नगर निकाय चुनाव अपने वादों को लेकर लखीमपुर पहुँचे CM योगी आदित्यनाथ


दीप शंकर मिश्र "दीप"
विशेष संवाददाता लखीमपुर।। यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ की सभा को लेकर जिला प्रशासन ने कड़े इंतजाम किये थे। सुबह से ही पुलिस लाइन से कार्यक्रम स्थल से लेकर पुलिस लाइन जहाँ सीएम का हेलिकॉप्टर उतरना था। पूरे एरिया को छावनी में तब्दील कर दिया गया। चप्पे-चप्पे पर पुलिस बल तैनात रहा। सीएम योगी आदित्यनाथ के साथ प्रदेश अध्यक्ष महेन्द नाथ पांडे भी मौजूद थे। यहाँ से सीएम का काफिला सुरक्षा के घेरे में कार्यक्रम स्थल तक पहुँचा। जैसे ही योगी आदित्य नाथ कार्यक्रम स्थल पर पहुंचे वैसे ही भाजपाइयों ने जय श्री राम के नारे लगाने शुरू कर दिए।
सपा और बसपा पर किया हमला
सीएम ने जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि भाजपा एक ऐसी पार्टी जिसने विधानसभा चुनाव के दौरान किये गए सारे वादे पूरे किये। सपा बसपा ने हमेशा जनता को छला। उन्होंने कहा कि हमारी सरकार में बिजली,पानी व मूलभूत चीजों की दिक्कत नहीं है। वहीं सपा और बसपा की सरकार में दोनों ही बिजली के दुश्मन थे। उन्होंने यह भी कहा किसी हमारी सरकार प्रयास कर रही है कि 2022 तक हर गरीब का अपना घर हो। उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सभी को मिले घर के सपने को पूरा करने की कोशिश शुरु कर दी है। यहीं नहीं प्रशासन अपराधियों के साथ शख्ती से पेश आए। सीएम ने अंत मे जनता से कहा कि जिस तरह पहले चरण में जनता का समर्थन मिला। उसी प्रकार आने वाली 29 तारिक को भी भाजपा के समर्थन में वोट कर नगरीय चुनाव में भी भाजपा की जीत दर्ज कराए।
अव्यवस्थाओं का भंडार रहा कार्यक्रम स्थल
मुख्यमंत्री की सभा स्थल से लेकर उनके विचारों को सुनने आने वालों को कार्यक्रम स्थल से काफी दूर पहले ही रोक दिया गया। उन्हें कार्यक्रम स्थल तक पहुँचने में भी काफी समस्याओं का सामना करना पड़ा। वही कार्यक्रम स्थल पर भी मीडिया को बैठने की भी उचित व्यवस्था नहीं थी।

विरोधियों को किया नजरबंद
मुख्यमंत्री की चुनावी जनसभा को लेकर पुलिस प्रशासन द्वारा विलोबी हाल में पिछले 15 दिनों से चल रहे धरना प्रदर्शसन स्थल से हटा कर महिला थाने पहुचाया गया। यहीं नहीं यूथ कांग्रेस जिलाध्यक्ष शशांक शर्मा को कोतवाली में बैठाया। इसी के साथ सपा के छात्र सभा के जिलाध्यक्ष आकाश लाला को उनके घर में नजर बंद किया।
सुरक्षा को लेकर चौकसी
मुख्यमंत्री की जनसभा को लेकर जिला प्रशासन पूरी तरह से चौकन्ना रहा। पुलिस से लेकर विलोबी हाल तक छावनी में तब्दील रहा। पुलिस द्वारा पुलिस लाइन से कार्यक्रम स्थल तक कि सभी दुकाने जबरदस्ती बन्द करवा दी गई। जिसको लेकर व्यापारियों में खासा आक्रोश देखने को मिला।
रैली की बड़ी बातें
प्रदेश भर के लोगों को एक समान बिजली मुहैया कराई
अगले माह पुलिस विभाग में 50,000 भर्तियां होंगी
2022 तक हर गरीब के सिर पर छत मुहैया कराएंगे
बरेली-लखीमपुर राजमार्ग का निर्माण दोबार शुरू होगा

शहीद के परिवार पर भड़के ईमानदार C M परिवार को किया निराश

जनसभा में मौजूद शहीद के परिवार को सीएम योगी ने भगाने के दिये आदेश।
पुलिस कर्मियों ने शहीद दरोगा मनोज मिश्रा की पत्नी पिता व भाई को धक्के मारकर सभा स्थल से किया बाहर।
शहीद का परिवार मामले में सीबीआई जांच की कर रहा था मांग।
2015 में पशु तस्करों की गोली का शिकार हुए थे बरेली में दरोगा मनोज मिश्रा।
शहीद का परिवार बोला सीएम ने भरी महफ़िल में किया हमारा अपमान।

Post a Comment

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget