स्वयंभू संत दाती महाराज पर कुकर्म का आरोप, केस दर्ज।

Daati Maharaj, Delhi, Delhi News, Hindi Khabar, hindi news, khabar, News, Rape, Sexual Molestation, Shanidham, urjachaltiger,ख़बर, दाती, दाती महाराज, बलात्कार, महिला शिष्य, शनि धाम मंदिर, समाचार, हिंदी समाचार,उर्जान्चल टाइगर

‘शनि शत्रु नहीं मित्र है’ कार्यक्रम करके चर्चा में आए दाती महाराज पर उनकी शिष्या ने ही बलत्कार का आरोप लगया है।मामला दर्ज होने के बाद से स्वयंभू दाती महाराज फरार है।
डिजिटल टीम
न्यूज़ डेस्क,उर्जान्चल टाइगर
--------------------------------------
शनिधाम मंदिर के संस्थापक दाती महाराज के ख़िलाफ़ उनकी शिष्या ने बलत्कार की शिकायत 10जून को दक्षिण दिल्ली के फतेहपुर बेरी थाने में दर्ज कराई है। पुलिस ने भारतीय दण्ड विधान की धारा 354,376 और 377 के तहत मामला दर्ज कर लिया है।

पीड़िता ने पुलिस को बताया कि वह करीब एक दशक से महाराज की अनुयायी थी।लेकिन महाराज और चेलों द्वारा बार-बार बलात्कार किये जाने के बाद वह दो साल पहले अपने घर राजस्थान लौट गई थी।

12 जून को यह मामला पुलिस से अपराध शाखा को ट्रांसफर कर दिया गया।पुलिस के संयुक्त आयुक्त (अपराध) आलोक कुमार ने इसकी पुष्टि करते हुए बताया कि मामला अपराध शाखा को ट्रांसफर कर दिया गया है, हालांकि अभी उन्हें आधिकारिक आदेश नहीं मिले हैं।

पीड़िता ने आरोप लगाया कि स्वयंभू बाबा के दिल्ली और राजस्थान स्थित आश्रमों में उसका शारीरिक शोषण किया गया।

पीड़िता ने आरोप लगाया है कि बाबा की एक अन्य महिला अनुयायी उसे महाराज के कमरे में जबरन भेजती थी। मना करने पर धमकाती थी कि वह सभी से कहेगी कि पीड़िता अन्य चेलों के साथ भी यौन संबंध बनाती है।

वह करीब दो साल पहले आश्रम से भाग गई थी और लंबे समय से अवसाद में थी।अवसाद से उबर कर उसने अपने माता-पिता को पूरी बात बतायी और उनके साथ पुलिस को शिकायत दी है।

दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल ने पीड़िता से भेंट कर कहा कि उसे पुलिस सुरक्षा मिलनी चाहिए।


मालीवाल ने ट्वीट किया, ‘दाती महाराज द्वारा कथित रूप से बलात्कार की शिकार हुई युवती से मिली। लड़की की कहानी बेहद डरावनी है। ऐसा लगता है कि वह भीषण प्रताड़ना से गुज़री है। उसकी जान को ख़तरा है। दिल्ली पुलिस को उसे तुरंत सुरक्षा प्रदान करने के लिए कहा है। दाती महाराज को तुरंत गिरफ्तार किया जाना चाहिए।'

पढ़िए - ये हैं भारत के 10 विवादित स्वयंभू धर्म गुरु 

कौन हैं बलात्कार के आरोपी महामंडलेश्वर दाती महाराज 

बलात्कार के आरोपी दाती महाराज का हक़ीक़त में उनके ज्ञान का प्रभाव हो न हो आभासी दुनियां में खूब है।एक वेबसाइट उनके नाम से है और एक शनिधाम के नाम से। यूट्यूब पर Gurumantra With Daati Maharaj नाम से एक वेरिफाइड चैनल भी है। यहां दाती महाराज को ‘श्री सिद्ध शक्तिपीठ शनिधाम पीठाधीश्वर श्री श्री 1008 महामंडलेश्वर परमहंस दाती जी महाराज’ लिखा गया है। 10 जुलाई, 1950 को राजसथान के पाली जिले के अलवास गांव में दाती महाराज का जन्म हुआ। बचपन में मां को खोने वाले दाती महाराज ने आज एक बड़ा साम्राज्य का मालिक है।अलावास में ही आश्वासन बाल ग्राम है जहां अनाथ बच्चे रहते हैं। आश्वासन बाल ग्राम के तहत स्कूल और कॉलेज चलते हैं। आश्वासन बाल ग्राम का नियंत्रण रहता है श्री शनिधाम ट्रस्ट के पास जिसके सर्वे-सर्वा दाती महाराज हैं।
दाती महाराज भाजपा नेता केशव प्रसाद मौर्य के साथ.

वेबसाइट के अनुसार दाती महाराज के महामंडलेश्वर की उपाधि श्री पंचायती महानिर्वाणी अखाड़ा हरिद्वार से मिली है और गायों की सेवा करना, अनाथ बच्चों को शिक्षा देना और औरतों के अधिकारों की रक्षा करना उनके जीवन के लक्ष्य हैं। 

दाती महाराज का मानना है कि भ्रांतियों की वजह से लोग शनि से डरते हैं जबकि वो भी बाकी ग्रहों की तरह एक कल्याणकारी ग्रह है। शनिधाम ट्रस्ट का दावा है कि वो कभी दान नहीं मांगते और उसके पास आया पैसा दाती महाराज के उन टीवी शो से आता है जिनमें वो राशिफल और पंचाग वगैरह बताते हैं। 

लेकिन सच्चाई यह है की उनके यूट्यूब चैनल के साढ़े चार लाख सब्सक्राइबर होने के बावजूद,ज़्यादातर वीडियो पर विजिटर द्वरा 1 हज़ार से 10 हज़ार के बीच ही देखने आए,कई वीडियो ऐसे थे जिसे देखने 100 से भी कम विजिटर आए। खैर, बालात्कार के आरोप लगाने के बाद प्रतापी बाबा अपने आश्रम से फरार हैं।
Reactions:

Post a Comment

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget