जिलाधिकारी योगेश्वर राम मिश्र ने रायफल क्लब सभागार में राजस्व कार्यो के प्रगति की समीक्षा बैठक

जिलाधिकारी योगेश्वर राम मिश्र ने रायफल क्लब सभागार में राजस्व कार्यो के प्रगति की समीक्षा बैठक


वाराणसी।। जिलाधिकारी योगेश्वर राम मिश्र ने रायफल क्लब सभागार में राजस्व कार्यो के प्रगति की समीक्षा बैठक के दौरान स्टाम्प, बैक देय एवं विद्युत बकाये की वसूली सन्तोषजनक न होने पर नाराजगी जताते हुए लक्ष्य के सापेंक्ष शत-प्रतिशत वसूली सुनिश्चित किये जाने का निर्देश दिया। उन्होने विशेष रूप से जोर देते हुए कहॉ कि चालू वित्तीय वर्ष को समाप्ति में मात्र एक माह ही शेष है। इसलिये विभागीय निर्धारित लक्ष्य के सापेंक्ष शत-प्रतिशत वसूली अभियान चलाकर पूरा कराया जाय। उन्होने तालाबो का पट्टा आवंटन शत-प्रतिशत कराये जाने का निर्देश दिया। उन्होने एंटी भू-माफिया से संबंधित लम्बित शिकायतों का निस्तारण प्राथमिकता पर किये जाने का निर्देश दिया। विभिन्न आयोगो के 35 सन्दर्भो सहित अन्य लम्बित सन्दर्भो का निस्तारण प्राथमिकता पर कराये जाने का निर्देश दिया। जिलाधिकारी ने सम्पूर्ण समाधान दिवस पर प्राप्त शिकायती प्राथ्रना पत्रों के लम्बित प्रकरणों के शीघ्र निस्तारण पर जोर दिया। इस दौरान जिलाधिकारी ने आगामी होली आदि त्योहार के संवेदनशीलता के दृष्टिगत् मजिस्ट्रेटो को थाना स्तर पर शांति समिति की बैठक किये जाने का निर्देश दिया। 
बैठक में सभी अपर जिलाधिकारी, नगर मजिस्ट्रेट, सभी अपर नगर मजिस्ट्रेट सहित अन्य विभागीय अधिकारी प्रमुख रूप से उपस्थित रहे।

जिलाधिकारी योगेश्वर राम मिश्र के निर्देश पर ग्राम पंचायत के सचिव संजय कुमार गुप्ता को निलम्बित किया 

शासन की शीर्ष प्राथमिकता वाले स्वच्छ भारत मिशन (ग्रामीण) के अन्तर्गत ग्राम पंचायत कैथी विकास खण्ड चोलापुर में शौचालय निर्माण कार्य में अनियमितता पाये जाने पर जिलाधिकारी योगेश्वर राम मिश्र के निर्देश पर ग्राम पंचायत के सचिव संजय कुमार गुप्ता को निलम्बित करते हुए ग्राम प्रधान पूजा यादव को पंचायत राज अधिनियम 1947 के नियम 178 के तहत कारण बताओं नोटिस जारी किया गया है। गौरतलब है कि शासन की शीर्ष प्राथमिकता वाले स्वच्छ भारत मिशन (ग्रामीण) के अन्तर्गत ग्राम पंचायत कैथी विकास खण्ड चोलापुर में शौचालय निर्माण कार्य में अनियमितता की शिकायत पर घर-घर निर्मित शौचालयों का सत्यापन कराया गया। जिसमें ग्राम पंचायत में 600 शौचालय निर्माण हेतु धनराशि अवमुक्त किये जाने के सापेंक्ष मौके पर 430 शौचालय ही निर्मित पाये गये। 45 शौचालयो में एक गड्ढा का निर्माण कराया गया है। जिसमें चैम्बर का निर्माण ही नही कराया गया है। ग्राम पंचायत में निर्मित शौचालय अधूरे पाये गये। प्राथमिक विधालय का शौचालय निर्माण का कार्य भी मानक के अनुरूप नही किया गया है।
Reactions:

Post a Comment

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget