पतंजलि जमीन विवाद- सही जानकारी देने वाले दो सुचना अधिकारीयों का तबादला

पतंजलि जमीन विवाद

सरकार पर आरोप है कि उसने बाबा की कंपनी को एक करोड़ रुपये प्रति एकड़ के भाव वाली जमीन सिर्फ 25 लाख रुपये एकड़ के भाव में दी थी।
नई दिल्ली। नागपुर में फूड पार्क के लिए महराष्ट्र के देवेंद्र फड़णवीस सरकार द्वारा बाबा रामदेव को सस्ते दामों में जमीन उपलब्ध कराने के मामले में नई जानकारी सामने आई है। महाराष्ट्र एयरपोर्ट अथॉरिटी कंपनी (एमएडीसी) के दो सूचना अधिकारियों (पीआईओ) का ट्रांसफर हुआ है जिनको रामदेव और उनकी कंपनी पतंजलि से जोड़कर देखा जा रहा है। दरअसल, जिन दो अधिकारियों का ट्रांसफर हुआ उनका नाम अतुल ठाकरे और समीर गोखले है। दोनों ने एक आरटीआई के लिए जानकारी जुटाने में मदद की थी जिसको आधार बनाकर आरोप लगाया गया कि एमएडीसी की जमीन पतंजलि को 75 प्रतिशत डिस्काउंट पर दे दी गई थी।

आईटीआई का जवाब आने के बाद एमएडीसी प्रमुख विश्वास पाटिल को मुख्य सूचना आयुक्त रत्नाकर गायकवाड़ ने समन किया था। उसके ठीक 12 दिन बाद ही सूचना देने वाले दोनों पीआईओ का ट्रांसफर कर दिया गया।

सरकार पर आरोप है कि उसने बाबा की कंपनी को 1 करोड़ रुपये प्रति एकड़ के भाव वाली जमीन सिर्फ 25 लाख रुपये एकड़ के भाव में दी थी। पतंजलि आयुर्वेद नागपुर में 600 एकड़ जमीन में फूड पार्क बनाना चाहती है।
Reactions:

Post a Comment

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget