बैकुंठपुर - नवोदय विद्यालय का शिक्षक हैवान बना,मासूम बच्चों को दम भर पीटा

जवाहर नवोदय विद्यालय,बैकुंठपुर


न्यूज डेस्क
छत्तीसगढ़, उर्जान्चल टाइगर
कोरिया जिले के केनापारा में संचालित जवाहर नवोदय विद्यालय के दो शिक्षक ने तीन बच्चों को एक कमरे में बंद कर अधमरा होते तक बुरी तरह से पीटा। इतना ही नहीं बच्चों को पीटने के बाद शिक्षक ने उन्हें यह धमकी भी दी कि यदि इस घटना की जानकारी किसी को दोगे तो मैं कार से घसीट कर मारुंगा। पुलिस ने आरोपी शिक्षक के विरुद्ध धारा 323,506,342 व 75 किशोर न्याय अधिनियम2015 के तहत मामला दर्ज कर फरार आरोपी शिक्षक की तलाश शुरू कर दी है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार रविवार(08-07-2018) की रात्रि विद्यालय परिसर में बिजली गुल होने की कारण बच्चे विद्यालय परिसर में खेल रहे थे। खलने के दौरान वहां खड़ी एक शिक्षक बी पी गुप्ता की कार में मामूली रूप से बच्चों से स्क्रैच लग गया व नंबर प्लेट टूट गई। जिसकी जानकारी किसी ने बुधवार को उक्त शिक्षक को दे दी। जिसके बाद बुधवार को दोपहर भोजन अवकाश के बाद बीपी गुप्ता तीनों बच्चों को मारते-पीटते परिसर में बने अपने आवास में ले गया और वहां उन तीनों बच्चों को लाठी व बेल्ट से जमकर पीटा। पीटने के बाद उक्त हैवान शिक्षक ने तीनों बच्चों को कमरे में बंद कर दिया। लगभग 3 घंटे बच्चों को उक्त शिक्षक ने कमरे में बंद कर रखा। 
बताया गया की उन क्षात्रों में से एक जिसके पास मोबाइल था ने अपने पिता को मोबाइल से फोन लगा कर इसकी जानकारी दी। जिसके बाद अभिभावक फौरन नवोदय विद्यालय पहुंच गए और उन्होंने वहां जमकर हंगामा मचाया। इपरिजनों के साथ बच्चे सिटी कोतवाली पहुंच कर शिक्षकों के विरुद्ध मामला पंजीबद्घ करवाया।

बच्चों ने यह भी बताया कि हैवान शिक्षक बीपी गुप्ता के साथ जीयूत कुमार चक्रवर्ती शिक्षक ने भी उनके साथ मारपीट की है। 

प्राचार्य ने ई-मेल कर आरोपी शिक्षकों को किया बर्खास्त

प्राचार्य श्रीनिवास राव बैठक के सिलसिले में रायपुर में थे।घटना की जानकारी मिलते ही ई-मेल के माध्यम से संविदा कर्मी के रूप में पदस्थ दोनों आरोपी शिक्षक बी.पी. गुप्ता और जे के चक्रवर्ती को बर्खास्तगी के आदेश भेज दिया गया है।

इस घटना से नवोदय विद्यालय प्रबंधन को लेकर भी चर्चा है के तीन घंटे तक बच्चे गायब रहते है,बच्चो की दम भर पीटाई की जाती है,बच्चो के शरीर जख्मी हो जाता है और प्रबन्धन को कोई भनक नहीं लगता,ऐसे में कोई अप्रिय घटना घाट जाती तो,कौन होगा जिम्मेदार? 
Labels:
Reactions:

Post a Comment

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget