भूख से 12 करोड़ से अधिक लोगों के मरने का खतरा - संयुक्त राष्ट्र

दुनिया में भुखमरी बढ़ रही है। और भूखे लोगों की करीब 23 फीसदी आबादी भारत में रहती है।



दुनिया में भुखमरी बढ़ रही है। और भूखे लोगों की करीब 23 फीसदी आबादी भारत में रहती है।

न्यूज डेस्क।। दुनियाभर में भूख के कारण मरने के कगार पर पहुंच गए लोगों की संख्या पिछले साल बढ़कर12 करोड़40 लाख हो गई। अगर इन लोगों को जल्द ही भोजन नहीं मिला तो इनकी मौत होने का खतरा है।
संयुक्त राष्ट्र की खाद्य एजेंसी के प्रमुख डेविड बीसली ने यह जानकारी देते हुए बताया कि ऐसा इसलिए है क्योंकि लोग एक- दूसरे कोगोली मारने से भी नहीं कतराते।
उन्होंने वीडियो लिंक के जरिए कल सुरक्षा परिषद को बताया कि भूख से जूझ रहे तकरीबन तीन करोड़20 लाख लोग चार संघर्षरत देश सोमालिया, यमन, दक्षिण सूडान और उत्तर पूर्व नाइजीरिया में रह रहे हैं। इन देशों को पिछले साल अकाल की स्थिति से बचा लिया गया।
विश्व खाद्य कार्यक्रम के कार्यकारी निदेशक ने कहाकि भूख और संघर्ष के बीच संबंध विध्वंसकारी है। संघर्ष से खाद्य असुरक्षा पैदा होती है और खाद्य असुरक्षा से अस्थिरता तथा तनाव उत्पन्न होता है जिससे हिंसा फैलती है।
बीसली ने कहा कि वैश्विक रूप से लंबे समय से भूखे81 करोड़50 लाख लोगों में से60 फीसदी लोग संघर्षरत इलाकों में रहते हैं और उन्हें यह पता नहीं होता कि अगली बार खाना कहां से मिलेगा।

Post a Comment

डिजिटल मध्य प्रदेश

डिजिटल मध्य प्रदेश

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget