बंपर कमाई पर बवाल, 16000 गुना बढ़े टर्नओवर पर सवाल।


न्यूज डेस्क।। मोदी सरकार बनने के बाद भारतीय  जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के बेटे जय शाह की कंपनी टेम्पल इन्टरप्राइजेज प्राइवेट लिमिटेड का टर्नओवर 16 हजार गुना बढ़ गया है।यह दावा करते हुए द वायर पर ख़बर प्रकाशित होने के बाद राजनीति में भूचाल से आगया है।
जहां कांग्रेस ने अमित शाह के बेट पर जमकर निशाना साधा और वहीं भारत सरकार के मंत्री और बीजेपी नेता ने भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष के बेटे का बचाव करते हुए इसपर सफाई दी है। कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल ने कहा कि बीजेपी अध्यक्ष के बेटे की कंपनी के टर्नओवर को लेकर कई सवाल पूछे हैं। सिब्बल ने कहा कि अचानक 80 करोड़ कैसे हो गया टर्नओवर? इस मामले में ईडी और सीबीआई क्या कर रही है?

विपक्ष का आरोप 


कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल ने संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘‘आज हम प्रधानमंत्री ...प्रधान सेवक से सवाल पूछते हैं...अब आप घोर पूंजीवाद के बारे में क्या कहेंगे? क्या आप सीबीआई को मामले की जांच का निर्देश देंगे? क्या आप प्रवर्तन निदेशालय को इन लोगों को गिरफ्तार करने का आदेश देंगे।’’ विपक्षी पार्टियों ने एक खबर के बाद ये मांग की। खबर में रजिस्ट्रार ऑफ कंपनीज (आरओसी) के आंकड़े को उद्धत करते हुए कहा गया है कि जय अमित शाह के मालिकाना हक वाले टेंपल इंटरप्राइज की संपत्ति में वर्ष 2015-16 के दौरान 16,000 गुना और उससे पहले के साल से करीब 80 करोड़ रुपये का इजाफा हुआ।

सिब्बल ने आरओसी फाइलिंग का हवाला देते हुए आरोप लगाया कि कुसुम फिनसर्व एलएलपी को मध्य प्रदेश में पवन ऊर्जा क्षेत्र में एक ठेका मिला जबकि यह कंपनी स्टॉक ट्रेडिंग का काम करती है। इस कंपनी का 60 प्रतिशत हिस्सा जय के पास है।

पक्ष की सफाई

जिसके बाद बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के बेटे जय शाह ने अपनी सफाई भी दी है। भारत सरकार के रेल मंत्री पीयूष गोयल ने जय शाह पर लगे सभी आरोपों को सिरे से खारिज करते हुए कहा कि जय शाह कानून के मुताबिक चले हैं उन्होंने जो लोन लिया है वो उन्होंने पूरे ब्याज के साथ वापस किया।


उन्होंने आगे कहा कि 16 सौ करोड़ टर्नओवर को सनसनीखेज मामला बनाया गया है। इस मामले में जय अमित भाई शाह के नाम का इस्तेमाल किया गया है। जो अमित शाह के नाम को बदनाम करने की कोशिश की है। 

क्या है पूरा मामला 

वेबसाइट ‘द वायर’ की रिपोर्ट के मुताबिक, रजिस्ट्रार ऑफ कंपनीज (आरओसी) से प्राप्त डॉक्यूमेंट में जय की कंपनी की बैलेंस शीट में बताया गया है कि मार्च 2013 और मार्च 2014 तक उनकी कंपनी में कुछ खास कामकाज नहीं हुए। और इस दौरान कंपनी को कुल 6,230 रुपये और 1,724 रुपये का घाटा हुआ। लेकिन जैसे ही केंद्र में नरेंद्र मोदी की सरकार बनी और उनके पिता भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष बने। तो जय शाह की कंपनी के टर्नओवर में आश्चर्यजनक रूप से बढ़ोतरी हुई।
साल 2014-15 के दौरान उनकी कंपनी को कुल 50,000 रुपये की इनकम पर कुल 18,728 रुपये का लाभ हुआ। लेकिन साल 2015-16 के वित्त वर्ष के दौरान जय शाह की कंपनी का टर्नओवर लंबी छलांग लगाते हुए 80.5 करोड़ रुपये का हो गया। यह 2014-15 के मुकाबले 16 हजार गुना ज्यादा है।

Reactions:

Post a Comment

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget