हिंदू आतंकवाद के लिए एबीसी ने माफी मांगी।

Quantico,Priyanka chopra,हिंदुत्व, भारत सरकार, फ़िल्म,

फ़िल्म अभिनेत्री - प्रियंका चोपड़ा
न्यूज़ डेस्क।।अमेरिकी टेलिविजन स्टूडियो एबीसी नेटवर्क ने क्वांटिको के एपिसोड में हिंदू आतंकवाद दिखाने के लिए माफी मांगी। उन्होंने अपने बयान में कहा कि इस प्रकरण ने बहुत सारी भावनाओं को उकसाया है। जिनमें से ज्यादातर लोग प्रियंका चौपड़ा को निशाना बना रहे हैं, जिन्होंने ना तो इस शो को बनाया है और ना ही इसे निर्देश किया है। क्वांटिको-2 एक एपिसोड में एफबीआई की भूमिका में प्रियंका चोपड़ा एक भारतीय को आतंकवादी कह रही है, जिसके बाद भारत में लोगों ने इसका विरोध किया है।

सोशल मीडिया पर प्रियंका की ट्रोलिंग के बाद क्वांटिको के प्रोड्यूसर एबीसी को सामने आना पड़ा। एबीसी ने अपने बयान में कहा, "शो अलग अलग नस्लों और पृष्ठभूमियों के बीच प्रतिद्ंवद्विता को दिखाता है। लेकिन इस मामले में हम गलती और खेदजनक ढंग से एक जटिल राजनीतिक मुद्दे पर चले गए। हमारी किसी को आहत करने की मंशा बिल्कुन नहीं थी।"

35 साल की बॉलीवुड स्टार प्रियंका चोपड़ा पिछले कुछ समय में हॉलीवुड में भी अपनी सफलता के झंडे गाड़ रही हैं। बॉलीवुड के किसी एक्टर का हॉलीवुड में इस कदर सफल होना साधारण बात नहीं है। लेकिन क्वांटिको को ताजा एपिसोड के बाद प्रियंका की इंटरनेट पर बहुत आलोचना हुई। सोशल मीडिया पर कई लोगों ने प्रियंका के काम का बहिष्कार करने का एलान किया। कुछ ने उनके द्वारा किए गए विज्ञापन वाले प्रोडक्ट्स को न खरीदने की मांग की।

देखिए वीडियो 


भारत सरकार से क्वांटिको के कुछ सीन्स को ब्लैक आउट करने की मांग भी की गई। एक दृश्य में एफबीआई एजेंट प्रियंका चोपड़ा रुद्राक्ष की माला को बतौर सबूत इस्तेमाल करती हुई दिख रही हैं। एपिसोड में दिखाया गया है कि एक भारतीय राष्ट्रवादी न्यू यॉर्क शहर को परमाणु बम से उड़ाने की साजिश रच रहा है।

अमेरिका में हिंदू धर्म के विद्वान डैविड फ्रॉली ने इस कहानी पर आपत्ति जताते हुए कहा, "प्रियंका चोपड़ा की मदद से हिंदू आतंकवाद का मिथक, वो भी एक फर्जी कहानी के आधार पर अमेरिकी टेलिविजन में दाखिल हुआ। क्या कोई पाकिस्तानी अदाकारा पाकिस्तान या इस्लाम को इस तरह धोखा दे सकती है, जैसे उन्होंने भारत और हिंदुत्व को दिया है?"

एबीसी की मालिकाना कंपनी वॉल्ट डिज्नी ने एक बयान जारी करते हुए कहा, "एपिसोड ने कई भावनाओं को झनझनाया है, अनुचित ढंग से इनका लक्ष्य प्रियंका चोपड़ा को बनाया गया, जिन्होंने न तो यह शो बनाया है, न ही लिखा है और ना डॉयरेक्ट किया है।"

भारत में राष्ट्रवाद के साथ साथ इंटरनेट पर ट्रोलिंग उफान पर है। सिनेमा को भी खूब निशाना बनाया जा रहा है। 2017 में फिल्म पद्मावत को लेकर भी भारत में खूब हंगामा हुआ। फिल्म रिलीज होने से पहले ही कई तरह की अफवाहें उड़ने लगीं और जगह जगह छिटपुट हिंसा हुई।। बीजेपी और दूसरी राजनीतिक पार्टियों का समर्थन करने वाले फेक न्यूज को आधार बनाकर भी इंटरनेट पर एक दूसरे को नीचा दिखाने की होड़ छेड़े हुए हैं।
Labels:
Reactions:

Post a Comment

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget