कमिश्नर नितिन रमेश गोकर्ण मंगलवार को गोइठहां स्थित 118.85 करोड़ की लागत से 120 एमएलडी के निर्माणाधीन सीवरेंज ट्रीटमेंट प्लान्ट का औचक निरीक्षण किया।

कमिश्नर नितिन रमेश गोकर्ण मंगलवार को गोइठहां स्थित 118.85 करोड़ की लागत से 120 एमएलडी के निर्माणाधीन सीवरेंज ट्रीटमेंट प्लान्ट का औचक निरीक्षण किया।


वाराणसी ।।कमिश्नर नितिन रमेश गोकर्ण ने बताया कि नये साल में जनवरी के प्रथम सप्ताह में गोइठहा सीवरेज ट्रीटमेंट प्लान्ट से किसानों को सौगात स्वरूप कृषि कार्य हेतु पानी मिलने लगेगा। उन्होने जलनिगम के अभियंता को निर्देशित किया कि दिसम्बर तक प्रत्येक दशा में प्लान्ट को कमिश्निंग हेतु तैयार कराये तथा 12 एमएलडी सीवरेंज को पास के दो किमी0 दूर स्थित नहर में उसे डिस्चार्ज करे। जिससे किसानों को उनके कृषि कार्य हेतु पानी आसानी से मिल सके। 

कमिश्नर नितिन रमेश गोकर्ण मंगलवार को गोइठहां स्थित 118.85 करोड़ की लागत से 120 एमएलडी के निर्माणाधीन सीवरेंज ट्रीटमेंट प्लान्ट का औचक निरीक्षण किया। इस दौरान विभागीय अभियंता द्वारा दिसम्बर से 12 एमएलडी सीवरेंज ट्रीटमेंट कार्य शुरू करने में आ रही परेशानी की जानकारी देते हुए सीवर कनेक्टिविटी हेतु कार्य किये जाने हेतु अनुमति की आवश्यकता बताये जाने पर कमिश्नर ने मौके से ही एडीएमसिटी को फोन कर अनुमति दिये जाने का निर्देश दिया। ताकि दिसम्बर तक प्रत्येक दशा में कार्य पूरा कराकर एसटीपी को शुरू कराया जा सके। कमिश्नर ने एसटीपी के शेष कार्य को युद्वस्तर पर अभियान चलाकर पूरा कराये जाने पर विशेष जोर दिया। उन्होने दीनापुर स्थित निर्माणाधीन सीवरेंज ट्रीटमेंट को भी अभियान चलाकर पूरा कराये जाने का निर्देश दिया। बताया गया कि दीनापुर एसटीपी का दो स्ट्रीम भी दिसम्बर तक कमिशनिग हेतु तैयार हो जायेगा। 

निरीक्षण के दौरान संयुकत विकास आयुक्त के अलावा जलनिगम, गंगा प्रदुषण नियंत्रण इकाई के अभियंता प्रमुख रूप से उपस्थित रहे।
लेबल:
प्रतिक्रियाएँ:

एक टिप्पणी भेजें

MKRdezign

संपर्क फ़ॉर्म

नाम

ईमेल *

संदेश *

Blogger द्वारा संचालित.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget