माता बनी कुमाता,प्रेमी के साथ मिलकर की पुत्री और पति की हत्या ।


बैढ़न (सिंगरौली)।। जिला मुख्यालय से लगभग 50 किलोमीटर दूर बरगवां थाना क्षेत्र के ग्राम दुधमनिया गांव में आज से 3 माह पूर्व घटना दिवस 9 मई 2017 की रात बाहर सो रहे पिता - पुत्री की आग से जलाकर अंधी हत्याकांड को अंजाम देने वाले मुख्य आरोपी महिला सहित दो को सिंगरौली पुलिस ने कड़ी मशक्कत के बाद गिरफ्तार कर लिया है । मुख्य आरोपी दीक्षा रस्तोगी मृतक रामराज की पत्नी व राधा की सगी मां है जिसने अपने प्रेमी के संग अलग दुनिया बसाने के हसीन सपने में बाधा बन रहे पति सहित दोनों पुत्रियों को शातिराना अंदाज में हत्या करवाने का कुचक्र रचा लेकिन अब उसकी नई दुनिया जेल में बसेगी।
उक्ताशय का खुलासा SP सिंगरौली रुडोल्फ अल्वारेस ने पत्रकारों के समक्ष किया । इस दौरान एएसपी सूर्यकांत शर्मा ,DSP महिला प्रकोष्ठ किरण कीरो, मोरवा टी आई आर मिश्रा ,बरगवां टी आई राकेश साहू मौजूद रहे ।घटना के संबंध में आगे SP श्री अल्वारेस ने बताया कि उत्तर प्रदेश राज्य के चंदौली जिले के ग्राम साहब गंज निवासी मृतक रामराज रस्तोगी पुत्र प्रदुमन रस्तोगी अपनी पत्नी दीक्षा रस्तोगी पुत्री राधा व लक्ष्मी के साथ घटना दिवस से कुछ दिन पूर्व ही ग्राम दूधमनिया में आकर बसा था ,जिसकी 9 मई की रात दोनों बेटियों के साथ बाहर सोने के दौरान सुनियोजित तरीके से अज्ञात बाइक सवार दो हत्यारों द्वारा ज्वलनशील पदार्थ डालकर आग लगाकर हत्या कर दी गयी थी। हादसे में गंभीर रूप से जले रामराज की जहां नेहरु चिकित्सालय जयंत में उपचार के दौरान मौत हो गई थी वही पुत्री राधा की बनारस में मौत हुई थी घटना के बाद क्षेत्र ही नहीं पूरे जिले में सनसनी व्याप्त हो गई थी और इस अंधी हत्याकांड को सुलझाना सिंगरौली पुलिस के सामने एक कड़ी चुनौती थी ,पर सिंगरौली पुलिस ने हार नहीं मानी और हत्या का प्रकरण पंजीबद्ध कर विवेचना में जुट गयी। लगातार प्रयास के बाद घटना दिवस से 3 माह के भीतर सिंगरौली पुलिस ने पिता पुत्री के अंधी हत्याकांड में शामिल मुख्य आरोपी दीक्षा रस्तोगी जो मृतक रामराज की पत्नी व राधा की सगी मां है को उसके प्रेमी सोनू रस्तोगी के साथ गिरफ्तार कर लिया जबकि तीसरा आरोपी वेद प्रकाश तिवारी फिलहाल फरार है जिसकी तलाश पूरी सरगर्मी के साथ की जा रही है । SP श्री अल्वारेस के अनुसार गिरफ्तार मुख्य आरोपी दीक्षा रस्तोगी ने स्वीकार किया कि उसके प्रेमी सोनू के साथ नये जीवन की शुरुआत करने में पति रामराज व पुत्रियां बाधा बन रही थी लिहाजा प्रेमी के साथ मिलकर इन्हें रास्ते से हटाने का उसी का पूरा षड्यंत्र था।
इन्होंने निभाई अहम भूमिका ।
इस अंधी हत्याकांड का पर्दाफाश करने में पुलिस अधीक्षक सिंगरौली रुडोल्फ अल्वारेस व अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक सूर्यकांत शर्मा के कुशल मार्गदर्शन में DSP महिला प्रकोष्ठ सुश्री किरण कीरो ,बरगवां थाना प्रभारी राकेश साहू ,पीएसआई खुमान सिंह पटेल ,सुरेंद्र यादव ,,आबू समन खान ,छत्रपति आर, अमित जायसवाल ,आर रानी पटेल ने महत्वपूर्ण भूमिका निभायी।

Post a Comment

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget