नवादा विधायक राजबल्लभ यादव रहेंगे जेल या मिलेगा बेल, फैसला 18 को

नवादा विधायक राजबल्लभ यादव रहेंगे जेल या मिलेगा बेल, फैसला 18 को

मुकेश कुमार (स्टेट हेड बिहार) पटना (बिहार बिहारशरीफ में नाबालिग छात्रा से जुड़े दुष्कर्म मामले में नवादा के राजद विधायक राजबल्लभ यादव द्वारा दाखिल जमानत अर्जी पर गुरुवार को सुनवाई हुई। आदेश 18 सितंबर को सुनाया जाएगा। जमानत अर्जी की सुनवाई बिहारशरीफ के स्पेशल पॉक्सो न्यायाधीश सह एडीजे वन शशिभूषण प्रसाद सिंह के कोर्ट में की गई। आरोपित विधायक की ओर से जमानत अर्जी पर बहस अधिवक्ता वीरेन कुमार ने की। आरोपित के वकील विरमणि कुमार ने बताया कि बहस के दौरान कोर्ट में दलीलें दी गयीं कि सुप्रीम कोर्ट में राज्य सरकार के वकील ने जमानत का विरोध करते हुए कहा था कि मामला संगीन है और इस मामले में विधायक के बाहर आने से गवाहों में भय व्याप्त होगा। इससे भयमुक्त वातावरण में मामले की सुनवाई पर असर पड़ेगा। उसके बाद सुप्रीम कोर्ट ने जमानत खारिज कर दी थी। इस मामले में अब सभी गवाहों की गवाही पूरी हो चुकी है। दोनों पक्षों से बहस भी समाप्त हो चुकी है। इस दौरान अभियोजन द्वारा आरोपित विधायक के खिलाफ किसी भी प्रकार की शिकायत न्यायालय में नहीं की गई है। आरोपित विधायक का व्यवहार न्यायालय के प्रति सहयोगात्मक रहा है। 
विधायक राजबल्लभ यादव
इसलिए विधायक को जमानत दी जाए। हालांकि स्पेशल पीपी सुमेश्वर दयाल व कैसर इमाम ने जमानत का विरोध करते हुए कहा कि यह मामला काफी संगीन है और इस मामले में सुप्रीम कोर्ट ने सभी बिंदुओं पर सुनवाई करते हुए आरोपित को जमानत रद्द कर दी है। ऐसे में निम्न न्यायालय से जमानत दिया जाना न्यायहित में नहीं होगा। इस संबंध में उन्होंने सुप्रीम कोर्ट के आदेशों का भी हवाला दिया। दोनों पक्षों से सुनवाई के बाद न्यायाधीश श्री सिंह ने आदेश को सुरक्षित रखते हुए 18 सितंबर को फैसला सुनाने का निर्णय लिया है। डेढ़ वर्ष से जेल में बंद हैं विधायक :- रेप मामले में विधायक ने 10 मार्च 2016 को बिहारशरीफ के स्पेशल न्यायाधीश के समक्ष आत्मसमर्पण किया था, तब से वे जेल में बंद हैं। इस दौरान उन्हें पिता के श्राद्धकर्म में भाग लेने के लिए 15 दिनों के लिए प्रोविजनल बेल दिया गया था। बाद में उन्हें हाईकोर्ट ने रेगुलर जमानत दे दी थी। राज्य सरकार द्वारा सुप्रीम कोर्ट में अपील किए जाने के बाद सुप्रीम कोर्ट ने इसे खारिज कर दिया था। उसके बाद विधायक ने कोर्ट में सरेंडर किया था और तब से वे जेल में बंद हैं।
Labels:
Reactions:

टिप्पणी पोस्ट करें

MKRdezign

संपर्क फ़ॉर्म

नाम

ईमेल *

संदेश *

Blogger द्वारा संचालित.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget