियो को पत्र लिखकर मामले को अवगत कराते हुये हस्तक्षेप कर रोक लगाने की मांग की है ।
Reactions:

Post a Comment

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget