सिंगरौली पुलिस ने मानव तस्करी करने वाले गिरोह को पहुंचाया सलाखों के पीछे

सिंगरौली पुलिस



सिंगरौली ब्यरो।। सिंगरौली पुलिस ने लड़कियों को बहला फुसलाकर अन्य राज्य में बेचने वाले गैंग को धरदबोचा और न्यायालय में पेश कर जेल भेज दिया।
प्राप्त जानकारी के अनुसार थाना सरई के अंतर्गत ग्राम धौहनी से आरोपियों द्वारा लड़कियों को बहला-फुसलाकर सिंगरौली जिला से शिवपुरी ले जाकर बेचने वाले आरोपी राम प्रकाश उर्फ राजू पिता ददन राम जयसवाल उम्र 22 वर्ष निवासी ग्राम झारा थाना सरई राकेश उर्फ गुड्डू जायसवाल पिता बिंदेश्वरी जयसवाल उम्र 19 वर्ष निवासी ग्राम झारा थाना सरई रामकरण पनिका पिता रामाधीन पनिका उम्र 28 वर्ष निवासी ग्राम बंजारी थाना सरई जिला सिंगरौली मध्य प्रदेश से दो लड़कियों को बहला-फुसलाकर शिवपुरी ले जाया गया और दोनों लड़कियों को बेचने के लिए सीताराम पाल पिता भैया लाल पाल उम्र 40 वर्ष निवास ग्राम जिला थाना करैरा जिला शिवपुरी मध्य प्रदेश को 50-50 हजार रुपए वेश्यावृत्ति के लिए बेचने का सौदा तय हुआ था। इसी दौरान लड़कियों के साथ कई बार गलत काम किया गया। शिवपुरी में सीता रामपाल द्वारा कई लोगों को बेचने के लिए दिखाया दिया गया तथा सौदेबाजी तय की गई। दिनांक 22/10/ 2017 को सीताराम पाल द्वारा जंगल के रास्ते ग्राम भौती ले जा रहा था तब जंगल में ही सीताराम द्वारा एक लड़की के साथ मुंह कला किया जिसका विरोध करने पर गला दबाकर जान से मारने की धमकी दी। जिसके बाद तस्कर के चंगुल में फंसी लडकियों ने शोर मचा कर जान बचाने का प्रयास किया एक चरवाहे ने आवाज सुनकर सूचना भौती थाना प्रभारी को दिया भौती थाना प्रभारी ने मामले को गंभीरता से लेते हुए दलबल के साथ मौके पर पहुंच कर लडकियों को बरामद किया और सिंगरौली पहुँच कर परिजन को सुपुर्द कर दिया ।

कैसे गिरफ्तार हुआ आरोपी 

सिंगरौली जिला के थाना सरई में फरार आरोपियों के विरुद्ध विभिन्न धाराओं में मामला पंजीबद्ध कर आरोपियों के तलाश के लिए महिला पुलिस की टीम और सरई पुलिस ने संयुक्त रूप से तलाश शुरू कर दी। लड़कियों से पूछताछ कर आरोपियों के मोबाइल नंबर के आधार पर लोकेशन को ट्रेस कर उनकी तलाश की गई जिससे आरोपियों को ग्राम झारा में होने का अनुमान लगाया गया। शिवपुरी का आरोपी सीताराम पाल पुलिस के डर के मारे आरोपी राम प्रकाश उर्फ राजू के घर ग्राम झारा में छिपा था।पूछताछ पर पता चला कि आरोपी सीताराम पाल पहले भी आया है आरोपी राजू उर्फ रामप्रकाश के घर में रुक चुका है, पुलिस ने सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर न्यायिक हिरासत में भेजा दिया। जिस गाड़ी में लड़की को लेकर जिले से बाहर जाने वाली गाड़ी Bolero क्रमांक MP66 c1069 को जप्त किया गया। 

इन्होंने निभाई महत्वपूर्ण भूमिका 

पुलिस अधीक्षक विनीत जैन व अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक सूर्यकांत शर्मा के निर्देशन में डीएसपी महिला प्रकोष्ठ किरण कीरो के मार्गदर्शन में गठित टीम व में सरई टीआई अभिषेक सिंह परिहार के कुशल नेतृत्व में स.उ.नि. अबू समन खान,स.उ.नि. बहादुर सिंह, प्र.आर.247 अनिल साकेत, आरक्षक 328 केशव सिंह, आरक्षक 162 सदन आरक्षण 369 आशीष सिंह बागरी,महिला प्रकोष्ठ की भूमिका महत्वपूर्ण रही।

Labels:
Reactions:

Post a Comment

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget