कमिश्नर नितिन रमेश गोकर्ण ने राजस्व वसूली के धीमी प्रगति पर नाराजगी जताए ।

कमिश्नर नितिन रमेश गोकर्ण ने राजस्व वसूली के धीमी प्रगति पर नाराजगी जताते


वाराणसी।। कमिश्नर नितिन रमेश गोकर्ण ने राजस्व वसूली के धीमी प्रगति पर नाराजगी जताते हुए लक्ष्य के सापेंक्ष शत-प्रतिशत वसूली सुनिश्चित कराये जाने हेतु अभियान चलाये जाने हेतु जिलाधिकारियों को निर्देशित किया। जौनपुर में स्टाम्प शुल्क के 1 करोड़ 57 लाख रूपये की 465 आरसी के सापेंक्ष वसूली सन्तोषजनक न होने पर बड़े बकायेदारो को चिन्हिंत कर वसूली सुनिश्चित कराये जाने का निर्देश दिया। आडिट आपत्तियों का निस्तारण प्रगति काफी खराब होने पर उन्होने नाराजगी व्यक्त करते हुए खराब प्रगति वाले जिम्मेदार अधिकारियों से जबाब-तलब करते हुए उन्हे प्रतिकूल प्रविष्टि दिये जाने का निर्देश दिया। उन्होने जिलाधिकारियो को निर्देशित करते हुए कहॉ कि आपत्तियो में विशेषकर आपदा एवं भूमि अधिग्रहण के मामलों को गम्भीरता से लिया तथा आवश्यकतानुसार एफआईआर एवं वसूली की कार्यवाही सुनिश्चित कराया जाय। 

कमिश्नर नितिन रमेश गोकर्ण गुरूवार को अपने अनुश्रवण कक्ष में राजस्व कार्यो एवं कानून व्यवस्था की मण्डलीय समीक्षा बैठक कर रहे थे। उन्होने जिलाधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहॉ कि वित्तीय वर्ष में मात्र ढाई महिने की अवधि शेष है। इसलिये राजस्व के बकाये की वसूली लक्ष्य के सापेंक्ष सुनिश्चित किये जाने हेतु युद्वस्तर पर अभियान चलाया जाय तथा चिन्हिंत बड़े बकायेदारो से हर हालत में वसूली सुनिश्चित कराया जाय। गाजीपुर एवं चन्दौली में वाहन कर की वसूली गत् वर्ष के सापेंक्ष ऋणात्मक होने पर उन्होने पुराने आरसी निकलवाये जाने पर जोर दिया। बैको के बकाये की वसूली वाराणसी एवं चन्दौली में सन्तोषजनक न होने पर बैकों के साथ समन्वय कर टीम में बैक कर्मियों को भी शामिल कर वसूली में तेजी लाने का निर्देश दिया। अमीनों की वसूली प्रतिमाह निर्धारित मानक के सापेंक्ष न होने पर खराब वसूली वाले नगरीय क्षेत्र के अमीनों को अन्यत्र स्थानान्तरित किये जाने का निर्देश दिया। राजस्व वादो के निस्तारण की समीक्षा के दौरान भी पॉच वर्ष से लम्बित वादों के निस्तारण की प्रगति सन्तोषजनक न होने पर उन्होने मानक के अनुरूप राजस्व वादो के निस्तारण पर जोर दिया। उन्होने विकास खण्ड, तहसील एवं थानो का निरीक्षण 15 फरवरी तक जिलो में कराये जाने हेतु जिलाधिकारियो को निर्देशित किया। उन्होने सम्पूर्ण समाधान दिवस पर प्राप्त होने वाले शिकायती प्रार्थना पत्रों के निस्तारण की समीक्षा के दौरान गाजीपुर में एक माह से अधिक अवधि के 41 तथा जौनपुर में 40 लम्बित होने पर नाराजगी जतायी तथा शीघ्र शत-प्रतिशत निस्तारण पर जोर दिया। जौनपुर सहित मंडल के अन्य जनपदो में राजस्व भवनों के निर्माण कार्य को राजकीय निर्माण निगम द्वारा आधा-अधूरा छोड़े जाने की जानकारी पर निर्देशित किया राजकीय निर्माण निगम एवं लोनिवि के अभियंता की संयुक्त टीम बनाकर अधूरे कार्यो का आंकलन एवं उस पर व्यय होने वाले धनराशि का आगणन तैयार करा लिया जाय। ताकि शासन स्तर से वाता्र कर इन अधूरे कार्यो का शीघ्र पूरा कराया जा सके। 

बैठक में आईजी दीपक रतन, जिलाधिकारी वाराणसी योगेश्वर राम मिश्र, जिलाधिकारी जौनपुर अरविन्द मलप्पा बंगारी, जिलाधिकारी गाजीपुर के0बालाजी, जिलाधिकारी चन्दौली हेमन्त कुमार, जिलो के एसएसपी, एसपी सहित जिलो के अपर जिलाधिकारी प्रमुख रूप से उपस्थित रहे।
Reactions:

टिप्पणी पोस्ट करें

MKRdezign

संपर्क फ़ॉर्म

नाम

ईमेल *

संदेश *

Blogger द्वारा संचालित.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget