मध्यप्रदेश के सिंगरौली जिले मे पाई गई अफीम कि अवैध खेती।

मध्यप्रदेश के सिंगरौली जिले मे पाई गई अफीम कि अवैध खेती।


  • सिंगरौली पुलिस अधीक्षक विनीत जैन के नेतृत्व में बड़ी कार्यवाही।
  • सिंगरौली जिले के बरगवां थाना क्षेत्र के मनिहारी गाँव में मिला अफीम की खेती।
  • नव स्थानों पर पचास डिसमिल क्षेत्र में मिली अफीम की खेती।
उर्जांचल टाईगर सिंगरौली ब्यूरो कार्यालय जयंत(विनोद सिंह/सुंदरम सिंह)
सिंगरौली।। बरगवां जिला पुलिस अधीक्षक विनीत जैन ने ऐतिहासिक कार्यवाही करते हुए जिला मुख्यालय से 35 किलोमीटर दूर बरगवां थाना क्षेत्र के ग्राम मनिहारी में अवैध रूप से अफीम की फसल का जखीरा पकड़ा है। एस पी श्री जैन ने स्वयं मोर्चा संभाल पुलिस टीम के साथ मनिहारी गांव में छापामार कार्यवाही कर नव स्थानों पर अवैध अफीम की खेती की पुष्टि कर नव मुख्य आरोपियों के साथ एक दर्जन से अधिक लोगों के खिलाफ एन डीपीएस एक्ट की कार्यवाही किया है। अवैध अफीम उत्पादन की जानकारी के बाद 4 मार्च की रात्रि से ही मनिहारी गांव पुलिस छावनी में तब्दील हो गयी। पांच मार्च की सुबह दस बजे आधा सैकड़ा से अधिक पुलिस टीम को देख गांव में सनाटा हो गया।

सिंगरौली के मनिहारी गांव में मिली अवैध अफीम खेती में की गई कार्यवाही के बारे में एस पी श्री जैन ने बताया कि बरगवां थाना क्षेत्र के ग्राम मनिहारी में अवैध अफीम की खेती की सूचना के बाद पुष्टि उपरांत गांव में छापामार कार्यवाही की गई है। जहाँ आरोपी बद्री वैश्य पुत्र लंका प्रसाद वैश्य आधा डिसमिल, अंजनी वैश्य पुत्र हृदयलाल पांच डिसमिल, संतकुमार वैश्य पुत्र श्यामलाल, नव डिसमिल, रामलल्लू पुत्र बालमुकुंद वैश्य,चौदह डिसमिल, रामललन पुत्र मिठाई लाल, सात डिसमिल, रामायण पुत्र कन्हैया लाल एक डिसमिल, बसंत लाल पुत्र लखनधारी वैश्य ढाई डिसमिल, शरदा वैश्य पुत्र लखनधारी तीन डिसमिल, व तीरथ वैश्य पुत्र रामाधीन डेढ़ डिसमिल, जमीन में अफीम की खेती करते पकड़े गए है। एस पी श्री जैन ने आगे बताया कि मध्य प्रदेश में नीमच, मंदसौर, रतलाम व झाबुआ के अलावा किसी भी जिले व गांव में अफीम खेती का परमिशन शासन द्वारा नही दी गयी है। सिंगरौली के मनिहारी गांव में मिली अफीम की खेती का यह जखीरा रीवा संभाग के किसी भी जिले में सबसे बड़ी अफीम की खेती पकड़ में आई है। ज्ञात हो कि बरगवां थाने के आरक्षक नीलेश तोमर को सूचना मिली कि मनिहारी गांव में अफीम की खेती हो रही है, आरक्षक ने सूचना को बरगवां टी आई आर पी सिंह से साझा किया। जिसके बाद एस पी श्री जैन को अवगत कराया गया। श्री जैन ने आबकारी टीम व अपर कलेक्टर को स्थल निरीक्षण के लिए भेजा। जहाँ से पुष्टि के बाद 4 मार्च की रात ही अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक सूर्यकान्त शर्मा के मार्गदर्शन व बरगवां टी आई आर पी सिंह के नेतृत्व में आधा सैकड़ा पुलिस टीम गांव को चारों तरफ से घेर ली थी, जहाँ आज एस पी श्री जैन ने जिला प्रशासन ,आबकारी विभाग व राजस्व अमला के साथ मनिहारी गांव पहुंच कार्यवाही किया। कार्यवाही की भनक लगते ही कुछ आरोपी घर छोड़कर कर रफूचक्कर हो गए। 

अनजाने में की खेती, तस्करी में नही उनका हाथ,

अफीम की खेती के मामले में गिरफ्तार आरोपियों ने बताया कि उन्हें इसकी तस्करी का कोई ज्ञान नही है और नाही इसका वह कोई नशा आदि से संबंधित कारोबार करते हैं। ग्रामीणों ने भी इनकी बातों का समर्थन किया और बताया कि गांव के उक्त लोग सोंठ आदि बनाने के काम मे लाते हैं। इधर एस पी श्री जैन ने गांव वालों की तमाम दलीलों को खारिज कर संबंधित आरोपियों के वयस्क लड़को के खिलाफ भी कार्यवाही का आदेश दिया है।
Reactions:

Post a Comment

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget