महिला एवं बाल अपराध पर जागरूकता पैदा करेगी "भूल एक नसीहत" फिल्म

सिंगरौली,मध्यप्रदेश,महिला एवं बाल अपराधों, एनसीएल,सिंगरौली पुलिस

हम शपथ लेते हैं कि- फिल्म के अंत में पुलिस अधीक्षक और एनसीएल के अधिकारियों संग कार्यक्रम में उपस्थित बच्चों एवं अतिथियों ने शपथ ली कि, हम सिंगरौली के लोग,ईमानदारी,निष्ठा व प्रतिबधता के साथ शपथ लेते हैं कि बालिकाओं व महिलाओं के साथ हो रहे अपराधों पर अंकुश लगाएँगे। 


सिंगरौली(मध्यप्रदेश)।। महिला एवं बाल अपराधों के प्रति जन जागरुकता को बढ़ावा दिए जाने के मकसद से भारत सरकार की मिनी रत्न कंपनी नॉर्दर्न कोलफील्ड्स लिमिटेड (एनसीएल) एवं सिंगरौली जिला पुलिस ने संयुक्त मुहिम शुरू की है। 

इसी की कड़ी में सोमवार को एनसीएल मुख्यालय स्थित अधिकारी गृह सभागार में सिंगरौली जिला पुलिस की ओर से निर्मित फिल्म ‘भूल: एक नसीहत’ दिखाई गई। 14 से 17 वर्ष की उम्र के युवक-युवतियों एवं उनके परिजनों को बाल एवं महिला अपराधों के खिलाफ विशेष रूप से जागरूक किए जाने के मकसद से बनाई गई यह फिल्म स्थानीय स्कूली बच्चों को दिखाई गई।

‘भूल: एक नसीहत’ फिल्म दिखाकर फैलाई जन-जागरुकता 


फिल्म दिखाए जाने के पश्चात पुलिस अधीक्षक विनीत जैन ने किशोर-वय स्कूली बच्चों से अपील की कि वे बाल अपराधों के प्रति सजग एवं सतर्क रहें तथा इस तरह की किसी भी घटना की फौरन जानकारी स्थानीय पुलिस को दें, ताकि समय पर उनकी मदद की जा सके। बच्चों ने भी अपने मन के सवाल पुलिस अधीक्षक से पूछे, जिनका उन्होंने विस्तार से जवाब दिया।


बाल एवं किशोरवय अवस्था में परिपक्वता की कमी की वजह से भटकाव की गुंजाइश ज्यादा होती है। लिहाजा बच्चों के लिए बेहद जरूरी है कि वे अपना एक आदर्श चुनें एवं संयम रखते हुए पढ़ाई पर ध्यान दें। उन्होंने बच्चों के लिए अच्छे दोस्तों की संगत अपनाने पर विशेष जोर दिया। उन्होंने कहा कि जन-जागरुकता के लिए सिंगरौली पुलिस द्वारा बनाई गई इस उम्दा फिल्म के प्रचार-प्रसार में एनसीएल प्रबंधन हरसंभव मदद करेगा। 
श्री गुणाधर पांडेय
 निदेशक (तकनीकी/संचालन) एनसीएल
  
यू-ट्यूब पर उपलब्ध इस फिल्म को ज्यादा से ज्यादा शेयर कर बड़ी संख्या में लोगों तक पहुंचाए जाने की गुजारिश की। 
श्रीअश्विनी दूबे 
 एडवोकेट-ऑन-रिकॉर्ड, भारत के सर्वोच्च न्यायालय

इस अवसर पर एसपी  विनीत जैन मीडिया से भी मुखातिब हुए तथा महिला एवं बाल अपराधों से जुड़े विषयों पर तफसील से बातचीत की। 

गौरतलब है कि आने वाले समय में एनसीएल द्वारा एनसीएल पोषित स्कूलों के 14 से 17 बर्ष के बच्चों को विभिन्न चरणों में यह फिल्म दिखाई जाएगी। साथ ही, एनसीएल के सीएसआर कार्यों के क्षेत्रों में आने वाले गांवों के बच्चों को भी फिल्म दिखाई जाएगी।


इस अवसर पर सिंगरौली के पुलिस अधीक्षक विनीत जैन, एनसीएल के निदेशक (तकनीकी/संचालन) गुणाधर पांडेय, एनसीएल के कार्मिक प्रमुख चार्ल्स जुस्टर, एनसीएल जेसीसी सदस्य अशोक दूबे, सुप्रीम कोर्ट के अधिवक्ता अश्विनी दूबे सहित कई गणमान्य अतिथि उपस्थित थे।



Post a Comment

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget