नवागन्तुक जिलाधिकारी सुरेन्द्र सिंह बुधवार को विकास भवन सभागार में विकास परियोजना के प्रगति की समीक्षा कर रहे थे।

नवागन्तुक जिलाधिकारी सुरेन्द्र सिंह बुधवार को विकास भवन सभागार में विकास परियोजना के प्रगति की समीक्षा कर रहे थे।

वाराणसी।।नवागन्तुक जिलाधिकारी सुरेन्द्र सिंह ने जिले में कार्यभार ग्रहण करने के तुरन्त बाद जनपद में संचालित विकास परियोजनाओं के प्रगति की समीक्षा के दौरान विभागीय अधिकारियों को आपसी समन्वय स्थापित कर कार्यो को युद्वस्तर पर अभियान चलाकर पूरा कराये जाने का निर्देश दिया। उन्होने विशेष रूप से जोर देते हुए कहॉ कि विभागीय समन्वय से कार्य के दौरान आने वाली विभिन्न समस्यायें प्राथमिकता पर निस्तारित हो जाती है और परियोजनाओं का समय से पूरा कराये जाने में सहयोग मिलता है। उन्होने कार्यो में गुणवत्ता एवं समयबद्वता पर विशेश जोर दिया।

नवागन्तुक जिलाधिकारी सुरेन्द्र सिंह बुधवार को विकास भवन सभागार में विकास परियोजना के प्रगति की समीक्षा कर रहे थे। उन्होने कार्यदायी संस्थाओं को कार्य के दौरान सुरक्षा मानको का कड़ाई से पालन करने के साथ ही मौके पर कार्य करने वाले श्रमिकों सुरक्षा उपकरणों से लैंस होकर ही कार्य करें। मौके पर निरीक्षण के दौरान इसकी अनदेखी पायी गयी, तो संबंधित अधिकारी, प्रोजेक्ट मैनेजर एवं ठीकेदार पर कार्यवाही करने के साथ ही जूर्माना भी लगाया जायेगा। चौकाघाट-लहरतारा फ्लाईओवर के निर्माण कार्य में बाधक बने विद्युत पोलों को एक सप्ताह के अन्दर शिफ्ट कराये जाने का निर्देश देते हुए सेतु निगम के प्रोजेक्ट मैनेजर से मैनपावर बढ़ाकर 24 घंटे कार्य कराये जाने का निर्देश दिया। इसके अलावा उन्होने सड़को के किनारे बाधा बने अतिक्रमण को भी शीघ्र हटाये जाने हेतु एडीएमसिटी, अधीशासी अभियंता लोनिवि एवं क्षेत्रीय मजिस्ट्रेट को निर्देशित किया। फुलवरिया 4 लेन सड़क निर्माण के दौरान आ रही समस्याओं का प्राथमिकता पर समाधान करते हुए कार्य को तुरन्त शुरू कराये जाने पर जोर दिया। उन्होने विभागीय अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहॉ कि किसी भी स्तर पर बिनावजह पत्रावलियों को लम्बित न रखा जाय। उन्होने गंगा प्रदुषण इकाई के अधिकारी को सीवरेंज कनेक्शन में तेजी लाये जाने का निर्देश दिया। कार्यदायी संस्थाओं को सड़को की खोदाई कर किये जाने वाले कार्य को पूरा कराये जाने के बाद सड़को का मरम्मत सही ढ़ग से कराये जाने हेतु भी निर्देशित किया। जिलाधिकारी ने बताया कि रात्रिकालीन अवधि में चल रहे कार्य के दौरान मौके पर सुरक्षा व्यवस्था मुहैया कराया जायेगा। सारनाथ वाटर ट्रीटमेंट प्लान्ट के कार्यो में आ रही बाधाओं को दूर करने हेतु अर्न्तविभागीय कमेटी गठित कर समस्याओं का निस्तारण प्राथमिकता पर किये जाने का निर्देश दिया। उन्होने कार्यदायी संस्थाओं को निर्देशित करते हुए कहॉ कि कार्य के दौरान जो समस्यायें विभागीय स्तर पर निस्तारित न हो सके, ऐसे प्रकरण उनके संज्ञान में तुरन्त लाया जाय।

बैठक में मुख्य विकास अधिकारी गौरांग राठी, सीएमओ, एडीएमसिटी सहित कार्यदायी संस्थाओं के अधिकारी प्रमुख रूप से उपस्थित रहे।
Reactions:

Post a Comment

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget