लगभग दो करोड़ की लागत से तैयार नवीनतम प्रौद्योगिकी से सुसज्जित पूर्ण स्कैनिंग इलेक्ट्रान माइक्रोस्कोप (SEM) प्रयोगशाला का उदघाटन।

लगभग दो करोड़ की लागत से तैयार नवीनतम प्रौद्योगिकी से सुसज्जित पूर्ण स्कैनिंग इलेक्ट्रान माइक्रोस्कोप (SEM) प्रयोगशाला का उदघाटन।

वाराणसी।।काशी हिन्दू विश्वविद्यालय विज्ञान संस्थान के भू-विज्ञान विभाग (जियोलॉजी डिपार्टमेन्ट) में लगभग दो करोड़ की लागत से तैयार नवीनतम प्रौद्योगिकी से सुसज्जित पूर्ण स्कैनिंग इलेक्ट्रान माइक्रोस्कोप (SEM) प्रयोगशाला का उदघाटन।
आज मध्यान्ह कुलपति प्रो0 राकेश भटनागर ने किया इस इबीओ 18 माडल मशीन का निर्माण केम्ब्रिज युनाइटेड किंगडम में हुआ है। सूचना एवं जनसम्पर्क अधिकारी प्रो० राजेश सिंह एवं प्रो0 एन0 वी0 चेलापतिराव द्वारा यह जानकारी उर्जांचल टाईगर के प्रतिनिधि को बताया कि इस मशीन द्वारा किसी कण को 10 लाख गुना अधिक बड़ा कर देखा जा सकता है तथा इस मे चार नैनोमीटर तक की वस्तुओ को बड़ा करके देखने की क्षमता होती है। किसी वस्तु के रासायनिक गठन का भी विश्लेषण इस मशीन द्वारा सम्भव है। इस प्रयोगशाला का उपयोग प्रमुख रुप से खनिज विज्ञान, द्रव्य विज्ञान, नेनो टेक्नालॉजी तथा जीव विज्ञान सम्बन्धी अध्ययनो में किया जा सकता है।
भू-विज्ञान विभाग को यह सुविधा डीएसटी-सर्व द्वारा एक व्यक्तिगत परियोजना के रुप में अनुमोदित की गयी है जिसमें प्रमुख अन्वेषक प्रो0 एन0 वी0 चेलापतिराव तथा सहायक अन्वेषक प्रो0 राजेश कुमार श्रीवास्तव, प्रो0 एम0 जोशी तथा प्रो0 एच0 बी0 श्रीवास्तव है। अन्वेषक को यह परियोजना भारतीय उप-महाद्वीप के नीचे गहरे मैंटल में शैलो के व्यापक अध्ययन हेतु प्रदान की गयी है। इस प्रयोगशाला को एक राष्ट्रीय सुविधा के रुप में स्थापित किया जायेगा जिस की उपलब्धता सभी शोधार्थियो, विद्यार्थियो एवं सामान्य जन मानस को भी होगी।
आज आयोजित कार्यक्रम में विभागाध्यक्ष प्रो0 राजेश कुमार श्रीवास्तव ने स्वागत भाषण दिया। कुलपति प्रो0 राकेश भटनागर ने कहा कि इस प्रयोगशाला से विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी क्षेत्र के शोधार्थियो को लाभ मिलेगा। संचालन एवं धन्यवाद ज्ञापन प्रो0 एन0 वी0 चेलापतिराव ने किया।
Reactions:

टिप्पणी पोस्ट करें

MKRdezign

संपर्क फ़ॉर्म

नाम

ईमेल *

संदेश *

Blogger द्वारा संचालित.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget