कोई भी मरीज बिना इलाज के नहीं जाएगा- वीएन मिश्र

कोई भी मरीज बिना इलाज के नहीं जाएगा- वीएन मिश्र

  • सर सुन्दरलाल अस्पताल (बीएचयू) के मुख्य चिकित्सा अधीक्षक बने प्रो0 विजयनाथ मिश्र। 
  • सर सुन्दरलाल अस्पताल में मरीजों के लिए कुलपति ने किया नि:शुल्क भोजन की शुरुआत। 
वाराणसी।।सर सुन्दरलाल अस्पताल (बीएचयू) के मुख्य चिकित्सा अधीक्षक के तौर पर मंगलवार को डॉ0 विजयनाथ मिश्र ने जिम्मेदारी संभाल लिया। अपने कार्यकाल के शुरुआती दौर में डॉ0 वीएन मिश्र अस्पताल को पेशेंट फ्रेण्डली बनाने की दिशा में एक कदम आगे बढ़ा दिया है। इस क्रम में बुधवार को अस्पताल आने वाले मरीजों और उनके परिजनो को नि:शुल्क भोजन देने का कुलपति प्रोफेसर राकेश भटनागर के आतिथ्य में शुभारंभ हुआ। इस अवसर पर कुलपति ने चिकित्सा अधीक्षक प्रो विजयनाथ मिश्र के इस नेक पहल की सराहना करते हुये कहा कि देश के इतिहास में ऐसा पहली बार महामना की बगिया में मरीजों और उनके परीजनों को नि:शुल्क भोजन देने की शुरुआत करते मुझे गर्व महसूस हो रहा है। इस नेक कार्य के लिए कुलपति ने स्वयं मरीजों के लिए अपने निजी संसाधनों से एक दिन का भोजन देने की घोषणा की। उन्होने सामाजिक संगठनों, विश्वविद्यालय के छात्र-छात्राओं द्वारा इस महान कार्य में सहयोग करने के लिए बधाई दी। 
इस दौरान नव-नियुक्त मुख्य चिकित्सा अधीक्षक प्रो0 विजयनाथ मिश्र ने कहा कि पूर्वांचल के एम्स के नाम से विख्यात महामना की सौ साल पूर्व की सबको निरोग रखने की सोच सर सुन्दरलाल अस्पताल है। यहां पूर्वांचल सहित आर्थिक बदहाली की मार झेल रहे बिहार, झारखंड, मध्य प्रदेश, छतीसगढ के अलावा नेपाल और बंगला देश के गरीब मरीज इलाज के लिए आते हैं। दूर दराज से इलाज को अस्पताल आने वाले मरीजों और उनके परिजनों को सबसे ज्यादा दिक्कत रहने और भोजन की होती है। ऐसी पीड़ा से निजात दिलाने के लिए सर सुन्दरलाल अस्पताल प्रशासन मरीजो और उनके परिजनो को प्रतिदिन नि:शुल्क भोजन उपलब्ध करायेगा। उन्होने सामाजिक संगठनो से इस नेक कार्य में सहयोग करने की अपील की। प्रो0 मिश्र ने मरीजों के प्रति अपनी प्रतिबधता दोहराते हुये कहा की प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के सपनों के अनुकूल कोई भी मरीज बिना इलाज के काशी से नहीं लौटेगा। इसके लिए शीघ्र ही अस्पताल आने वाले मरीजो को नि:शुल्क दवा, जांच की भी व्यवस्था किया जायेगा। इसके अलावा शीघ्र ही मरीजो और उनके परिजनो के रहने की व्यवस्था की जायेगी। 
इस अवसर पर चिकित्सा विज्ञान संस्थान के निदेशक प्रो वी के शुक्ला, चीफ प्राक्टर प्रो रोयना सिंह, भोजपुरी अध्ययन केन्द्र के निदेशक प्रो श्रीप्रकाश शुक्ला, प्रो आनंद चौधरी, प्रो संजय गुप्ता, ट्रामां सेंटर के इंचार्ज प्रो संजीव गुप्ता सहित भारी संख्या में मरीज उनके परिजन एवं विद्यार्थी मौजूद रहे।

टिप्पणी पोस्ट करें

MKRdezign

संपर्क फ़ॉर्म

नाम

ईमेल *

संदेश *

Blogger द्वारा संचालित.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget