BHU : तीन दिवसीय कार्यशाला में दंत प्रत्यारोपण का हुआ सीधा प्रसारण

BHU,


वाराणसी।।बीएचयू के दंत चिकित्सा विज्ञान संकाय में दंत प्रत्यारोपन ( डेंटल इंप्लांट) की तीन दिवसीय(14-16जुलाई)कार्यशाला का आयोजन किया गया, जिसमें देश के विभिन्न भागों से दंत चिकित्सकों ने भाग लिया।

इस तीन दिवसीय कार्यशाला में उन मरीज़ों के नये दाँत लगाने की प्रक्रिया सिखायी गई जिनके सभी दाँत खो चुके हैं। इंप्लांट ओ.टी. से ट्रॉमा सेंटर ऑडिटॉरीयम में सीधा सजीव प्रसारण किया गया।


कार्यशाला के मुख्य आयोजक डॉक्टर राजेश बंसल ने उर्जांचल टाइगर न्यूज़ वाराणसी के अजीत नारायण सिंह (ब्यूरो चीफ) को बताया कि इस कार्यशाला में बी.एच.यू. द्वारा निर्मित डेंटल इंप्लांट का प्रयोग कर के एक ऐसे मरीज़ के सारे दाँत फ़िक्स किये गए जो कि पायरिया और कीड़ा लगने से सभी दाँत खो चुका है। यह इंप्लांट आई.आई.टी एवम भारत सरकार द्वारा संस्तुति प्राप्त है और यह इंप्लांट मरीज़ों को न्यूनतम दर पर प्रदान किया जाता है। भारतीय विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विभाग के प्रोफेसर एमिरेट्स डॉ0 वकील सिंह ने बताया कि विभाग द्वारा प्रदत्त अनुदान से पिछले 8 वर्षों में इस प्रकार के इंप्लांट द्वारा सैंकड़ों मरीज़ लाभान्वित हो चुके हैं। डॉक्टर राजेश बंसल ने आशा किया कि इस कार्यशाला के बाद इस नयी चिकित्सा पद्धति का प्रचलन बढ़ेगा और समाज को नयी दिशा मिलेगी। डॉक्टर बंसल ने बताया कि बहार निजी संस्थानों मे इस तरह के दंत प्रत्यारोपन (डेंटल इंप्लांट) की अवसत 15-20 हजार रु० खर्च हो जाते हैं।


दंत चिकित्सा विज्ञान संकाय में दंत प्रत्यारोपन ( डेंटल इंप्लांट) की कार्यशाला का उद्घाटन एवं मुख्य अतिथि प्रोफेसर डॉ0 वी.के. शुक्ला (निदेशक, चिकित्सा विज्ञान संस्थान, बी.एच.यू.) ने किया विशिष्ट अतिथि प्रो० नीलम मित्तल, संकय प्रमुख एवं विभागाध्यक्ष ने वर्कशाप से सम्बन्धित जानकारी दिए इस अवसर पर देश से आये दंत चिकित्सक, संकाय के अध्यापक गण एवं छात्र-छात्राए उपस्थित रहें मुख्य वक्ता डॉ0 लीना तोमर और डॉ0 अमित राज थे इसके संयोजक डॉक्टर राजेश बंसल एवं डॉ0 पवन दूवे द्वारा इंप्लांट ओ.टी. से ट्रॉमा सेंटर ऑडिटॉरीयम में सजीव प्रसारण किया गया।
Reactions:

Post a Comment

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget