कमिश्नर नितिन रमेश गोकर्ण मंगलवार को केन्द्रीय प्रदुषण नियत्रण बोर्ड कार्यालय का निरीक्षण कर वहॉ लगे वायु प्रदुषण नियंत्रण मापक मशीनों का अवलोकन किया।

कमिश्नर नितिन रमेश गोकर्ण मंगलवार को केन्द्रीय प्रदुषण नियत्रण बोर्ड कार्यालय का निरीक्षण कर वहॉ लगे वायु प्रदुषण नियंत्रण मापक मशीनों का अवलोकन किया।


वाराणसी ।। कमिश्नर नितिन रमेश गोकर्ण ने वायु प्रदुषण को नियत्रित किये जाने पर विशेष जोर देते हुए निर्देशित किया कि नगर निगम के कर्मचारी यदि कूड़ा जलाते पाये जायेगे, तो उन पर एफआईआर दर्ज कराया जाय। उन्होने शहर में संचालित हो रहे आटो रिक्सा, दो पहिया वाहनो, जेएनएनयूआरएम सहित स्कूलो की बसो के अलावा डीजल चालित वाहनों का पीयूसी प्रत्येक बुधवार को अभियान चलाकर चेक कराये जाने का निर्देश दिया।

कमिश्नर नितिन रमेश गोकर्ण मंगलवार को केन्द्रीय प्रदुषण नियत्रण बोर्ड कार्यालय का निरीक्षण कर वहॉ लगे वायु प्रदुषण नियंत्रण मापक मशीनों का अवलोकन किया तथा शहर के वायु प्रदुषण की स्थिति की जानकारी की। वाराणसी शहर का भी वायु प्रदुषण सन्तोषजनक नही रहा। पीएम 10-100 मानक के सापेंक्ष 200 तथा पीएम 2.5 -60 मानक के सापेंक्ष 100 के आस पास रहा। वायु प्रदुषण का मुख्य कारण सड़को पर उड़ते धूल को बताये जाने पर कमिश्नर ने निर्देशित किया कि सड़क के क्षतिग्रस्त पटरियों पर सुबह के समय पानी का झिड़काव कराया जाय। ताकि धूल बैठ जाय और उड़ने न पाये। उन्होने वायु प्रदुषण को नियंत्रित किये जाने हेतु खेतों के अवशेषों को खेतो में न जलाये जाने की भी किसानों से अपील करते हुए कहा कि अन्यथा जुर्माना लगाया जायेगा। शहर का वायु प्रदुषण डब्लूडब्लूडब्लूडाटसीपीसीबीडाटएनआईसीडाटइन पर भी देखा जा सकता है।

Reactions:

टिप्पणी पोस्ट करें

MKRdezign

संपर्क फ़ॉर्म

नाम

ईमेल *

संदेश *

Blogger द्वारा संचालित.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget