सत्यता व समाजिकता की हुई जीत-सुशील मिश्रा

सोनभद्र समाचार


नौशाद अन्सारी
ब्यूरो,सोनभद्र,उर्जांचल टाइगर 
ओबरा नगर के सामाजिक कार्यकर्ता सुशील मिश्रा संग्राम की सोमवार की देर शाम रिहाई पर मौजुद रहे भाजपा के पुर्व जिलाध्यक्ष धर्मवीर तिवारी व भाजपा युवा मोर्चो के क्षेत्रीय मंत्री दिनेश शुक्ला सहित सुभाष तिराहे पर सैकड़ो लोगों ने माल्यापर्ण कर हर्ष जताया। 

पीजी कॉलेज ओबरा के पूर्व छात्र परिषद अध्यक्ष संजीव मालवीय ने कहा कि विगत दिनों कथाकथित तौर पर कामगारों व संविदाकार के बीच हुई झड़प में फर्जी मुकदमा कायम कर सामाजिक कार्यकर्ता श्री मिश्रा को जेल भेज दिया गया जो शासन प्रशासन की अन्याय संगत कार्यवाही थी। जिसका विरोध कामगारों ने जताते हुये नगर ओबरा में अनिश्चितकालीन धरना शुरू कर दिया। 44 दिन बीत जाने के बाद भी किसी प्रकार की मजदूर हित में नहीं की गई , सामाजिक कार्यकर्ता के पक्ष में आखिरकार न्यायपालिका द्वारा संवेदनशील कार्यवाही करते हुए रिहाई का आदेश जारी कर दिया गया जिससे लोगों में अपार हर्ष है। 

जिला संविदा संयुक्त संघर्ष समिति के कोषाध्यक्ष नमाज अहमद ने कहा कि न्याय की आस में कामगार नेताओं को एक माह से अधिक समय तक गुमराह करने का काम शासन प्रशासन व्दारा किया गया। लेकिन सत्य और सामाजिकता की जीत हुई मजदूरों के लिए सर्घष करने को संकल्पित सामाजिक कार्यकर्ता सुशील मिश्रा संग्राम का उत्पीड़न किया जाना जॉच का विषय है ताकि समाज के सक्रिय लोगों की आवाज न दबाया जा सके।

सामाजिक कार्यकर्ता सुशील मिश्रा संग्राम ने 44 दिन से धरनारत कामगारों के प्रति आभार व्यक्त करते हुए बेमियादी धरना के समापन की घोषण की। 

इस दौरान समिति के उपाध्यक्ष मणिशंकर पाठक, रविन्द्र यादव, मकसूद अंसारी, मारवाड़ी,रवि बग्गा, विवेक कुमार मिश्रा, जुबेर अहमद , विवेक प्रजापति ,अनिल यादव ,विशाल उपाध्याय, सौरभ सिहं ,संतोष कुमार गुप्ता,जय कुमार, तारकेश्वर शुक्ला ,कृष्णा रावत, राम नरेश गोंड,तारा देवी, छोटे लाल खरवार,कौशल्या देवी, धनराजी ,पार्वती देवी,सुनीता जायसवाल,गुड्डिया ,मौजुद रहे।
Labels:
Reactions:

Post a Comment

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget