निजीकरण के विरोध में बिजली कर्मचारियों ने आंदोलन किया तेज।

निजीकरण के विरोध में बिजली कर्मचारियों ने आंदोलन किया तेज।


  • सभी राष्ट्रीय ट्रेड यूनियनों, बैंक और सरकारी विभाग के कर्मचारी संगठनों ने दिया समर्थन।
  • 30 मार्च से जनप्रतिनिधियों को ज्ञापन दो अभियान।
वाराणसी।।विद्युत् कर्मचारी संयुक्त संघर्ष समिति, उ.प्र. के आह्वाहन पर निजीकरण के विरोध में चल रहा आंदोलन 11वें दिन भी जारी रहा। इसी क्रम मे आज दिनांक 29.03.2018 को नियमानुसार कार्य आंदोलन जारी रहा, जिससे सभी कार्यालय बंद रहे और प्रबंध निदेशक कार्यालय पर दोपहर 2 बजे से शाम 5 बजे तक विरोध सभा हुई और आंदोलन तेज करने का एलान किया गया संघर्ष समिति ने आज यह निर्णय लिया कि 30 मार्च से ज्ञापन दो अभियान चलाया जाएगा जिसके तहत सभी जनपदों में सांसदों व् विधायकों को निजीकरण के विरोध में ज्ञापन दिए जाएंगे और उनसे मांग की जाएगी कि वे प्रदेश की आम जनता के हित में मुख्यमंत्री को पत्र भेजकर निजीकरण का फैसला वापस लेने को कहें।

बिजली कर्मचारियों ने आरोप लगाया है कि बिजली कंपनी का निजीकरण पूंजीपतियों को लाभ पहु्ंचाने के लिए हो रहा है। संघर्ष समिति के पदाधिकारियों ने बताया कि 21 से 22 फरवरी को लखनऊ में हुई इंवेस्टर्स मिट में ही यह तय हो चुका था कि किस उद्योगपति को बिजली का काम देना है इससे साफ है कि यह सबकुछ उद्योगपतियों को लाभ पहुंचाने के लिए किया जा रहा है।

आज राष्ट्रीय ट्रेड यूनियनों भारतीय मज़दूर संघ, एटक, इन्टक,सीटू, ऑल इण्डिया बैंक इम्पलॉईस असोसिअशन, आल इण्डिया बैंक ऑफिसर्स कन्फेडरेशन, यूनाइटेड बैंक फोरम, राज्य कर्मचारी महासंघ, राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद् कर्मचारी शिक्षक संयुक्त मोर्चा, जवाहर भवन इंदिरा भवन कर्मचारी संघ, डिप्लोमा इंजीनियर्स फेडरेशन, अधीनस्थ सेवा संघ, आई टी आई कर्मचारी संघ, सिंचाई, लोकनिर्माण, नगर निगम और कई अन्य विभागों के यूनियन पदाधिकारियों ने बिजली कर्मचारियों के आंदोलन को पूरी तरह सक्रिय समर्थन देने का निर्णय लिया गया।
विरोध सभा की अध्यक्षता डॉ0 आर0बी0 सिंह ने एवं संचालन मनीष श्रीवास्तव ने किया।
सभा को सर्वश्री ई0 डी0के0 दोहरे, सुमन्त कुमार, सुनील कुमार, आर0के वाही, अंकुर पाण्डेय, मदन श्रीवास्तव, नीरज बिंद, अभिषेक श्रीवास्तव, ए0के0 श्रीवास्तव, ए0के0 सिंह, रमाशंकर पाल, ओ0पी0 भारद्वाज, राजेंद्र सिंह, इमरान, ई0 रामकुमार, ई0 मनोज गुप्ता, संतोष, विकाश कुशवाहा, नरेंद्र शुक्ला, शिवलखन राम गुप्ता, काशी यादव, वीरेंद्र, ओ0पी0 गौतम आदि वक्ताओं ने संबोधित किया।

टिप्पणी पोस्ट करें

MKRdezign

संपर्क फ़ॉर्म

नाम

ईमेल *

संदेश *

Blogger द्वारा संचालित.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget