स्वास्थ्य सेवाओं में सुधार के लिए रथ यात्रा

स्वास्थ्य सेवाओं में सुधार के लिए रथ यात्रा

  • सरकारी अस्पतालों की बदहाली के खिलाफ रथ यात्रा पर अकेले निकले कांग्रेसी नेता फ़रीद अहमद गाज़ी।
  • गाजीपुर जनपद के गांवों में घूमकर लोगों को स्वास्थ्य सुविधाओं के प्रति कर रहे हैं जागरूक। 
  • 13 अगस्त को सरजू पांडेय पार्क गाजीपुर में करेंगे प्रदर्शन। 
गाजीपुर (उ. प्र.)।। व्यवस्था में बेहतरी और लोगों को उनका अधिकार मिले, इसके लिए समय-समय पर जन आंदोलन होते रहे हैं और होने भी चाहिए। इस बार गाजीपुर जनपद में स्वास्थ्य सेवाओं को बेहतर बनाने के लिए दिलदारनगर निवासी कांग्रेसी नेता फ़रीद अहमद गाज़ी ने यह बेड़ा उठाया है। इसीलिए सरकारी अस्पताल सुधार आंदोलन रथ यात्रा लेकर अकेले ही निकल पड़े हैं। गांव-गांव जा कर लोगों को स्वास्थ्य सेवाओं में बेहतरी के लिए जागृत कर रहे हैं। उनकी मांग है सरकारी अस्पतालों में सभी दवाएं व डाक्टर की मौजूदगी हो। आम लोगों को बेहतर इलाज मिले। उनका मानना है कि वर्तमान सरकार में अस्पतालों की हालत दयनीय है, एक तरफ जहां डॉक्टरों का आभाव है तो दूसरी तरफ दवा और अन्य सुविधाएं न होने से जनता परेशान हो रही है।
उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के सदस्य तथा जनहित के मुद्दों पर संघर्ष के लिए मशहूर फरीद अहमद गाजी ने सरकारी अस्पतालों में स्वास्थ्य सेवाए मुहैय्या कराने की मांग को लेकर गाजीपुर जिले में आन्दोलन छेड़ दिया है। जिले के तहसीलों, ब्लाकों और गांव-गांव में जनसंपर्क करते हुए सरकार की वादा खिलाफी की जनता के बीच चर्चा करते हुए समस्याओं पर सरकार का ध्यान आकृष्ट कर रहे हैं। फ़रीद गाज़ी कहते हैं कि प्रदेश सरकार सभी सरकारी अस्पतालों में बेहतर स्वास्थ्य सेवाएं मुहैया कराए। गाजीपुर सदर अस्पताल के मुख्य द्वार पर डॉ0 मुख्तार अहमद अंसारी सदर अस्पताल का बोर्ड लगा जाय क्योंकि सदर अस्पताल की जमीन स्वतंत्रता संग्राम सेनानी डॉ0 मुख्तार अहमद अंसारी की है, जहां1936 में उनकी क्लिनिक थी, उनकी उपेक्षा बर्दाश्त नहीं की जाएगी।

मुहममदाबाद तहसील के गावँ मुरकी खुर्द व कला के लोगों को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि आज यात्रा आगामी 13 अगस्त 2018 को सरजू पांडे पार्क गाजीपुर पहुंच के विशाल धरना-प्रदर्शन में बदल जाएगी । फिर भी प्रदेश सरकार ने हमारी मांगे नहीं मानी तो नही तो इसे प्रदेश स्तर पर आन्दोलित किया जाएगा। हम आम लोगों की आवाज़ को तब तक उठाते रहेंगे जब तक उनका अधिकार न मिल जाये। आज पूरे प्रदेश में स्वास्थ्य सेवाएं लचर हैं, अस्पतालों में डॉक्टर का अभाव तो है ही दवाएं और अन्य सुविधाओं की भी कमी है। 

अब तक तकरीबन 100 से ज्यादा गांव का दौरा करने के बाद रविवार को 14वें दिन यात्रा यहाँ पहुंची। अवसर पर गिरजादत दूबे, अययूब खान, अनवर खान, जयप्रकाश प्रजाति, कुन्दन यादव, शहाबुद्दीन खान, जनक कुशवाहा, आनन्द राय, सैयद अहमद गाजी, खान अहमद जावेद, आदिल, मुस्तकीम, रामनिहोर आदि लोगों मौजूद रहे।
Reactions:

Post a Comment

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget