बिजली की कोई कमी नही, ट्रिपिंग एवं कटौती बर्दाश्त नहीं-डा0नीलकंठ तिवारी

बिजली की कोई कमी नही, ट्रिपिंग एवं कटौती बर्दाश्त नहीं-डा0नीलकंठ तिवारी

वाराणसी।।उत्तर प्रदेश के विधि, न्याय, सूचना, खेल एवं युवा कल्याण राज्य मंत्री डा0 नीलकंठ तिवारी ने निर्बाध विद्युत आपूर्ति सुनिश्चित कराये जाने हेतु विद्युत विभाग के अधिकारियों को कड़े निर्देश देते हुए कहा कि बनारस में बिजली की कोई कमी नहीं है, फिर भी ट्रिपिंग एवं ट्रांसफार्मर जलने की समस्याओं के कारण उपभोक्ताओं को कटौती से जूझना पड़ रहा है। उन्होने विशेष रूप से जोर देते हुए कहा कि विद्युत की समस्या का समाधान प्राथमिकता पर सुनिश्चित कराया जाय। विद्युत विभाग में कर्मियों की कोई कमी नही है, ऐसी स्थिति में जनता की समस्याओं का समाधान हर हालत में शीघ्र सुनिश्चित कराया जाय। ट्रासफार्मरो को जलने की शिकायत पर जहां जरूरत हो वहां ट्रांसफार्मर अधिक पावर का लगाएं जाने पर जोर देते हुए उन्होने कहा कि ट्रिपिंग एवं कटौती बर्दाश्त नहीं की जाएगी। उन्होने जन सामान्य से विद्युत विभाग से संबंधित समस्याओं को टोल फ्री नं0 1912 पर उपलब्ध कराये जाने की भी अपील की है। 
उत्तर प्रदेश के विधि, न्याय, सूचना, खेल एवं युवा कल्याण राज्य मंत्री डा0 नीलकंठ तिवारी सोमवार को भिखारीपुर स्थित पूर्वाचल विद्युत वितरण निगम के प्रबन्ध निदेशक कार्यालय सभागार में विभागीय अधिकारियों के साथ बैठक कर रहे थे। उन्होंने अभियंताओं से विद्युत फॉल्ट सूचना प्राप्ति के तत्काल् बाद दुरुस्त किये जाने पर जोर देते हुए इसके लिये आपसी समन्वय बनाये जाने का निर्देश दिया। उन्होने निर्देशित किया कि बिजली विभाग के क्षेत्रवार अधिकारियों के फोन नंबर सार्वजनिक कराये। ताकि जनता अपनी समस्याओं की सूचना आसानी से दे सके। कमिश्नर दीपक अग्रवाल ने सुझाव दिया कि किसी आपात स्थिति से निपटने के लिए अधिकारियों, जनप्रतिनिधियों और बिजली विभाग के जिम्मेदार वरिष्ठों का व्हाटशाप ग्रुप बनाएं जाय। इस पर समस्याओं के बारे में जनप्रतिनिधि तथा सरकारी सूचना दे सकेगे। उन्होने विद्युत विभाग के अधिकारियों को निर्देशित किया कि विभागीय स्तर पर एक सूचना तंत्र विकसित करें। जिस पर लोकल फाल्ट होने पर या आपात स्थिति में तुरंत सूचित कर जनहानि, या किसी बड़े अनहोनी से बचा जा सके। वह सूचना तंत्र ऐसा हो, जिस पर शिकायतों का डाटा निवारण का आंकड़े उपलब्ध हो। मंत्री नीलकंठ तिवारी ने समस्याओं निराकरण पर नजर रखने के लिए एक समिति बनाने का भी निर्देश दिया। उन्होने विशेष रूप से जोर देते हुए कहॉ की विद्युत विभाग के जूनियर इंजीनियरों द्वारा काम में बहुत लापरवाही बरते जाने की शिकायत मिल रही है। इन्हे जूनियर इंजीनियरों को सक्रिय एवं प्रभावी बनाये जाने हेतु विभागीय अधिकारी को निर्देशित किया।

बैठक में कमिश्नर दीपक अग्रवाल, विधायक रोहनियॉ सुरेन्द्र नारायण सिंह सहित मंत्री के प्रतिनिधि आलोक श्रीवास्तव प्रमुख रूप से उपस्थित रहे।

Post a Comment

डिजिटल मध्य प्रदेश

डिजिटल मध्य प्रदेश

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget