अव्यवस्थाओं की भेंट चढ़ गया, प्रधानमंत्री द्वारा कृषि विज्ञान केन्द्र का उद्घाटन - कांग्रेस


सिंगरौली।।सिंगरौली जिले के देवरा ग्राम में खुल रहे कृषि विज्ञान केन्द्र के उद्घाटन समारोह में ही प्रशासनिक व्यवस्था बेपटरी रही। कृषि विज्ञान केन्द्र का उद्घाटन ही अव्यवस्थाओं की भेंट चढ़ गया। 

काँग्रेस आईटी सेल के जिलाध्यक्ष सीपी शुक्ला ने बताया कि 350 करोड़ रुपये के कृषि विज्ञान केन्द्र के उद्घाटन समारोह में किसानों की संख्या नगण्य थी।वही 24घन्टे बिजली का दावा करने वाली सरकार की पोल खुल गई। प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी द्वारा वेब टेलीकास्ट के माध्यम से अपने सन्देश को बिजली के अभाव में न पहुचा पाना सरकार की सबसे बड़ी नाकामी है।सिर्फ पत्थर लगाने एवम फोटो खींचाने से विकास नही हो सकता।पूर्व में केंद्रीय रेल मंत्री द्वारा भी बैढ़न में रेलवे रिजर्वेशन काउण्टर खोला गया था जो सिर्फ हवा हवाई ही रह गया।भाजपा सरकार चुनाव नजदीक होने से सिर्फ ढकोसला कर रही हैं।

वही काँग्रेस के जिला उपाध्यक्ष लवलेश सिंह ने बताया कि कृषि विज्ञान केंद्र के उदघाटन कार्यक्रम में पूरी तरह से अव्यवस्था देखने को मिली।सरकारी कार्यक्रम में जिले के विपक्ष के नेताओ को न बुलाना लोकतंत्र का अपमान है।जनप्रतिनिधियों एवम नेताओ का भाजपा सरकार में अधिकारी सम्मान नही करते जिसके कारण ही सांसद एवं विधायको को छोड़कर कलेक्टर पहले ही कार्यक्रम स्थल से चलते बने।वही कार्यक्रम की जानकारी ग्रामवासियो को न देना प्रशासनिक विफलता का परिणाम है। 

कृषि विज्ञान केन्द्र सिंगरौली का उद्घाटन प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी दिल्ली में बैठकर करने वाले थे और उनका उद्बोधन वेब टेलीकास्ट से जनता को सुनाया जाना था लेकिन पीएम का उद्बोधन बिजली उपलब्ध न होने से हितग्राही नहीं सुन पाये।

उर्जांचल टाइगर" की निष्पक्ष पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें। मोबाइल नंबर 7805875468 पर पेटीएम कीजिए।

प्रतिक्रियाएँ:

एक टिप्पणी भेजें

MKRdezign

संपर्क फ़ॉर्म

नाम

ईमेल *

संदेश *

Blogger द्वारा संचालित.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget