नोखा की घटना की न्यायिक जांच कर दोषियों पर कार्यवाई करे सरकार- रामेश्वर चौरसिया

नोखा की घटना की न्यायिक जांच कर दोषियों पर कार्यवाई करे सरकार- रामेश्वर चौरसिया



डेहरी- आन- सोन (बिहार)।  रोहतास जिले के नोखा में दशहरा व मुहर्रम के मौके पर पुलिस की बर्बरता देखते ही बनी। आला अफसरों की देखरेख में वहां की भोली भाली जनता को पिटवाया गया। जिससे एक की मौत हो गई। सरकार भी इस मामले में मुकदर्शक बनी हुई है।
भाजपा के वरिष्ठ नेता व पूर्व विधायक रामेश्वर प्रसाद चौरसिया ने मंगलवार शाम स्टेशन रोड स्थित एक होटल में प्रेस वार्ता में उक्त बातें कहीं। 
उन्होंने पुलिस प्रशासन पर सीधा आरोप लगाते कहा कि शाहाबाद प्रक्षेत्र के डीआईजी मोहम्मद रहमान उस दिन अपनी देखरेख में निर्दोष जनता जिसमें महिलाएं भी शामिल थी को कुरता पूर्वक पिटवाया ।पुलिस की बर्बरता से उमा पासवान की मौत हो गई। जिस की प्राथमिकी भी दर्ज नहीं की गई। उन्होंने सासाराम के अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी और थानाध्यक्ष को भी इस मामले में सामान्य रूप से जिम्मेदार ठहराया है। उन्होंने कहा कि इस घटना में 94 पर प्राथमिकी दर्ज की गई। 27 लोगों को भी जेल भेज दिया गया। जो सरासर अन्याय है।
एक प्रश्न के जवाब में उन्होंने कहा कि वह नहीं जानते कि सरकार इस मामले में चुप क्यों है। नोखा की जनता सुशासन की सरकार से जवाब मांग रही है। उन्होंने इस घटना की न्यायिक जांच कराने और दोषियों पर कार्यवाही की मांग की है ।ताकि जनता का विश्वास सरकार पर बना रहे ।
मौके पर भाजपा नेता सत्येंद्र सिंह अंजनी कुमार सिंह वीरेंद्र सिंह रामप्रसाद आदि मौजूद थे ।

Post a Comment

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget