बाल विकास विद्यालय रखौना खजुरी में चाचा नेहरू की जयंती।

बाल विकास विद्यालय रखौना खजुरी में चाचा नेहरू की जयंती।

वाराणसी से संतोष कुमार सिंह।। (मिर्ज़ामुराद)14.11.17 आज मंगलवार को बाल विकास विद्यालय रखौना खजुरी में चाचा नेहरू की जयंती बाल दिवस के रूप में मनायी गयी। इस अवसर पर आयोजित समारोह की अध्यक्षता दया शंकर यादव दया मास्टर ने की। 
जबकि दीप प्रज्वलित कर शिक्षिका रीना पटेल ने उद्घाटन किया। सर्व प्रथम चाचा नेहरू के तैल चित्र पर पुष्प माला अर्पित करते हुए प्रबंधक दया शंकर यादव दया मास्टर ने कहा कि 17 वर्षो तक प्रधानमंत्री रहे जवाहर लाल नेहरू को गुलाब और बच्चों से प्रेम था।इसलिए सारा देश उन्हें चाचा नेहरू के रूप में जानते थे। 15 वर्ष की अवस्था तक गांव में शिक्षा ग्रहण करने के बाद वे विलायत पढ़ने गए।
23 वर्ष की अवस्था में जब भारत लौटे तो जलियांवाला बाग की घटना जो 1919 में घटी थी। उनके दिल-दिमाग को बदल दिया और वे गांधीजी के साथ आजादी की लड़ाई में कूद पड़े। उन्होंने उनके जीवनी पर विस्तार से प्रकाश डाला। इस अवसर पर पधारे सामाजिक कार्यकर्ता राजकुमार गुप्ता ने इंकलाबी गीत सुना कर जान भर दी बच्चो के संघर्षों की दास्तान सुना कर भाव विभोर कर दिया।
वहीं शिक्षक गीता पटेल, शांति पाल, गुलाब राव, अशोक पाल, श्याम बाबु, हंशराज यादव, राम जनम यादव, सुनील कुमार सोनकर ने नेहरूजी के जीवनी पर प्रकाश डालते हुए सीख लेने की बात कही। आयोजित कबड्डी प्रतियोगिता में छात्र-छात्रा सत्य प्रकाश यादव, सुनैना, चंदा की टीम जूनियर वर्ग मे बेहतर प्रदर्शन किया। जबकि प्रिंस यादव ने भाषण दिया तो प्रिंस बिंद ने देश भक्ति गीत प्रस्तुत किया। अंत मे बच्चो को टाफिया बांटी गयी॥ 

प्रतिक्रियाएँ:

एक टिप्पणी भेजें

MKRdezign

संपर्क फ़ॉर्म

नाम

ईमेल *

संदेश *

Blogger द्वारा संचालित.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget