सिंगरौली जिले को विकास की दौड़ में पीछे नहीं रहने देंगे - मुख्यमंत्री

सिंगरौली महोत्सव, शिवराज सिंह चौहान


विनोद सिंह
ब्यूरो,उर्जान्चल टाइगर
*****************
सिंगरौली।।मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि सिंगरौली जिले को विकास की दौड़ में पीछे नहीं रहने दिया जायेगा। जिले को मिनी स्मार्ट-सिटी बनाया जायेगा। मुख्यमंत्री बुधवार को सिंगरौली जिला मुख्यालय बैढ़न में असंगठित श्रमिक सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे। श्री चौहान ने इस मौके पर जिले की 101 ग्राम पंचायतों को खुले में शौच मुक्त घोषित किया।

महत्वपूर्ण घोषणाएँ

  • सिंगरौली जिले में 490 करोड़ लागत की गौड़ देवसर समूह जल-प्रदाय योजना क्रियान्वित की जायेगी।
  • बैढ़न समूह जल-प्रदाय योजना पर 1140 करोड़ रुपये व्यय किये जायेंगे।
  • सिंगरौली में 200 बिस्तरीय ट्रॉमा-सह-जिला चिकित्सालय का 25 करोड़ से उन्नयन किया जायेगा।
  • मुड़वानी डेम पर 2 करोड़ 44 लाख की लागत से सौंदर्यीकरण कराया जायेगा।
  • सिंगरौली जिले के ग्राम खैडली, मझौली, छमरई, धौहनी, बिरदह में 9 करोड़ 75 लाख की लागत से मुख्यमंत्री ग्राम नल-जल योजना शुरू की जायेगी।
  • चितरंगी तहसील में सोन नदी पर पुल का निर्माण करवाया जायेगा।
  • सिंगरौली में हवाई-पट्टी बनवाई जायेगी।
मुख्यमंत्री  चौहान ने जन-कल्याण योजना की जानकारी देते हुए श्रमिकों को बताया कि विभिन्न योजनाओं के लाभ श्रमिकों को सुलभ कराने के लिये यह एकजाई योजना क्रियान्वित की जा रही है। योजना में सभी वर्ग के श्रमिकों को लाभान्वित किया जायेगा। योजना की सतत निगरानी और बेहतर क्रियान्वयन के लिये प्रत्येक ग्राम पंचायत में 5 लोगों की एक समिति बनाई जायेगी। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री आवास योजना में प्रत्येक गरीब व्यक्ति को रहने के लिये पक्के मकान बनाकर दिये जायेंगे।

हितग्राहियों को दिये विभिन्न योजनाओं के हित-लाभ

मुख्यमंत्री चौहान ने सम्मेलन में विभिन्न योजनाओं के हितग्राहियों को हित-लाभ वितरित किये। एक लाख से अधिक पंजीकृत श्रमिकों को परिचय-पत्र दिये गये। मुख्यमंत्री जन-कल्याण योजना में 9 महिला श्रमिकों को लाभान्वित किया गया। वनाधिकार के 485 एवं दखलरहित वास-स्थान आबादी भूमि के 3564 हितग्राहियों को पट्टे प्रदान किये गये। श्री चौहान ने ऋण समाधान योजना में ग्राम मेंढौली के किसान फुजवत प्रसाद पाण्डे और मंशाराम बैस को एक लाख 74 हजार रुपये की ब्याज माफी के प्रमाण-पत्र सौंपे। सम्मेलन में देवसर विकासखण्ड के 45 स्व-सहायता समूहों को एक करोड़ 35 लाख एवं चितरंगी विकासखण्ड के 91 स्व-सहायता समूह को 2 करोड़ 63 लाख रुपये के बैंक क्रेडिट लिंकेज के चेक दिये गये। सिंगरौली नगर में संचालित राष्ट्रीय शहरी आजीविका मिशन के 5 महिला स्व-सहायता समूहों को 50 हजार रुपये की आवर्ती निधि प्रदान की गई।

90 करोड़ से ज्यादा के विकास कार्यों का शिलान्यास/लोकार्पण

सम्मेलन में मुख्यमंत्री ने 90 करोड़ 48 लाख रुपये के विकास कार्यों का शिलान्यास एवं लोकार्पण भी किया। मुख्यमंत्री श्री चौहान को स्व-सहायता समूह की महिलाओं ने समूह द्वारा निर्मित उत्पादों का गिफ्ट पैक भेंट किया।

इनकी रही उपस्थिति

इस मौके पर जिला प्रभारी मंत्री राजेन्द्र शुक्ल, सांसद  रीति पाठक, विधायक रामलल्लू बैंस, राजेन्द्र मेश्राम, विंध्य विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष सुभाष सिंह, म.प्र. शहरी/ग्रामीण असंगठित कर्मकार कल्याण मण्डल के अध्यक्ष सुल्तान सिंह शेखावत, जिला पंचायत अध्यक्ष  अजय पाठक, नगर निगम अध्यक्ष चन्द्रप्रताप विश्वकर्मा, सहित कलेक्टर सिंगरौली अनुराग चैधरी, कलेक्टर सीधी दिलीप कुमार, पुलिस अधीक्षक सिंगरौली विनीत जैन, जिला पंचायत के मुख्यकार्यपालन अधिकारी प्रियंक मिश्रा, अपर कलेक्टर ऋजु बफना, एसडीए ऋतुराज, विकास नगर निगम के आयुक्त शिवेन्द सिंह, एसडीएम विकास सिंह,राजेश शुक्ला, एसपी मिश्रा सहित क्षेत्र के जनप्रतिनिधि गण, जिला के अधिकारी, एवं बड़ी संख्या में हितग्रही उपस्थित रहे।

Post a Comment

डिजिटल मध्य प्रदेश

डिजिटल मध्य प्रदेश

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget