काशी की विरासत एवं धरोहरों को हर हालत में संजोया जायेगा। - मुख्यमंत्री

CM योगी,वाराणसी,विकास कार्य,NEWS


CM योगी के अध्यक्षता में कानून व्यवस्था एवं विकास कार्यों की समीक्षा बैठक हुआ संपन्न । 

वाराणसी।।उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ वाराणसी में संचालित विकास एवं निर्माण परियोजनाओं को युद्वस्तर पर अभियान चलाकर गुणवत्ता के साथ सुरक्षा मानको का पैरामीटर तय कर पूरा कराये जाने का निर्देश दिया। उन्होने विकास एवं निर्माण कार्यो में गति लाये जाने हेतु विभागीय अधिकारियों को प्रतिदिन, जिलाधिकारी को साप्ताहिक एवं कमिश्नर को पाक्षिक रूप से प्रगति की समीक्षा करने के साथ ही स्थलीय निरीक्षण किये जाने का निर्देश दिया। पेयजल परियोजनाओं की प्रगति धीमी होने तथा बार-बार निर्देश के बावजूद सन्तोषजनक सुधार न होने पर विभागीय कार्य क्षमता पर संदेह जताते हुए उन्होने हर हालत में निर्धारित समय सीमा में कार्य पूरा कराये जाने की हिदायत दी। उन्होने कार्यदायी संस्थाओं को अपनी कार्य संस्कृति बदलने की नसीहत देते हुए कार्यो को मानक के अनुरूप गुणवत्ता के साथ पूरा कराये जाने पर विशेष जोर दिया। उन्होने विशेष रूप से जोर देते हुए कहॉ कि आकंड़ो के खेल से लक्ष्य की प्राप्ति नही हो सकती। 
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ रविवार को कमिश्नरी आडीटोरियम में विकास कार्यो सहित कानून व्यवस्था की समीक्षा कर रहे थे। शहर की खराब सड़को पर नाराजगी जताते हुए बरसात से पहले शहर की अधिकाधिक सड़को को हर हालत में दुरूस्त कराये जाने का निर्देश दिया। उन्होने शहर की सड़को को लोक निर्माण विभाग एवं नगर निगम एवं ग्रामीण सड़को को लोक निर्माण विभाग, जिला पंचायत एवं मण्डी परिषद को युद्वस्तर पर अभियान चलाकर दुरूस्त कराये जाने का निर्देश दिया। सड़को के निर्माण कार्य में गुणवत्ता पर विशेष जोर देते हुए उन्होने कहॉ कि कार्य की गुणवत्ता से खिलवाड़ बर्दास्त नही किया जायेगा। उन्होने लोक निर्माण विभाग को 15-20 दिन की मोहलत देते हुए कहॉ कि आगामी 15-20 दिन के अन्दर शहर की सड़के बनती एवं नवनिर्मित होती दिखनी चाहिये। गेहूॅ क्रय केन्द्रो पर अवैध वसूली की शिकायत मिलने की जानकारी देते हुए उन्होने जिलाधिकारी को निर्देशित किया कि यह सुनिश्चित कराया जाय कि गेहूॅ क्रय केन्द्रो पर बिचौलिये किसी भी दशा में सक्रिय न होने पाये तथा किसानों को उनके गेहूॅ का सरकार द्वारा निर्धारित समर्थन मूल्य 1745/-प्रति कुन्तल मिल सकें। उन्होने बिचौलियों के विरूद्व कठोर कार्यवाही किये जाने का भी निर्देश दिया। सार्वजनिक वितरण प्रणाली के सरकारी सस्ते गल्ले की दुकानों से खाद्यान्न वितरण में अनियमितता की गत् दो माह से मिल रहे शिकायत का जिक्र करते हुए भी उन्होने कहॉ कि खाद्यान्न प्राप्त करने में पात्र लोगो को किसी भी स्तर पर परेशानी का सामना न करना पड़े। मुख्यमंत्री ने जन सामान्य की समस्याओं के प्रभावी निस्तारण पर जोर दिया तथा इसे और प्रभावी बनाये जाने पर जोर देते हुए कहॉ कि इससे जनता की 75 से 80 फीसदी समस्याओं का समाधान हो जायेगा। उन्होने जाति, आय एवं मूल आवास प्रमाण पत्रों के प्रकरणों को प्रत्येक दशा में तीन दिन के अन्दर निस्तारित किये जाने का निर्देश दिया। उन्होने विशेष रूप सें जोर देते हुए कहॉ कि थाना स्तर के दागी छवि के पुलिस कर्मियो सहित राजस्व विभाग के लेखपाल स्तर के कतिपय लोगो द्वारा अवैध वसूली किये जाने की शिकायते आ रही है। ऐसे लोगो को चिन्हिंत कर उनके विरूद्व कठोर कार्यवाही करने के साथ ही बर्खास्तगी की कार्यवाही किये जाने का निर्देश दिया। मुख्यमंत्री ने जोर देते हुए कहॉ कि जनता का शोषण किसी भी स्तर पर बर्दास्त नही किया जायेगा तथा इसमें लिप्त कर्मी अब कत्तई बख्से नही जायेगें। राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण द्वारा निर्माणाधीन मार्गो के कार्य की धीमी प्रगति पर नाराजगी जताते हुए उन्होने इसमें तेजी लाये जाने का निर्देश दिया। जौनपुर एवं गाजीपुर में भूमि अधिग्रहण की कार्यवाही बाधित होने के कारण सड़क चौड़ीकरण कार्य में आ रही समस्या का समाधान शीघ्र कराने के साथ दोनो जिले के जिलाधिकारियों से भूमि अधिग्रहण की कार्यवाही प्राथमिकता पर कराये जाने हेतु कमिश्नर को निर्देशित किया। वाराणसी में आईपीडीएस द्वारा गत् तीन वर्षो से भूमिगत वायरिंग का कराये जा रहे कार्य के बावजूद अभी भी सड़को पर लटकते विद्युत तार एवं सड़क के किनारे मौजूद विद्युत पोलो पर नाराजगी जताते हुए आगामी 10 दिनों के अन्दर लटकते विद्युत तारो को दुरूस्त कराने के साथ ही सड़क के विद्युत एवं टेजलीफोन के पोलो को अन्यत्र शिफ्ट कराये जाने का निर्देश दिया। उन्होने वरूणा कॉरिडोर के चैनेलाइजेशन कार्य को दिसम्बर तक पूरा कराये जाने का निर्देश दिया। उन्होने निर्देशित करते हुए कहॉ कि जहॉ कही भी आरओबी बनाये जा रहे हो, वहॉ पर सुरक्षा मानको को प्रत्येक दशा में सुनिश्चित कराया जाय। मुख्यमंत्री ने 9703.88 लाख की लागत से बनने वाले पंचक्रोसी परिक्रमा मार्ग का निर्माण कार्य शीघ्र शुरू कराये जाने का लोक निर्माण विभाग के अभियंता को निर्देशित किया। उन्होने विशेष रूप से जोर देते हुए कहॉ कि वर्तमान में पंचक्रोसी परिक्रमा शुरू है, ऐसे में श्रंद्वालूओं को किसी भी प्रकार की समस्या का सामना कत्तइ्र न करना पड़े। इसके लिये उन्होने पंचक्रोसी परिक्रमा मार्ग को पूरी तरह गड्ढामुक्त किये जाने के साथ परिक्रमा पड़ावों के धर्मशालाओं पर प्रकाश, शौचालय पेयजल सहित सुरक्षा के इन्तेजाम सुनिश्चित कराये जाने का निर्देश दिया। आवश्यकतानुसार उन्होने मोबाइल शौचालयों की भी व्यवस्था पंचक्रोसी परिक्रमा पड़ावों पर कराये जाने पर जोर दिया। रामनगर पराग डेयरी में निर्माणाधीन 4 लाख लीटर दैनिक क्षमता के डेयरी प्लान्ट का निर्माण के धीमी प्रगति पर नाराजगी जताते हुए इसमें तेजी लाने के साथ ही निर्धारित समयसीमा में पूरा कराये जाने का निर्देश दिया। उन्होने इस 4 लाख लीटर दैनिक क्षमता के डेयरी प्लान्ट के लिये दूध की उपलब्धता सुनिश्चित कराये जाने हेतु महिलाओं का समूह गठन कराकर बैको से ऋण दिलाये जाने का निर्देश दिया। इससे जहॉ डेयरी के लिये दूध उपलब्ध हो सकेगा, वही महिलायें स्वावलम्बी भी हो सकेगी। शहर उत्तरी के विधायक रविन्द्र जायसवाल द्वारा शहर के बस्तियों में विद्युत विभाग द्वारा बास-बल्ली का विद्युत पोल प्रयोग किये जाने की शिकायत को गम्भीरता से लेते हुए उन्होने ऐसे विद्युत पोलो को शीघ्र हटाये जाने का निर्देश दिया। मुख्यमंत्री ने ग्राम स्वाराज्य अभियान का भॉति सासंद आदर्श ग्राम सभाओं में चौपाल लगाकर वहॉ के पात्र लोगों को पेंशन, राशन कार्ड, गैस कनेक्शन, विद्युत कनेक्शन सहित सरकार के जनकल्याणकारी योजनाओं से लाभान्वित कराये जाने का भी जिलाधिकारी को निर्देशित किया। उन्होने काशी आने वाले पयर्टको की सुरक्षा एवं उन्हे ‘‘अतिथि देवो भवः‘‘ का सम्मान दिये जाने पर विशेष जोर दिया। उन्होने स्वच्छता कार्यक्रम पर विशेष जोर देते हुए नगर आयुक्त को अपने नेतृत्व में इस अभियान को रोजाना चलाये जाने का निर्देश दिया। 
मुख्यमंत्री काशी विश्वनाथ मंदिर के विस्तारीकरण कार्य को काशी के अतीत के साथ जोड़ने का कार्य बताते हुए कहॉ कि इसमें सथानीय जनता एवं प्रबुद्व लोगो का सहयोग भी लिया जायेगा। कार्य के दौरान किसी भी दशा में किसी मंदिर अथवा विग्रह के साथ किसी भी प्रकार का कोई झेड़झाड़ नही होगा। उन्होने कहॉ कि काशी की विरासत एवं धरोहरों को हर हालत में संजोया जायेगा। 

कानून व्यवस्था की समीक्षा के दौरान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पुलिस को रोजाना फूट पेट्रोलिग किये जाने का निर्देश दिया। उन्होने थानों में साफ-सफाई सुनिश्चित कराये जाने के साथ ही फरियादियों को बैठने एवं पीने के पानी का समुचित इन्तेजाम सुनिश्चित कराये जाने का निर्देश दिया। पुलिस स्तर पर लम्बित 458 विवेचना की कार्यवाही शीघ्र पूरा कराये जाने के साथ ही विवेचनायें क्यों और किस स्तर लम्बित है की भी जॉच किये जाने पर जोर दिया। उन्होने भारी वाहनों के निरूद्व मार्गो पर किसी भी दशा में भारी वाहनों का संचालन न होने का निर्देश देते हुए कहॉ कि चौराहो पर अवैध वसूली करने वाले वर्दी को कलंकित करने तथा व्यवस्था को धूमिल करने वालों को किसी भी दशा में बख्सा न जाय। ऐसे लोग को जेल भेजने के साथ ही उन्हे सरकारी सेवा से हर हालत में बर्खास्त किया जाय। मुख्यमंत्री ने शीघ्र ही दोबारा वाराणसी आकर यहॉ के विकास एवं निर्माण परियोजनाओं के प्र्रगति की समीक्षा एवं स्थलीय निरीक्षण किये जाने की अधिकारियों को हिदायत देते हुए कहॉ कि कार्यो में सुधार नही हुआ, तो जिम्मेदार अधिकारी बख्से नही जायेगें। 

कमिश्नर दीपक अग्रवाल ने मुख्यमंत्री को बताया कि वाराणसी में संचालित एवं निर्माणाधीन वाराणसी रिंग रोड फेज-1, रा0मा0-56 के बाबतपुर-वाराणसी तक चार लेन/चौड़ीकरण, डीडीयूजीजेवाई, आईपीडीएस की पुरानी काशी के इंटीग्रेडेड पॉवर डेवलपमेंट कार्य, पुरानी काशी के अतिरिक्त इंटीग्रेडेड पॉवर डेवलपमेंट कार्य, पिपलानी कटरा कबीरचौरा के पास हेरिटेज वॉक, वाराणसी शहर के 81 हेरिटेज स्थलों पर मूलभुत सुविधायें उपलब्ध कराने व हेरिटेज वैल्यू इम्प्रूव कराने का कार्य, 137 सामुदायिक शौचालय निर्माण, 3 घोबीघाट निर्माण एवं जीर्णोद्वार, नाटी इमली-तिलभाण्डेश्वर, रत्नाकर, चंद्रिका, अशोक बिहार, सुन्दरपुर एवं संजय नगर सहित 7 पार्क का सुन्दरीकरण, गंगा एक्शन प्लान परियोजना के सीवर एवं पम्पिग स्टेशन के कार्य, चौकाघाट-सरैया-फुलवरिया पम्पिग स्टेशन के निर्माण कार्य, बीएसयूपी-शहरी आवास योजनान्तर्गत 3682 आवासो का निर्माण, आसरा आवास योजनान्तर्गत 48 नग आवासों का निर्माण कार्य, दीनदयाल अन्त्योदय योजनान्तर्गत 50 व्यक्तियों हेतु आश्रम गृह का निर्माण कार्य तथा 220 केबी विद्युत उपकेन्द्र राजातालाब सहित 16 परियोजनायें 30 जून तथा आई0डब्ल्यू0टी0 मल्टी मोडल टर्मिनल रामनगर, डीडीयूजीजेवाई के अन्तर्गत ग्रामों/मंजरो का विद्युतीकरण-उपकेन्द्रो का निर्माध/क्षमता वृद्वि तथा नलकूप हेतु 35 फीडरो का निर्माण कार्य, चार लाख मीटर दैनिक क्षमता के डेयरी फूड प्रोजेक्ट की स्थापना, वाराणसी जल सम्पूर्ति योजना प्रायरिटी-2 (ट्रांस वरूणा), वाराणसी नगर के 5 जोन में 50028 पेयजल घरेलू गृह संयोजन कार्य, राजीव आवास योजना, दीनदयाल अन्त्योदय योजना/50 व्यक्तियों हेतु आश्रय गृह का निर्माण, पुलिस लाइन वाराणसी में 200 क्षमता के बहुमंजिली बैरक का निर्माण कार्य, सरायडगरी में 48 नग-अकथा में 48 नग-जोल्हा बजरडीहा में 24 नग आवास कुल 120 आवासो का निर्माण, चौकाघाट-लहरतारा मार्ग पर उपरिगामी सेतु का निर्माण, नगरीय सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र शिवपुर का भवन निर्माण, आईटीआई राजातालाब-कपसेठी का निर्माण कार्य, पं0दीनदयाल उपाध्याय राजकीय चिकित्सालय में 50 बेड का महिला चिकित्सालय भवन निर्माण, बाबतपुर-चौबेपुर-भगेतुआ-बलुवा ब्रिज मार्ग का चौड़ीकरण एवं सुद्वृणीकरण, भोजूबीर-सिन्धोरा मार्ग का चौड़ीकरण एवं सुद्वृणीकरण, 140 एमएलडी एसटीपी दीनापुर, ओल्ड ट्रंक सीवर ‘‘शाही नाला’’ का जीर्णोद्वार, कोनिया-भगवानपुर-दीनापुर व 5 अन्य घाटो पर जीर्णोद्वार एवं पुर्नस्थापन का कार्य, ट्रांस वरूणा क्षेत्र में 50260 सीवर हाउस कनेक्टिंग चेम्बर का निर्माण कार्य, ध्वनि एवं प्रकाश कार्य सारनाथ, वाराणसी जल सम्पूर्ति योजना प्रायरिटी-1, जयप्रकाश नारायण सर्वोदय विद्यालय सातोमहुआ, वरूणा नदी के चैनेलाइजेशन एवं तटीय विकास परियोजना तथा जिला महिला चिकित्सालय में 100 बेड का मैटरनिटी विंग का भवन निर्माण काय्र 31 दिसम्बर तक पूरा हों जायेगा। 

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के 5 जनवरी, 2018 को वाराणसी भ्रमण के दिये गये निर्देश के पश्चात् 15800.00 लाख की हल्दिया-वाराणसी-फूलपुर गैस पाइप लाइन परियोजना, 5000.00 लाख की वाराणसी शहर गैस वितरण परियोजना, 400.00 लाख की पेरिशेबल कॉर्गो का निर्माण राजातालाब, 202.00 लाख की टाउनहाल रि-डेवलपमेंट, 154.00 लाख की दुर्गाकुण्ड से अस्सी घाट तक हेरिटेज विकास का कार्य, 479.00 लाख की वाराणसी शहर के 81 हेरिटेज स्थलों के विकास कार्य में 70 का पूर्ण, 130.00 लाख की मछोदरी व बजरडीहा धोबीघाट निर्माण/जीर्णोद्वार, 2650.00 लाख हदय योजनान्तर्गत हेरिटेज पाल व लाइट प्रोजेक्ट, 2989.00 लाख की लागत से हदय योजनान्तर्गत 24 हेरिटेज सड़क का निर्माण एवं मरम्मत कार्य? 6801.00 लाख की लागत से दीनदयाल उपाध्याय ग्रामीण विद्युतीकरण एवं 3916.98 लाख की लागत से मडुवाडीह रेलवे ओवरब्रिज का निर्माण कार्य पूरा कराया जा चुका है। उन्होने जाम को काशी की प्रमुख समस्या बताते हुए वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक को ट्राफिक प्लान बनाकर यातायात में सुधार लाये जाने का निर्देश दिया। 

बैठक में उत्तर प्रदेश के सैनिक कल्याण, खाद्य प्रसंस्करण, होमगार्डस, प्रान्तीय रक्षक दल, नागरिक सुरक्षा राज्य मंत्री (स्वतन्त्र प्रभार) अनिल राजभर, विधि, न्याय, सूचना, खेल एवं युवा कल्याण राज्य मंत्री डा0 नीलकंठ तिवारी, विधायक कैण्ट सौरभ श्रीवास्तव, विधायक उत्तरी रवीन्द्र जायसवाल, विधायक रोहनियॉ सुरेन्द्र नारायण सिंह, एमएलसी डा0चेतनारायण सिंह, केदार सिंह के अलावा प्रमुख सचिव सूचना एवं पयर्टन अवनीश कुमार अवस्थी, कमिश्नर दीपक अग्रवाल, आईजी दीपक रतन, विशेष सचिव मुख्यमंत्री अविनाश सिंह, जिलाधिकारी योगेश्वर राम मिश्र, एसएसपी आर0के0भारद्वाज के अलावा अन्य विभागीय अधिकारी उपस्थित रहे। 

इससे पूर्व मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शिवपुर स्थित सेन्ट्रल जेल में चन्द्रशेखर आजाद के प्रतिमा का अनावरण किया।

उर्जांचल टाइगर" की निष्पक्ष पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें। मोबाइल नंबर 7805875468 पर पेटीएम कीजिए।

Reactions:

Post a Comment

डिजिटल मध्य प्रदेश

डिजिटल मध्य प्रदेश

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget