भ्रष्टाचार फैला रहे हैं प्रधानमंत्री - राहुल गांधी

नई दिल्ली।। कर्नाटक में बीएस येदियुरप्पा के इस्तीफे के बाद कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर जमकर निशाना साधा और आरोप लगाया कि उन्होंने विधायकों को ‘खरीदने’ को इजाजत दी और वह सभी संवैधानिक संस्थाओं का ‘अपमान’ कर रहे हैं।

राहुल ने यह भी आरोप लगाया कि प्रधानमंत्री मोदी भ्रष्टाचार को बढ़ावा दे रहे हैं और वह खुद ‘भ्रष्टाचार’ हैं।

उन्होंने संवाददाताओं से कहा कि बेहतर होगा कि राज्यपाल वजुभाई वाला इस्तीफा दें, लेकिन मुद्दा उनके इस्तीफे से बड़ा है। मुद्दा यह है कि आज भाजपा और आरएसएस हर संस्था पर आक्रमण कर रहे हैं। 

बाद में राहुल ने ट्वीट किया, ‘‘आखिर में भारत की आवाज और लोकतांत्रिक भावना ही हमेशा अत्याचार पर जीत हासिल करती है।’’ 

राहुल ने आरोप लगाया, ‘‘खुलेआम प्रधानमंत्री जी, अमित शाह जी, कांग्रेस पार्टी और जनता दल एस के विधायकों को खरीदने को बढ़ावा दे रहे थे। टेप रिकॉर्डिंग्स सबके सामने हैं।’’ 

उन्होंने कहा, ‘‘ प्रधानमंत्री जी भ्रष्टाचार की बात करते हैं, मगर सच्चाई यह है कि प्रधानमंत्री जी ने भ्रष्टाचार के लिए भाजपा नेताओं को इजाजत दी और कर्नाटक की खरीद फरोख्त के बाद प्रधानमंत्री एक प्रकार से भ्रष्टाचार हैं।’’ 

राहुल ने कहा, ‘‘देश की जनता ने देखा कि कर्नाटक की विधानसभा में राष्ट्रगान होने से पहले बीजेपी के सदस्य और विधानसभा के अस्थायी अध्यक्ष उठकर सदन से चले गए। ये उनकी निशानी है कि वो हिंदुस्तान के किसी भी संस्था को, चाहे वो ससंद हो, विधानसभा हो, उच्चतम न्यायालय हो, या कोई और.... वे किसी भी संस्था की इज्जत नहीं करते हैं।’’ 

उन्होंने कहा, ‘‘मुझे बहुत तसल्ली है कि आज भाजपा को, प्रधानमंत्री जी को, एक समय में हत्या आरोपी रहे अमित शाह जी को देश ने दिखाया है कि इस देश की संस्थाएं आपसे बड़ी हैं। आपके पैसे से बड़ी हैं। आपकी पॉवर से बड़ी हैं।’’ 

कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा, ‘‘ मैं, कांग्रेस पार्टी के नेता, कार्यकर्ता, जेडीएस के नेता, देवगौड़ा जी, उनके कार्यकर्ता और कर्नाटक की जनता को धन्यवाद करना चाहता हूं। सब एकसाथ मिलकर खड़े हुए, और ये जो लोकतंत्र पर आक्रमण था, जो पूरे देश में हो रहा है, सब जगह हो रहा है, इसको कर्नाटक में मिलकर रोका गया ।’’ 

उन्होंने कहा, ‘‘मैं और सब विपक्ष के नेता मिलकर देश को कहते हैं, कि बीजेपी को आरएसएस को हम रोकेंगे, क्योंकि ऐसा करना देश हित में है । यह देश की संस्थाओं के साथ...देश की सुप्रीम कोर्ट के साथ ....ये जो कर रहे हैं .... देश के अलग अलग संस्थानों के साथ जो हो रहा है, इसको हम रोकेंगे। देश में जो हिंदुस्तान की जनता की आवाज है, उसकी हम रक्षा करेंगे।’’ 

राहुल ने कहा कि देश की संवैधानिक संस्थाओं को भाजपा और आरएसएस के हमले से बचाने और भाजपा को पराजित करने के लिए विपक्षी दलों के साथ मिलकर काम करेंगे।

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री और भाजपा ने गोवा, मणिपुर , कर्नाटक हर जगह जनादेश का अपमान किया।

इससे पहले पार्टी के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि 'ऑपरेशन कमल' विफल रहा।

सुरजेवाला ने ट्वीट किया, 'ऑपरेशन कमल विफल रहा। येदियुरप्पा दो दिन के मुख्यमंत्री रहे जैसा कि देश ने पूर्वानुमान लगाया था। उन्होंने सात दिनों के मुख्यमंत्री का अपना ही रिकॉर्ड तोड़ दिया।' उन्होंने कहा, 'लोकतंत्र जीता, संविधान जीता।' दरअसल, उच्चतम न्यायालय के आदेश के अनुसार येदियुरप्पा को आज शाम चार बजे सदन में बहुमत साबित करना था, लेकिन उससे पहले ही उन्होंने इस्तीफे की घोषणा कर दी।

गौरतलब है कि राज्य में किसी भी पार्टी को स्पष्ट बहुमत नहीं मिला है । प्रदेश की 224 सदस्यीय विधानसभा में 222 सीटों पर हुए चुनाव में भाजपा को 104, कांग्रेस को 78 और जद एस+ को 38 सीटें मिली हैं। बहुमत के लिए जादुई आंकड़ा 111 है क्योंकि कुमारस्वामी दो सीटों से चुनाव जीते हैं।
Reactions:

Post a Comment

डिजिटल मध्य प्रदेश

डिजिटल मध्य प्रदेश

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget