बंद कन्टेनर में ही कोयले का करे परिवहन - कलेक्टर

सिंगरौली ब्यूरो ।। खुले में किए जा रहे कोल परिवहन के संबंध में एवं एनजीटी के तहत निर्धारित नियमों के पालन के संबंध में कलेक्ट्रेट सभागार में कलेक्टर  अनुरा चौधरी के अध्यक्षता में एवं पुलिस अधीक्षक विनीत जैन के उपस्थिति में एनसीएल के सभी परियोजनाओं के एवं एनटीपीसी तथा औद्योगिक कम्पनियों प्रतिनिधियों के साथ बैठक आयोजित हुयी। कलेक्टर के द्वारा नई दिल्ली में प्रचलित प्रकरण क्रमांक 276/2013 एवं एनजीटी द्वारा बनायी गयी कोर कमेटी द्वारा निर्धारित किए गए नियमों के पालन के संबंध में परियोजनाओं से जानकारी ली गयी। बैठक के दौरान कलेक्टर के द्वारा कहां गया कि पूर्व जिला दण्डा अधिकारी शशांक मिश्रा, के द्वारा दिए गए आदेश के अनुसार कोयले का परिवहन सड़क मार्ग बंद कन्टेनर में अनुविभागीय अधिकारी के सक्षम स्वीकृती पश्चात ही परिवहन किया जाएंगा। किन्तु यह देखने में पाया गया कि कोयले का परिवहन बंद कन्टेनर नही किया जा रहा है, जो अत्यन्त ही खेद जनक है तथा दिए गए आदेश का उल्लघन कम्पनियो द्वारा किया जा रहा है, जिसके संबंध में कलेक्टर अनुराग चौधरी द्वारा एनसीएल के सभी कोल परियोजनाओं तथा विद्युत पावर प्लान्टों के प्रतिनिधियों को निर्देश दिए कि इस आशय का शपथ पत्र देवे कि मेरे कम्पनी द्वारा इतने दिवस में कन्टेनर के माध्यम से ही कोयले का परिवहन किय जावेगा। यदि जिन कोल माइन्सों एवं विद्युत परियोनाओं के द्वारा शपथ पत्र नही दिया जाता है तो उनका कोयले का परिवहन बंद करने की कार्यवाही की जाएंगी। सभी परियोजनाएं दो दिवस के अंदर अपना शपथ पत्र प्रस्तुत करे।

आरओ प्लान्ट समय पर नही लगाए जाने पर कलेक्टर नराजगी व्यक्त की गयी

पूर्व में दिए गए निर्देश के तहत 28 पेय जल हेतु आरओ प्लान्ट की स्थापना एनसीएल एवं एनटीपीसी के द्वारा कराया जाना था, एनटीपीसी के प्रतिनिधि के द्वारा किए गए प्लान्ट के संबंध में कलेक्टर अनुराग चौधरी को अवगत कराया गया वही एनसीएल के आए हुये कुछ प्रतिनिधियों के द्वारा उक्त संबंध में कलेक्टर को जानकारी से अवगत नही करा सके जिस पर कलेक्टर के द्वारा क्षेत्रिय पर्यवरण अधिकारी श्री पी.आर देव को निर्देश दिए कि आज ही एनसीएल सीएमडी को इस आशय का पत्र भेजे कि विना जानकारी के बैठक में आप के परियोजनाओं से प्रतिनिधि आते है, जो खेद जनक है। इसके अलावा ऐसे फ्लाई के उपयोग किए जाने के संबंध में भी परियोजनाओ से चर्चाए की गई। 

बैठक के दौरान जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री प्रियंक मिश्रा, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक सूर्यकांत शर्मा एसडीएम विकास सिंह, राजेश शुक्ला, एस.पी मिश्रा,डिप्टी कलेक्टर संजय जैन निगमायुक्त शिवेन्द्र सिंह, सहित परियोजनाओं के अधिकारी उपस्थित रहे।

Reactions:

Post a Comment

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget