गरीब बच्चों संग पुलिस क्षेत्राधिकारी ने खेली होली

गरीब बच्चों संग पुलिस क्षेत्राधिकारी ने खेली होली


सकलडीहा-चन्दौली।। अमूमन पुलिस के रौबदार चेहरे से सब वाकिफ हैं। हूटर और सायरन की गूंज के साथ कड़कती आवाज़ पुलिस की पहचान मानी जाती है। इसी बीच से कुछ लोग ऐसे होते हैं जिन्होंने कम्युनिटी पुलिसिंग के जरिये लोगों के दिलों में खास जगह बना लेते हैं और पुलिस को आमजन के प्रहरी और मित्र की शक्ल में पेश करते हैं। 
यहाँ जिक्र कुछ इसी तरह के मित्र पुलिस की हो रही है। पुलिस क्षेत्राधिकारी सकलडीहा त्रिपुरारी पाण्डेय सदैव ही कम्यूनिटी पुलिसिंग के हिमायती रहे हैं। इन्होंने आम लोगों को गले से लगाया है और पुलिस का रौब उनके दिलों से निकालने की कामयाब कोशिश करते रहे हैं। आज जब पूरा देश होली के रंगों से लबरेज है। देश की फ़िजा में चारों तरफ रंग और गुलाल बिखरे पड़े हैं। 
ऐसे में कुछ गरीबों की बस्तियों में इस मौके पर भी फ़ाकाकसी और गुरबत की स्याही फैली है। बस इसी को ख्याल में रख कर त्रिपुरारी पाण्डेय मय फोर्स, पीएसी और एच0 एस0 ओ0 बलुआ को लेकर बलुआ को लेकर थाना क्षेत्र के गरीब और मलिन बस्तियों के रुख अख्तियार किया। गरीब बच्चों संग होली खेली और उन्हें होली की खुशी में शरीक किया, बच्चों में गुझिया और मिठाई बांटी। अपनों के बीच पुलिस के इस रूप को पा कर बच्चे खुश हुए। उनके दिल और दिमाग़ से पुलिस का डर निकल गया। इस बाबत त्रिपुरारी पाण्डेय कहते हैं कि हम लोग अपने परिवार में होली खेलते हैं। अपनों में खुशियां बांटते हैं क्यों ने इन गरीब बच्चों संग ही होली खेल लें। इस क्षेत्र में अक्सर मेरा आना-जाना लगा रहता है और ये बच्चे पुलिस की गाड़ी देख कर भाग जाते थे। मैंने इनके बीच से पुलिस का डर निकालने के लिए इनसे मिला और इन्हें अपनेपन का एहसास दिलाया क्योंकि पुलिस आम लोगों के हिफाजत के लिए है। लोग पुलिस से डरे नहीं उसका सहयोग करें।
Reactions:

टिप्पणी पोस्ट करें

MKRdezign

संपर्क फ़ॉर्म

नाम

ईमेल *

संदेश *

Blogger द्वारा संचालित.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget