बिहार के चीफ सेक्रेट्री आईएएस अंजनी कुमार सिंह बनेंगे बिहार के नये शिक्षा मंत्री

पटना (बिहार)। दिल्‍ली के पावर कॉरीडोर में चर्चा बहुत तेज है। बिहार के मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार नया प्रयोग करने जा रहे हैं।खबर के मुताबिक बिहार के मौजूदा चीफ सेक्रेट्री अंजनी कुमार सिंह को वीआरएस,रिटायरमेंट के तुरंत बाद बिहार का नया शिक्षा मंत्री बनाया जा सकता है। दरअसल, नीतीश कुमार बिहार के एजुकेशन सिस्‍टम में तेजी से सुधार को लेकर बड़ी तैयारी में लगे हैं।इसके लिए उन्‍हें अनुभव के साथ तेज चाल में काम करने को टीम की जरुरत है।चीफ सेक्रेट्री अंजनी कुमार सिंह को नीतीश कुमार का बेहद भरोसेमंद अधिकारी माना जाता है।आईएएस अधिकारी के तौर पर वे सेवा से 28 फरवरी 2018 को रिटायर करेंगे।लेकिन पावर कॉरीडोर की चर्चाओं को मानें तो रजामंदी के साथ वे पहले भी वीआरएस ले सकते हैं। राजनैतिक नजरिये से बिहार विधान परिषद में सीट की वैकेंसी देखी जा रही है। दरअसल,जब अंजनी कुमार सिंह मंत्री बन जायेंगे,तो उन्‍हें छह माह के भीतर बिहार विधान मंडल के किसी सदन का सदस्‍य बन जाना अनिवार्य होगा। चीफ सेक्रेट्री बनने के पहले अंजनी कुमार सिंह शिक्षा विभाग के प्रधान सचिव रह चुके हैं।उनके समय में कई बड़े फैसले शिक्षा विभाग में लिए गए।नीतीश कुमार ने शिक्षा विभाग में प्रधान सचिव के तौर पर मदन मोहन झा और अंजनी कुमार सिंह के प्रयोग को सदैव सराहा भी है। मदन मोहन झा का असामयिक निधन हो गया था। स्‍मृति में बिहार के शिक्षा विभाग के सेक्रेटेरिएट में स्थित कान्‍फ्रेंस कक्ष को उनके नाम किया गया है। कहा जा रहा है कि मुख्‍य मंत्री नीतीश कुमार ने 2017 के मई महीने में ही शिक्षा विभाग के संबंध में आगे का प्‍लान तैयार कर लिया था।तब बिहार बोर्ड की परीक्षा में फर्जी टॉपर गणेश को लेकर लेकर सूबे की देश भर में लगातार दूसरे साल फजीहत हो रही थी।इस मौके पर ही सिस्‍टम में भूल को स्‍वीकारते हुए नीतीश कुमार ने कहा था कि वे चुनौतियों को भविष्‍य में अवसर के रुप में बदलना जानते हैं।तब कांग्रेस कोटे से बिहार में शिक्षा मंत्री अशोक चौधरी थे,सो कोई बड़ा बदलाव मंत्री के तौर पर नीतीश कुमार नहीं कर सके। जुलाई 2017 में जब नीतीश कुमार ने राजद-कांग्रेस से महागठबंधन तोड़ कर भाजपा के साथ बिहार में नई सरकार बनाई तो जदयू के नेता कृष्‍णनंदन वर्मा को बिहार का शिक्षा मंत्री बनाया गया।वर्मा लो प्रोफाइल वाले व्‍यक्ति हैं। ऐसे में,नीतीश कुमार के फैसले पर सबों को आश्‍चर्य भी हुआ। लेकिन नीतीश कुमार के प्‍लान का सीक्रेट अब खुल रहा है।बताते चलें कि वर्मा को अभी पिछले दिनों फिर से लॉ डिपार्टमेंट की जिम्‍मेवारी सौंपी गई है। ऐसे में जब वर्मा से शिक्षा विभाग से वापस लिय जाएगा तो वे लॉ डिपार्टमेंट के मंत्री बने रहेंगे।
Reactions:

Post a Comment

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget