बिहार के वित्त संपोषित डिग्री कॉलेजों के शिक्षकों को सम्मानजनक वेतन देने की मांग को ले महासंघ ने दिया धरना

बिहार के वित्त संपोषित डिग्री कॉलेजों के शिक्षकों को सम्मानजनक वेतन देने की मांग को ले महासंघ ने दिया धरना


आरा(बिहार)।। वीर कुंवर सिंह विश्वविद्यालय आरा के प्रशासनिक भवन के सामने राज्य के वित्त संपोषित,अनुदानित और संबद्घ डिग्री कॉलेजो की समस्याओं के समाधान को लेकर कई शिक्षक और कर्मचारियों ने धरना दिया और कुलपति से समस्याओं के समाधान के लिए आगे आने की अपील की।बिहार राज्य संबद्ध डिग्री महाविद्यालय शिक्षक,शिक्षकेतर कर्मचारी महासंघ के बैनरतले सैकड़ो शिक्षकों और कर्मचारियों ने अपनी वाजिब मांगों को लेकर आवाज उठाई है।बिहार राज्य के सभी अनुदानित डिग्री कॉलेजो को अंगीभूत करने या प्रस्तावित घाटानुदान लागु करने,निर्धारित मापदंडों को पूरा करने वाले विश्वविद्यालय के सभी कॉलेजो को स्थायी संबंधन प्रदान करने,राज्य सरकार द्वारा प्राप्त अनुदान की राशि को आर टी जी एस के माध्यम से अविलम्ब कॉलेजो को भेजे जाने,अनुदानित डिग्री कॉलेजो द्वारा अनुदान की वितरित की गई राशि के उपयोगिता प्रमाणपत्र को अविलम्ब राज्यसरकार को भेजने और अनुदानित कॉलेजो के शिक्षकों और कर्मचारियों का इ पी एफ अकाउंट खोलने और उन्हें सेवा पुस्तिका उपलब्ध कराने की मांग ज्ञापन में शामील है।यही नहीं 2007 के पश्चात नियुक्त शिक्षकों की भी सेवा स्थायी करने की मांग की गई है।महासंघ के अध्यक्ष रामस्वरूप सिंह(रोहतास जिला इकाई) और महासचिव रामेश्वर प्रसाद सिंह(कैमूर जिला इकाई) के संयुक्त हस्ताक्षर से जारी ज्ञापन को वी सी को सौंपा गया है।नेताओ ने कहा है कि राज्य के अनुदानित डिग्री कॉलेजो में कार्यरत शिक्षकों और कर्मचारियों की स्थिति में सुधार लाकर ही उच्च शिक्षा की गुणवत्ता को सुधारा जा सकता है।बिहार में वित्त संपोषित,अनुदानित कॉलेजो की हालत सरकार से छुपी हुई नहीं है।ऐसे में राज्यसरकार को इन कॉलेजो की स्थिति को सम्मानजनक स्थिति में लाने के लिए आगे आना होगा।वित्त संपोषित और ऐसे अनुदानित कॉलेज ही डिग्री के छात्रों के बड़े बोझ को आसानी से उच्च शिक्षा प्रदान में बड़ी भूमिका निभा रहा है।
लेबल:
प्रतिक्रियाएँ:

एक टिप्पणी भेजें

MKRdezign

संपर्क फ़ॉर्म

नाम

ईमेल *

संदेश *

Blogger द्वारा संचालित.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget