जिला प्रशासन एवं एनसीएल मिलकर लिखेंगे जिलें के विकास की नई इबारत

सिंगरौली ब्यूरो कार्यालय।।भारत सरकार की मिनी रत्न कंपनी नॉर्दर्न कोलफील्ड्स लिमिटेड (एनसीएल) एवं सिंगरौली जिला प्रशासन मिलकर जिले के समोवेशी विकास को नया आयाम देंगे। गुरुवार को एनसीएल मुख्यालय में एनसीएल एवं सिंगरौली जिला प्रशासन के आला अधिकारियों की समन्वय बैठक में इस बारे तफसील से चर्चा हुई। बैठक में सिंगरौली के विधायक श्री रामलल्लू वैश्य एवं महापौर श्रीमती प्रेमवती खैरवार कलेक्टर श्री अनुराग चौधरी एनसीएल के अध्यक्ष-सह-प्रबंध निदेशक (सीएमडी) श्री प्रभात कुमार सिन्हा पुलिस अधीक्षक श्री विनीत जैन, एनसीएल की निदेशक (कार्मिक) सुश्री शांतिलता साहू, निदेशक (तकनीकी/संचालन) श्री गुणाधर पांडेय, निदेशक (वित्त) श्री पी.एस.आर.के. शास्त्री, नगर निगम के कमिश्नर श्री शिवेन्द्र सिंह, सिंगरौली के उपखंड अधिकारी श्री विकास सिंह, जिला खनन अधिकारी (डीएमओ) श्री ए.के. राय, प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के क्षेत्रीय अधिकारी श्री पी.आर. देव, एनसीएल के कोयला क्षेत्रों के महाप्रबंधकगण, एनसीएल मुख्यालय के महाप्रबंधकगण सहित एनसीएल एवं जिला प्रसाशन के वरिष्ठ अधिकारी मौजूद थे। बैठक को संबोधित करते हुए एनसीएल के सीएमडी श्री प्रभात कुमार सिन्हा ने कहा कि एनसीएल को राष्ट्र के लिए कोयला उत्पादन की अहम जिम्मेदारी दी गई है। कंपनी को चालू वित्त वर्ष में 93 मिलियन टन कोयला उत्पादन करना है और आगामी दो वर्षों में यानी वित्त वर्ष 2019-20 तक 110 मिलियन टन कोयला उत्पादन करना है। जिला प्रशासन के सहयोग से राष्ट्र के ऊर्जा स्तंभ के रूप में इस महती जिम्मेदारी को निभाने के साथ-साथ कंपनी सिंगरौली के विकास के प्रति भी सजग एवं सतर्क है और इस कड़ी में सिंगरौली के समावेशी विकास हेतु जिला प्रशासन के साथ मिलकर भावी रणनीतियों एवं योजनाओं को अमली जामा पहनाए जाने हेतु कटिबद्ध है। उन्होंने एनसीएल प्रबंधन की ओर से जिला प्रशासन को आश्वस्त किया सिंगरौली के विकास में एनसीएल से अपेक्षित हर योगदान के लिए कंपनी हमेशा तैयार रहेगी।
कलेक्टर श्री अनुराग चौधरी ने अपने उद्बोधन में कहा कि श्री प्रभात कुमार सिन्हा जैसे प्रखर व्यक्तित्व का एनसीएल के सीएमडी के रूप में कमान संभालने के बाद सिंगरौली के विकास में एनसीएल के सहयोग एवं कंपनी से जिला प्रशासन की अपेक्षाओं को नई उड़ान मिली है। उन्होंने राष्ट्रीय हरित प्राधिकरण (एनजीटी) के आदेश, सड़क सुरक्षा व निर्माण, पर्यावरण संरक्षण एवं संवर्धन, सिंगरौली वासियों को स्वच्छ पेय जल उपलब्ध कराए जाने, कुछ चुनिंदा चौराहों व मुडवाणी डैम का आधुनिकीकरण कराए जाने, सीएसआर के तहत सतत विकास की योजनाओं को लागू कराए जाने तथा नई तकनीकों के इस्तेमाल सहित सिंगरौली के विकास को नया आयाम दिए जाने जैसे पहलुओं के संदर्भ में एनसीएल की भूमिका को रेखांकित किया। साथ ही, उन्होंने एनसीएल के कोयला उत्पादन एवं उत्पादकता से जुड़े विभिन्न कार्यों हेतु कंपनी प्रबंधन को जिला प्रशासन से आवश्यक सहयोग के प्रति भी आश्वस्त किया। 
बैठक के दौरान एनसीएल एवं जिला प्रशासन के के आला अधिकारियों ने अपने-अपने कार्यक्षेत्र से संबंधित विषयों पर व्यापक बातचीत करते हुए एक-दूसरे से सहयोग की अपेक्षाएं व्यक्त कीं और उन मुद्दों पर विशेष ध्यान दिए जाने की जरूरत बताई जिनका व्यापक लाभ सिंगरौली की जनता को हो।
Labels:
Reactions:

Post a Comment

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget