कोल इंडिया के चेयरमैन से मिले उ.कि.म.परिषद अध्यक्ष के सी शर्मा,समस्याओं से कराया अवगत

कोल इंडिया के चेयरमैन से मिले उ.कि.म.परिषद अध्यक्ष के सी शर्मा,समस्याओं से कराया अवगत


  • उदवासित किसान मजदूर परिषद ने कोल इंडिया चेयरमैन को सौपा ज्ञापन,कई मुद्दों पर हुई वार्ता 
  • मेढ़ोली मुवावजा फर्जीवाड़े की उच्चस्तरीय जांच कराने,
  • परियोजनाओं में एन सी एल की जमीन पर होरे अवैध कब्जे व अतिक्रमण रोकने की मांग 
सिंगरौली। रविवार को कोल इंडिया के कार्यवाहक चेयरमैन गोपाल सिंह सायं 7बजे एन सी एल मुख्यालय सिंगरौली पहुचे। श्री सिंह स्वागत सत्कार की औपचारिकता के बाद देर रात 1.30डेढ़ बजे तक कम्पनी के अधिकारियो के साथ समीक्षा बैठक की । दूसरे दिन भी रात 9बजे तक विभिन्न परियोजनाओं का दौरा करने के बाद रात 10 बजे एन सी एल मुख्यालय के मोरवा हॉउस अतिथि गृह पहुचे तब जाके श्रमिक संगठनों और आफिसर एशोसिएशन के नेताओ से लंबे इंतजार के बाद मिलने जुलने का सील सिला शुरू हुआ।

इसी क्रम में कोयला श्रमिक सभा सम्बद्ध हिन्द मजदूर सभा तथा विस्थापितो का संगठन उदवासित किसान मजदूर परिषद का एक प्रतिन्धण्डल कोल इंडिया के चेयरमैन से मिला और उन्हें ज्ञापन देते हुए श्रमिको और विस्थापितो की समस्याओ पर विस्तार से चर्चा की। विस्थापितो की समस्याओ पर चेयरमैन को परिषद के अध्यक्ष ने प्रधानमंत्री सहित उनको भी भेजे गए पत्र की प्रति सौपते हुए बताया कि जयंत परियोजना के विस्तार में विस्थापित किये जाने वाले मेढ़ोली गांव के मुवावजा वितरण में करोड़ो का फर्जीवाड़ा प्रकाश में आया है जो महाघोटाला है। इसमें दोषियो के खिलाफ आपराधिक प्रकरण दर्ज करा उनके खिलाफ सख्त कार्यवाही होनी चाहिए और दुद्धीचुआ के विस्थापितो को जो दशको से पुनर्वास के लिए भटक रहे है उन्हें शीघ्र पूनर्वासित किया जाये व पुनर्वास स्थल पर भू माफियाओ द्वारा पुनर्वास स्थल पर किये गए अवैध कब्जे व अतिक्रमण को हटवाया जाय।
के.सी.शर्मा (वरिष्ठ पत्रकार)
इसके अतिरिक्त उदवासित किसान मजदूर परिषद के अध्यक्ष के सी शर्मा ने चेयरमैन को यह भी बताया कि एनसीएल की खड़िया परियोजना में एनसीएल प्रवंधन और सुरक्षा विभाग के सह पर सैकड़ो एकड़ जमीन पर भू माफियाओ ने अवैध कब्जा कर अतिक्रमण करते हुए बड़ी बड़ी इमारते खड़ी करदी है जिससे कम्पनी को करोड़ो रूपये की क्षति हुई है। यही हाल जयंत ,दुद्धिचुआ,निगाही,अमलिरी,आदि परियोजनाओं का भी कमोबेस है। इसे तत्काल रोकने की कार्यवाही हो और दोषी कम्पनी के अधिकारी ,कर्मचाइयो को भी दण्डित किया जाना चाहिए। जिस पर चेयरमैन ने वहा मौजूद अधिकारियो को तत्काल आवश्यक कार्यवाही किये जाने का निर्देश दिया।

वार्ता के दौरान एन सी एल के सी एम डी बी आर रेड्डी निदेशक कार्मिक शांतिलता शाहू,कोल इंडिया के निदेशक तकनिक विनय दयाल ,एन सी एल के निदेशक गण गुड़ाधर पांडेय,पी एस आर के शास्त्री,जे एल सिंह आदि अधिकारी भी मौजूद रहे ।चेयरमैन से मिलने वाले प्रतिनिधि मंडल में प्रमुख तौर पर परिषद के अध्यक्ष के सी शर्मा ,कोयला श्रमिक सभा एन सी एल के महामंत्री अशोक कुमार पांडेय, शिवेश सिंह ,मिश्रा जी थे ।

Labels:
Reactions:

Post a Comment

डिजिटल मध्य प्रदेश

डिजिटल मध्य प्रदेश

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget