एनएच के धीमी कार्य पर कलेक्टर ने जताई नाराजगी


सिंगरौली (बैढन)।। सीधी-सिंगरौली राष्ट्रीय राज्य मार्ग 75 निर्माणाधीन फोरलेन के कार्य में जब कोई अड़चने नहीं हैं, फिर भी कार्य की प्रगति धीमी क्यों है? राजस्व एवं वन विभाग के अधिकारी सहयोग करने के लिए तत्पर हैं, इसके बावजूद कार्य की प्रगति में तेजी क्यों नहीं आ रही है? फोरलेन के निर्माण कार्य में तेजी लायें, ताकि आम जनता को परेशानी न हो। यदि कार्य में तेजी नहीं आया तो अब संबंधित विभाग के अधिकारी के खिलाफ कार्यवाही के लिए प्रस्ताव तैयार कर वरिष्ठ अधिकारियों के यहां भेजा जायेगा, साथ ही ठेकेदार के विरूद्ध कार्यवाही की जायेगी। उक्त निर्देश सिंगरौली कलेक्टर  अनुराग चौधरी ने सीधी-सिंगरौली फोरलेन राष्ट्रीय राज्य मार्ग के निर्माण कार्यों की समीक्षा बैठक लेते अधिकारियों को दिए।

कलेक्टर के द्वारा देवसर, चितरंगी, सिंगरौली के उपखण्ड अधिकारियों के साथ-साथ वन मण्डलाधिकारी से जानकारी ली गई कि एनएच फोरलेन के कार्य में कहां पर बाधा उत्पन्न हो रही है, जिसके चलते कार्य में गति नहीं पकड़ रही है। जिले के तीनों उपखण्ड अधिकारियों के अलावा वन मण्डलाधिकारी ने कलेक्टर को अवगत कराया कि कहीं पर ऐसी अड़चने विभागीय तौर पर नहीं आ रही हैं और जब कभी ऐसी दिक्कत आती है, तो उसका मौके पर जाकर निराकरण कर दिया जायेगा। कलेक्टर श्री चौधरी ने तीनों उपखण्ड अधिकारियों ने निर्देश देते हुए कहा कि निर्माणाधीन फोरलेन का समय-समय पर भ्रमण कर स्थिति का जायजा लेते रहें और संविदाकार राजस्व संबंधी जो भी समस्या अवगत करायें, उसका त्वरित निराकरण करने में सहयोग करें। एसडीएम देवसर राजेश शुक्ला ने कलेक्टर को अवगत कराते हुए कहा कि सीधी-सिंगरौली के टू लेन सड़क निर्माण कार्य में किसी प्रकार की कोई बाधा नहीं है। चितरंगी एसडीएम ने यह बताया कि महदेइया में ऐसे 11 विवादित मकान है, जिसे नहीं हटाया गया है। उस समस्या का भी निदान किया जा चुका है, उसे भी जल्द ही हटा दिया जायेगा।

कलेक्टर अनुराग चौधरी ने एमपीआरडीसी रीवा संभागीय प्रबंधक मनोज गुप्ता एवं सहायक महाप्रबंधक समीर गोहर व सीधी-सिंगरौली सड़क परियोजना के प्रोजेक्ट हेड संजय तिवारी को निर्देश देते हुए कहा कि जब राजस्व एवं वन भूमि में सड़क बनाने में कोई अड़चन नहीं आ रही है तो बहानेबाजी अब नहीं चाहिए। हमें काम की प्रगति चाहिए। कलेक्टर ने कड़ी नाराजगी जाहिर करते हुए कहा कि अब बहानेबाजी नहीं चलने वाली है, हर हाल में कार्य में तेजी लायें। लापरवाही व शिथिलता बर्दास्त नहीं की जावेगी। बैठक में डीएफओ एएस तिवारी, एसडीएम सिंगरौली विकास सिंह, चितरंगी आरपी साकेत, देवसर राजेश शुक्ला एवं तीनों तहसील के तहसीलदार तथा संविदाकार मौजूद थे।

सीधी-सिंगरौली आवागमन बाधित न हो 

कलेक्टर अनुराग चौधरी द्वारा एमपीआरडीसी एवं सीधी-सिंगरौली सड़क निर्माण परियोजना के प्रोजेक्ट हेड तथा संविदाकार को कड़े निर्देश देते हुए कहा है कि निर्माणाधीन सीधी-सिंगरौली बारिश के समय में आवागमन बाधित न हो। जहां पर कीचड़ जल भराव हो, वहां आवश्यकतानुसार सड़क को चुस्त-दुरूस्त करें। ताकि कोई दुर्घटना घटित न हो और लोगों को आने जाने में समस्या न हो। साथ ही दुर्घटना वाले स्थान पर सांकेतिक चिन्ह प्रदर्शित करें और संविदा कम्पनी के वालेंटियर तैनात किए जायें।
Reactions:

Post a Comment

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget