डीएम ने दिया मनरेगा पीओ का वेतन बंद करने का आदेश


बिहार शरीफ(नालंदा)।। डीएम ने दिया मनरेगा पीओ का वेतन बंद करने का आदेश। डीएम डॉ. त्यागराजन एस मोहनराम ने खुले में शौच मुक्ति अभियान के कार्यों में लापरवाही व सात निश्चय में प्रगति नहीं होने पर सारे पंचायत के पंचायत प्रभारी मनरेगा पीओ को जमकर फटकार लगाई। साथ ही उनका वेतन बंद करने का आदेश दिया। उन्होंने एक सप्ताह का समय देते हुआ कहा कि इतने दिनों में काम प्रगति पर होना चाहिये। अगर काम में गड़बड़ी हुई तो सख्त कार्रवाई की जाएगी। वे शुक्रवार को अस्थावां के प्रखंड कार्यालय में अधिकारियों के साथ सरकार द्वारा चलाए जा रहे सात निश्चय योजना के तहत खुले में शौचमुक्ति अभियान की समीक्षा बैठक कर रहे थे। उन्होंने 2 अक्टूबर तक मोहम्मदपुर व अस्थावां को ओडीएफ करने का लक्ष्य दिया। डीएम ने बीडीओ को आदेश दिया कि पूरे प्रखण्ड को पांच माह के अंदर ओडीएफ करना है। जो वार्ड व पंचायत ओडीएफ घोषित हो गए है उसमें निगरानी कमेटी बनेगी। प्रत्येक पंचायत में एक महिला ब्रिगेड का गठन खुले में शौच रोकने के लिये किया जायेगा। मुख्यमंत्री के सात निश्चय में भी तेजी लाने को कहा गया। इस मौके पर डीटीओ शैलेन्द्र नाथ, बीडीओ पंकज कुमार निगम, सीओ रविशंकर पाण्डेय, बीईओ राजकुमार यादव, बीओ शिवालक प्रसाद, पीओ विष्णु प्रकाश झा के अलावा प्रखंड के सभी अधिकारी व कर्मी मौजूद थे।
Labels:
Reactions:

Post a Comment

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget