सिंगरौली जिला चिकित्सालय की एक नई पहचान बनाएं - कलेक्टर

सिंगरौली जिला चिकित्सालय की एक नई पहचान बनाएं - कलेक्टर

बैढ़न (सिंगरौली)। कलेक्टर अनुराग चौधरी के द्वारा जिला चिकित्सालय का निरीक्षण किया जाकर साफ-सफाई एवं पूर्व में दिए गए निर्देश के परिपालन के तहत किए गए अस्पताल के आवश्यक निर्माण कार्यो का जायजा लिया गया। निरीक्षण के दौरान जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी प्रियंक मिश्रा, एसडीएम विकास सिंह, निगमायुक्त शिवेन्द्र सिंह सहित अन्य अधिकारी भी उपस्थित रहे। 

कलेक्टर के द्वारा एक्सरे रूम,ओपीडी चाइल्ड वार्ड , एवं स्टोर रूम आदि का निरीक्षण किया गया। निरीक्षण के दौरान मुख्य स्वास्थ्य चिकित्सा अधिकारी एवं सिविल सर्जन को आवश्यक निर्देश दिए गए। वही अस्पताल के निर्माण कार्य सहित आवश्यक स्थलों के मरम्मत के कार्य समय सीमा के अंदर कार्यपालन यंत्री लोक निर्माण विभाग को दिए गए। कलेक्टर श्री चौधरी के द्वारा पैथालाजी में कम जॉच होने पर नाराजगी जातायी गई तथा दीनदयाल रसोई घर के बगल में रिक्त भूमि पर पैथालाजी एवं ब्लड स्टोरेज अल्ट्रासाउन्ड के कार्य हेतु शीघ्र भवन निर्माण कराए जाने का निर्देश दिया गया तथा यहा भी निर्देश दिया गया कि अस्पताल के चार्टबोर्ड पर प्रति दिवस ड्यूटी पर तैनात डॉक्टर एवं नर्सो का नाम एवं मोबाईल नम्बर अंकित किया जाये। ब्रेसर फिडिंग हेतु एक कार्नर भी तैयार कराएं। वही पैथालाजी 24 घण्टे खुली रहे, सिफ्ट वाइ सिफ्ट स्टाफो की ड्यूटी लागाई जाये। वही अस्पताल परिसर के बाहर की साफ-सफाई व्यवस्था को देखकर कााफी नाराजगी व्यक्त की गई । कई स्थानों पर गंदगी पायी गई जिस पर संविदाकार के विरूद्ध रूपयें पचास हजार का जुर्माना लगाया गया। वही सिविल सर्जन को कड़े निर्देश दिए गए कि अस्पताल की साफ-सफाई एवं अन्य व्यवस्थएं चुस्त-दुरूस्त रखी जाये। 

व्यवस्था सुधार हेतु डाक्टरों के साथ किए मंथन

कलेक्टर श्री चौधरी के द्वारा अस्पताल के सभागार में डाक्टरों के साथ सामूहिक रूप से अस्पताल की व्यवस्था को बेहतरीन बनाने हेतु एवं अन्य आवश्यक कार्य जो अस्पताल से संबंधित हो उसमें सुधार किए जाने हेतु एक एक डाक्टर से उनकी राय ली गई । जिसमें यह तथ्य सामने आया कि डाक्टरों को रात्रिकालीन इमरजेन्सी पर लाने एवं ले जाने हेतु एम्बुलेस की व्यवस्था कराई जाये एवं नर्सो की ड्यूटी समय समय पर तीन पारियों में लगाई जाये। रात्रिकालीन ड्यूटी करने वाले डाक्टरों एवं नर्सो की तीन पारियों में बोर्ड पर नाम एवं मोबाईल नम्बर अंकित किए जाये। वही वार्ड वार्डो की संख्या भी बढायी जाये। क्षय रोग के मरीजों का अलग कक्ष हो । आइसीयू की भी व्यवस्था कराई जाये। सुरक्षा व्यवस्था के दृष्टिकोण से दो पुलिस एवं एक होमगार्ड तथा सुरक्षा गार्ड की तैनाती रात्रि एवं दिन में कराई जाये। वही चाईल्ड वार्ड महिला वार्ड, पुरूष वार्ड को भी अलग अलग किया जाये। इसके अलावा भी अन्य सुझाव दिए गए। कलेक्टर के द्वारा डाक्टरों के विचारों को सुनने के पश्चात शीघ्र इनके सुझावों पर कार्यवाही करने का निर्देश दिया गया। वही यह भी निर्देश दिया गया कि किसी भी प्रकार का लंबित भुगतान न रहे । सभी का भुगतान समय सीमा पर किया जाये।

बैठक के दौरान मुख्य स्वास्थ्य चिकित्सा अधिकारी डॉ0 राजेश श्रीवास्तव सिविल सर्जन डॉ0 एन.के जैन, वरिष्ठ चिकित्सक डॉ0 आर.बी सिंह, डॉ0 संतोष सिंह,डॉ0 देवेन्द्र सिंह डॉ0 प्रवीण ठकुराय,,डॉ0 अतुल तोमर,डॉ0 उमेष सिंह डॉ0 विमला खेस, आदि उपस्थित रहें।

Post a Comment

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget