राममंदिर आंदोलन-कारसेवकों पर फायरिंग प्रकरण में इस्तखासा

राममंदिर आंदोलन-कारसेवकों पर फायरिंग प्रकरण में इस्तखासा


दीप शंकर मिश्र"दीप"विशेष संवाददाता
लखनऊ।।  फैजाबाद अयोध्या 1990 में राममन्दिर आंदोलन में कारसेवकों पर हुई फायरिंग में मृत कारसेवक रमेश कुमार पांडेय की पत्नी गायत्री देवी द्वारा एक वाद दायर किया गया है परिवारवाद को अपर मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट प्रथम रविन्द्र द्विवेदी की कोर्ट ने बतौर प्रकीर्ण वाद दर्ज कर लिया है जिसकी सुनवाई 5 दिसम्बर को होगी । मर्त कार सेवक पत्नी गायत्री देवी के अधिवक्ता विशाल चन्द्र श्रीवास्तव ने कोर्ट में दाखिल इस्त खासे की अर्जी में कहा है कि 2 नवम्बर 1990 को दोपहर में करीब 12 बजे गायत्री के पति रमेश कुमार पांडेय राम जन्मभूमि आंदोलन में एकत्र हुये कार सेवकों की भीड़ देखने हनुमान गढ़ी चौराहे की ओर जा रहे थे कि लाल कोठी के पास पहुँचने पर सामने से पुलिस द्वारा चलाई गयी गोली से उनकी मौत हो गयी ।
Labels:
Reactions:

टिप्पणी पोस्ट करें

MKRdezign

संपर्क फ़ॉर्म

नाम

ईमेल *

संदेश *

Blogger द्वारा संचालित.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget