प्रमुख सचिव चिकित्सा शिक्षा एवं जिले के नोडल अधिकारी डॉक्टर रजनीश दुबे सोमवार को विकास भवन सभागार में अधिकारियों के साथ बैठक ।


वाराणसी।। उत्तर प्रदेश के प्रमुख सचिव चिकित्सा शिक्षा एवं वाराणसी जिले के नोडल अधिकारी डॉक्टर रजनीश दुबे ने जिले में चल रहे निर्माण कार्यों में गुणवत्ता सुनिश्चित कराए जाने हेतु मुख्य विकास अधिकारी को अधिकारियों की टीम बनाकर स्थलीय जांच कराए जाने का निर्देश दिया। उन्होंने बड़े भू-माफियाओं को चिन्हित कर उनके विरुद्ध कड़ी कार्यवाही करते हुए उनके चंगुल से अतिक्रमण किए भूमि को छुड़ाए जाने का भी अधिकारियों को निर्देश दिया। उन्होंने जिलाधिकारी को निर्देशित किया कि वह PWD, नगर निगम एवं सिंचाई विभाग सहित अन्य विभागीय अधिकारियों के साथ बैठक कर संबंधित विभागीय अधिकारियों से इस आशय का प्रमाण पत्र प्राप्त करें, कि उनकी जमीनों से सभी अतिक्रमण चिन्हित कर लिए गए हैं।
प्रमुख सचिव चिकित्सा शिक्षा एवं जिले के नोडल अधिकारी डॉक्टर रजनीश दुबे सोमवार को विकास भवन सभागार में अधिकारियों के साथ बैठक कर रहे थे। नगरीय क्षेत्र में प्रधानमंत्री आवास योजना की प्रगति संतोषजनक न होने पर गहरी नाराजगी व्यक्त करते हुए उन्होंने कड़े निर्देश दिए कि 1100 आवंटियों के आवासों का भूमि पूजन एवं निर्माण कार्य का शुभारंभ 9 फरवरी से सुनिश्चित कराया जाए। कबीरचौरा स्थित महिला चिकित्सालय में निर्माणाधीन महिला मैटरनिटी विंग का कार्य अब तक पूर्ण होने पर उन्होंने गहरी नाराजगी व्यक्त करते हुए लोक निर्माण विभाग निर्माण भवन के अधिशासी अभियंता की जमकर क्लास लगाई तथा युद्ध स्तर पर अभियान चलाकर शीघ्र कार्य पूर्ण कराए जाने का निर्देश देते हुए कहा कि अब इस निर्माण कार्य में कोताही बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। उन्होंने हैंडपंपों की रिपोर्ट का मोबाइल एप्प बनाए जाने का निर्देश देते हुए कहा कि इससे पता चल सकेगा कि कितने हैंडपंपों का रिबोर कराया जा चुका है तथा कितने के कार्य प्रगति पर है। राजस्व वसूली की समीक्षा के दौरान वाणिज्य कर, मनोरंजन, आबकारी एवं स्टांप रजिस्ट्रेशन की वसूली संतोषजनक न होने पर नाराजगी व्यक्त करते हुए, उन्होंने लक्ष्य के सापेक्ष शत-प्रतिशत वसूली सुनिश्चित कराए जाने पर विशेष जोर दिया। स्टांप एवं रजिस्ट्रेशन के सहायक निबंधक अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि शहर के आसपास के गांव के जमीनों की होने वाली रजिस्ट्री में स्टांप चोरी की संभावना अधिक रहती है। उन्होंने सहायक निबंधन अधिकारियों को अपने-अपने क्षेत्रों में जाकर इसकी जांच करने तथा रिकवरी किए जाने का निर्देश दिया। 
डॉक्टर रजनीश दुबे ने संपूर्ण समाधान दिवस पर प्राप्त होने वाले शिकायती प्रार्थना पत्रों के निस्तारण की समीक्षा के दौरान गुणवत्ता पर विशेष जोर देते हुए कहा कि निस्तारित शिकायती प्रार्थना पत्रों के गुणवत्ता की जांच जिलाधिकारी एवं अपर जिलाधिकारी प्रशासन सुनिश्चित कराएं। उन्होंने पाइप पेयजल योजना की समीक्षा के दौरान जयापुर एवं कल्लीपुर की परियोजना का स्थलीय जांच किए जाने का मुख्य विकास अधिकारी को निर्देश देते हुए इस परियोजना को फरवरी तक हर हालत में शुरू कराए जाने का निर्देश दिया। नोडल अधिकारी सामुदायिक एवं प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों सहित राजकीय चिकित्सालय में डॉक्टरों की उपस्थिति शत-प्रतिशत सुनिश्चित कराए जाने पर विशेष जोर देते हुए लंबे समय से अनुपस्थित चल रहे डॉक्टरों सहित मंडल के जिलों में तैनात डॉक्टरों द्वारा चलाए जा रहे नर्सिंग होम अथवा नर्सिंग होम में कार्य किए जाने की जाँच करा कर कठोर कार्यवाही किए जाने का भी निर्देश दिया। उन्होंने मंडलीय चिकित्सालय में आईसीयू के लिए एस्टीमेट तैयार कर उपलब्ध कराए जाने का निर्देश देते हुए रेडियोलॉजिस्ट की व्यवस्था सुनिश्चित कराए जाने हेतु मुख्य चिकित्सा अधिकारी को निर्देशित किया। उन्होंने लोक निर्माण विभाग के अधिशासी अभियंता को निर्देशित किया कि सड़क के किनारे विशेषकर सारनाथ, पांडेपुर एवं एनएच के मार्गों पर सड़क के किनारे किए अतिक्रमण को तत्काल चिन्हित कर हटवाए जाने का निर्देश दिया।
बैठक में जिलाधिकारी योगेश्वर राम मिश्र मुख्य विकास अधिकारी सुनील कुमार वर्मा सहित जनपद स्तरीय सभी विभागीय अधिकारी प्रमुख रूप से उपस्थित रहें।
Reactions:

Post a Comment

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget