दीनदयाल उपाध्याय ग्रामीण ज्योति योजना कार्य की प्रगति व गुणवत्ता की विशेष समीक्षा की गयी


वाराणसी से अजीत नारायण सिंह ।। दिनांक 03 अगस्त, 2017 को पूर्वान्चल विद्युत वितरण निगम लि0 के सभागार में  आलोक कुमार, अध्यक्ष, उत्तर प्रदेश पावर कारपोरेशन, लखनऊ एवं विशाल चौहान, प्रबन्ध निदेशक, उत्तर प्रदेश पावर कारपोरेशन, लखनऊ द्वारा पूर्वान्चल विद्युत वितरण निगम के अन्तर्गत चल रहे भारत सरकार की योजनायें-दीनदयाल उपाध्याय ग्रामीण ज्योति योजना (11वीं 12वीं एवं नर्इ योजना), आर्इ0पी0डी0एस0, आर-ए0पी0डी0आर0पी0 पार्ट-बी0, तथा बिजनेस प्लान/व्यापार विकास निधि इत्यादि की समीक्षा की गयी। जिसमे पूर्वान्चल के समस्त मुख्य अभियन्ता (वितरण), वाराणसी/इलाहाबाद/गोरखपुर/आजमगढ़/बस्ती/मिर्जापुर, एवं समस्त अधीक्षण अभियन्ता (वितरण/विभिन्न योजनाओं के मुख्य कार्यकारी अधिकारी/कार्यदायी संस्थाओं की निगरानी करने के लिए नामित संस्थाये/पी0एम0ए0 ने प्रतिभाग किया। 
बैठक मे उक्त योजनाओ के अन्तर्गत सभी कार्यों को निविदा के अनुसार निर्धारित समय में पूर्ण करने के निर्देश दिये गये तथा कार्य की प्रगति की समीक्षा के साथ-साथ कार्य के गुणवत्ता की विशेष समीक्षा की गयी। उक्त परियोजनाये समय सीमा में पूर्ण न होने के कारणों की भी समीक्षा की गयी। 
समीक्षा बैठक मे मेसर्स ए0के0 इन्फ्रास्ट्रक्चर द्वारा संतकबीर नगर व सोनभद्र मे दीनदयाल ग्राम ज्योति योजना में किये जा रहे कार्य के प्रगति की समीक्षा मे पाया कि उनके कार्य की गुणवत्ता ठीक नहीं है। इसके लिए निर्णय लिया गया कि कार्य की जॉंच करायी जायेगी तथा जॉंच में यदि कार्यदायी संस्था को दोषी पाया गया तो नियमानुसार फर्म का अनुबंध समाप्त करने के साथ ब्लैकलिस्ट (काली सूची) घोषित करने की कार्यवाही की जायेगी। मेसर्स ए0के0 इन्फ्रास्ट्रक्चर द्वारा विभाग द्वारा दिये गये पोल की गुणवत्ता पर भी प्रश्नचिन्ह लगाया गया जिसके भी जॉंच के आदेश के निर्णय लिये गये। 

बैठक मे आजमगढ़, फतेहपुर, चन्दौली एवं मिर्जापुर में आर्इ0पी0डी0एस0 कार्य मेसर्स के0र्इ0आर्इ0 द्वारा किया जा रहा है। मेसर्स के0र्इ0आर्इ0 द्वारा किये जा रहे पोल ग्राउटिंग के कार्य की कुछ स्थानो पर कमी बतायी गयी। मऊ, चन्दौली, फतेहपुर, आजमगढ़ जनपद मे पोल ग्राउटिंग के कार्य की जॉच करायी जायेगी, यदि जॉच मे पोल की ग्राउटिंग सही नही पायी गयी तो अनुबंध के मानको को ध्यान मे रखकर कार्यवाही की जायेगी। 
बैठक मे गाजीपुर, चन्दौली एवं जौनपुर जनपद में मेसर्स वायब्रेन्ट कन्ट्रक्शन द्वारा ग्रामीण क्षेत्रो मे विद्युतीकरण का कार्य किया जा रहा है, इनका कार्य संतोषजनक नही है कार्य की प्रगति भी अत्यन्त शिथिल है। संस्था द्वारा पर्टचार्ट नहीं दिया गया है। सम्बन्धित अधीक्षण अभियन्ता संस्था से पर्टचार्ट प्राप्त करेगे, पर्टचार्ट के अनुसार प्रगति न होने पर अनुबंध के अनुसार उन्हे नोटिस देकर एवं संस्था के विरूद्व कार्यवाही करते हुए निर्धारित समय सीमा मे कार्य पूर्ण कराये जायेगे। कार्य मे अत्यधिक विलम्ब होने पर नियमानुसार अनुबंध समाप्त करने की कार्यवाही हो सकती है। सम्बन्धित अधीक्षण अभियन्ताओ द्वारा कार्यवाही क्यो नही की गयी, इसके लिए उन्हे चेतावनी निर्गत की जायेगी। 
समीक्षा बैठक मे मेसर्स विध्य टेलीलिंक लिमिटेड द्वारा गाजीपुर जनपद मे फीडर सेप्रेरेशन का कार्य कराया जा रहा है, इसके पोल ग्राउटिंग कार्य के सम्बन्ध मे कुछ शिकायते प्राप्त हुर्इ है। इस पोल ग्राउटिंग की जॉच करायी जायेगी। ग्राउटिंग मे बालू, गिट्टी तथा सीमेन्ट के अनुपात की जॉच लैब से भी करायी जायेगी। यदि जॉच मे शिकायत सही पायी गयी तो कार्यदायी संस्था से पुन: पोल ग्राउटिंग का कार्य कराया जायेगा तथा अनुबंध के अनुसार अन्य कार्यवाही भी की जायेगी। बैठक मे यह तथ्य सामने आया कि जौनपुर जनपद मे कार्यदायी संस्था द्वारा मानक के अनुरूप गहरायी तक पोल नहीं गाड़े गये थे। पी0एम0ए0 द्वारा इसे इगिंत किये जाने पर कार्यदायी संस्था ने शेष भाग को भी रेड पेंट करके छिपा दिया। निर्णय लिया गया कि इस शिकायत की जॉच कर कठोरतम कार्यवाही जैसे एफ0आर्इ0आर0 दर्ज कराना इत्यादि । 
बैठक मे निर्णय लिया गया कि सभी अधीक्षण अभियन्ता (वितरण) प्रत्येक सप्ताह कार्यदायी संस्था तथा पी0एम0ए0 के साथ विकास कार्यों की संयुक्त बैठक करेंगे तथा बैठक का कार्यवृत्त भी अवश्य जारी करेंगे। सम्बन्धित अधीक्षण अभियन्ता/मुख्य अभियन्ता (वितरण) द्वारा कार्यदायी संस्थाओं से सबसे पहले कार्य का पर्टचार्ट लिया जायेगा। पर्टचार्ट के अनुसार प्रगति न होने पर अधीक्षण अभियन्ता/विभिन्न योजनाओं के मुख्य कार्यकारी अधिकारी द्वारा वैधानिक नोटिस संस्थाओ को प्रेषित करेगे। 
बैठक में प्रमुखरुप से सर्वश्री अतुल निगम, प्रबन्ध निदेशक,पूर्वान्चल विद्युत वितरण निगम लि0,वाराणसी, सुरेश चन्द्र भारती, निदेशक (तकनीकी), मोहित आर्या, निदेशक (वाणिज्य), ए0के0 कोहली, निदेशक (कार्मिक), ए0के0 अवस्थी, निदेशक (वित्त), तारिक मतीन, मुख्य अभियन्ता (वितरण), मिर्जापुर, ए0के0 श्रीवास्तव मुख्य अभियन्ता (वितरण), वाराणसी, ओ0पी0यादव, मुख्य अभियन्ता (वितरण), बस्ती, ए0के0 सिंह, मुख्य अभियन्ता (वितरण), गोरखपुर, अश्वनी कुमार, मुख्य अभियन्ता (वितरण), इलाहाबाद, एस0बी0 वर्मा, मुख्य अभियन्ता (वितरण), आजमगढ़, ए0आर0 वर्मा (स्टाफ अधिकारी), चन्द्रजीत कुमार, मुख्य अभियन्ता, पी0के0 सिंह, जी0डी0 सिंह, अधीक्षण अभियन्ता (डिस्काम मुख्यालय), आर0बी0 राज, अधीक्षण अभियन्ता (भण्डार) व राकेश सिन्हा (अधिकृत प्रवक्ता) व अन्य उपस्थित थे।

Post a Comment

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget