कलेक्टर द्वारा एनटीपीसी विन्ध्यांचल का किया गया दौरा

ब्यूरो कार्यालय(बैढन)।।उत्तरप्रदेश के रायबरेली, एनटीपीसी ऊंचाहार में बायलर फटने से हुई दुर्घटना के मद्देनजर कलेक्टर अनुराग चौधरी, सिंगरौली एसडीएम विकास सिंह, माड़ा एसडीएम राजेश शुक्ला, निगमायुक्त शिवेन्द्र सिंह, खनिज उप संचालक ए.के.राय, कार्यपालन यंत्री विद्युत शहरी अजीत सिंह बघेल द्वारा रविवार को एनटीपीसी विन्ध्यांचल परियोजना का दौरा किया गया। जहां कलेक्टर अनुराग चौधरी द्वारा सुरक्षा संबंधी सहित विभिन्न पहलुओं पर जानकारी ली गयी। इस दौरान एनटीपीसी विन्ध्यांचल के परियोजना प्रमुख ए.के.तिवारी सहित उनकी टीम ने कलेक्टर को विधिवत जानकारी दी गयी। 
कलेक्टर अनुराग चौधरी ने परियोजना के विद्युत संयंत्र पहुंच बायलर, चिमनी अन्य संवेदनशील स्थानों का भ्रमण कर सुरक्षा के किये गये उपायों के बारे में जानकारी हासिल किये। तत्पश्चात कलेक्टर ने एनटीपीसी परिसर में ही अधिकारियों के साथ बैठकर परियोजना में कार्यरत वर्करों को क्या-क्या सुरक्षा उपकरण व सुविधाएं मुहैया करायी गयी हैं, कलेक्टर को परियोजना के अधिकारियों ने जानकारी देते हुए बताया कि वर्करों का प्रवेश द्वार पर ही मेडिकल परीक्षण किया जाता हैं तत्पश्चात सुरक्षा संबंधी हेलमेट, शूज, ग्लब्स सहित अन्य आवश्यक उपकरण उपलब्ध कराये जाने के बाद ही प्रवेश दिया जाता है। कलेक्टर के द्वारा यह भी सवाल पूछा गया कि नुकसान देह गैसों की रोकथाम के लिए क्या प्रशिक्षित अधिकारी हैं परियोजना प्रमुख के जवाब से कलेक्टर संतुष्ट हुए और कहा कि ऐसे अधिकारी का डिटेल एवं जानकारी कलेक्टर कार्यालय को उपलब्ध करायें। साथ ही कलेक्टर द्वारा यह भी निर्देशित किया गया है कि परियोजना के अंदर कार्य कर रहे मजदूरों का कर्मकार मण्डल योजना के तहत हर हाल में पंजीयन करायें। तत्पश्चात कलेक्टर ने पर्यावरण प्रदूषण पर चर्चा करते हुए फ्लाई ऐश कहां जा रहा है इसके बारे में विस्तार से जानकारी ली गयी और कहा कि इसका शीघ्र ही निरीक्षण करायें। कलेक्टर द्वारा एनटीपीसी परियोजना विन्ध्यांचल में 25 नवम्बर को जनसुनवाई किया जावेगा। कलेक्टर ने कार्यालय में एनटीपीसी विन्ध्यांचल से जुड़े विस्थापितों के लंबित फाइलों के निराकरण पर चर्चा की जावेगी जहां उभयपक्षों को मौजूद रहने के लिए निर्देशित किया गया है। इस दौरान कलेक्टर के साथ में एनटीपीसी परियोजना के जीएम पदम कुमार राजेश्वर,जी प्रजापति, दिलीप कुमार सहित अन्य अधिकारी उपस्थित रहे। 

बाक्स- परियोजना की अतिक्रमण से मुक्त होगी जमीन

कलेक्टर के साथ परियोजना में हुई बैठक के दौरान निगमायुक्त शिवेन्द्र सिंह द्वारा अवगत कराया गया कि परियोजना के कई स्थानों पर अतिक्रमण कर लोगों द्वारा मकान बना लिया गया है, यदि सिम्पलेक्स कालोनी, ग्रीन हार्ट वासियों को मूलभूत सुविधाएं उपलब्ध कराये जाने का लक्ष्य है, यदि परियोजना अपना जमीन ननि को उपलब्ध करा दे तो रहवासियों को प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत आवास उपलब्ध करा देंगे। आयुक्त के इस सुझाव को विन्ध्यांचल के परियोजना प्रमुख ने मानते हुए अगली बैठक में हरी झण्डी देने की सहमति जताई है।

Labels:
Reactions:

टिप्पणी पोस्ट करें

MKRdezign

संपर्क फ़ॉर्म

नाम

ईमेल *

संदेश *

Blogger द्वारा संचालित.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget