संत रविदास के विचार आज भी प्रासंगिक है- अन्नू सिंह


धानापुर-चन्दौली।। क्षेत्र के जगदीशपुर सहित विभिन्न गाँवों में रविदास जयंती धूमधाम से मनयी गयी। इस दौरान लोगों ने संत रविदास के व्यक्तित्व पर प्रकाश डाला। "मन चंगा तो कठौती में गंगा" इस बात को कहने वाले संत रविदास का जन्म 31 जनवरी को माघी पूर्णिमा के दिन वाराणसी के सीर गोवर्धन में हुआ था। सीरगोवर्धन में उनके जनस्थल पर भव्य मंदिर है। जहां हर साल दुनिया भर में फैले उनके भक्तों का मेला लगता है। संत रविदास की जन्म स्थली का कोना-कोना श्रृद्धा और भक्ति के रस में ऐसा पगा रहता है कि हर कोई उस भाव में गोता लगता नजर आ रहा है। 
जगदीशपुर में आयोजित रविदास जयंती के कार्यक्रम का फीता काट कर विधायक सैयदराजा के प्रतिनिधि अन्नू सिंह ने शुभारम्भ किया। उन्होंने कहा कि संत रविदास के विचार आज भी प्रासंगिक हैं। उनके विचारों ने समाज को दिशा देने का काम किया है। सामाजिक समरसता एवं बंधुत की भावना को उन्होंने सदैव ही प्रबल बनाने का काम किया है। हमें उनके बताए हुए रास्ते पर चलने की आवश्यकता है। इस दौरान भारी संख्या में लोग मौजूद रहे।
Reactions:

Post a Comment

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget