एक महीने में डेढ़ हजार प्रसव में 26 बच्चे मृत पैदा हुए

एक महीने में डेढ़ हजार प्रसव में 26 बच्चे मृत पैदा हुए

शेखपुरा(बिहार)। जिले में चलाए जा रहे संस्थागत प्रसव कार्यक्रम में पिछले महीने कुल 1576 प्रसव में 26 बच्चे मृत पैदा हुए। यह खुलासा स्वास्थ्य विभाग द्वारा डीएम को दिए रिपोर्ट से हुआ है। असल में मंगलवार को जिला स्वास्थ्य विभाग की समीक्षा बैठक के दौरान डीएम ने जब जिले में संस्थागत प्रसव के बारे में सिविल सर्जन से जानकारी मांगी तो यह तथ्य सामने आया। इस आंकड़े पर डीएम ने गंभीरता दिखाते हुए सिविल सर्जन से मरे हुए बच्चे पैदा होने के मामले में विस्तृत रिपोर्ट मांगी है। इसकी जानकारी देते हुए जनसंपर्क पदाधिकारी ने बताया कि स्वास्थ्य विभाग की समीक्षा बैठक में यह बताया गया कि अगस्त महीने में जिले भर के सरकारी अस्पतालों में 1576 प्रसव कराया गया। इसमें से 26 ऐसे मामले दर्ज किये गए। जिसमें बच्चा मृत पैदा हुआ। इसके अलावा 13 प्रसव में जुड़वा बच्चे पैदा हुए हैं। जुड़वां बच्चों के पैदा होने के 13 मामलों में अकेले 11 मामले सदर ब्लाक के हैं। एक महीने में 26 बच्चों के मृत पैदा होने पर डीएम ने प्रशासनिक संवेदनशीलता दिखाते हुए सिविल सर्जन से इस बाबत विस्तृत रिपोर्ट देने को कहा है कि किस वजह से बच्चे मृत पैदा हुए। इसके कारणों की पड़ताल करते हुए रिपोर्ट दें।
प्रतिक्रियाएँ:

एक टिप्पणी भेजें

MKRdezign

संपर्क फ़ॉर्म

नाम

ईमेल *

संदेश *

Blogger द्वारा संचालित.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget