फर्जी खबरें और अफवाहों को रोकने के लिए मैसेज भेजने की सीमा तय करेगी व्हाट्स ऐप

व्हाट्स ऐप

Image:source google

नयी दिल्ली।।
सरकार के चेतावनी के बाद व्हाट्स ऐप ने ब्लॉग पोस्ट में कहा,की " हमने व्हॉट्सएप को निजी संदेशवाहक के तौर पर बनाया है , जो कि अपने परिवार और दोस्तों के साथ जुड़ने का सरल , सुरक्षित और विश्वसनीय तरीका है। इसलिये हमने नये फीचर्स को जोड़ा है। हम आपकी सुरक्षा और निजता को लेकर पूरी तरह से प्रतिबद्ध है और हम अपने एप को बेहतर बनाए रखने का कार्य जारी रखेंगे।

देश में फर्जी खबरें और अफवाहें फैलने के बाद सामने आईं हत्या की घटनाओं के कारण आलोचना झेल रहे व्हॉट्सएप ने बड़ा कदम उठाने का निर्णय किया है। व्हॉट्सएप ने बयान में कहा कि वह एप पर संदेश भेजने की सीमा को निर्धारित करने के लिये परीक्षण शुरू कर रही है। इसके अलावा उसने कहा कि वह मीडिया संदेशों के बगल में दिखाई देने पर वाले क्विक फारवर्ड बटन को भी हटायेगा। 

व्हॉट्सएप ने ब्लॉग पोस्ट में कहा कि भारत में उसके उपयोगकर्ता अन्य देशों के उपयोगकर्ताओं की तुलना में अधिक संदेश , तस्वीर और वीडियो भेजते हैं। आज हम संदेश भेजने की सीमा को निर्धारित करने के लिये एक परीक्षण शुरू कर रहे हैं। यह व्हॉट्सएप के हर उपयोगकर्ता पर लागू होगा। भारत में ... हम संदेश को एक बार में पांच चैट के लिये सीमित करने का भी परीक्षण करेंगे और मीडिया संदेश के बगल में दिखाई देने पर वाले बटन को भी हटाएंगे। 

मैसेजिंग प्लेटफॉर्म पर भ्रामक और फर्जी खबरें प्रसारित होने के बाद व्हॉट्सएप को भारत सरकार की ओर से तीखी प्रतिक्रिया का सामना करना पड़ा था। सरकार ने इस तरह की खबरों को रोकने के लिये जरूरी कदम उठाने को कहा था। 

कल ही सरकार ने व्हॉट्सएप को दूसरा नोटिस भेजकर फर्जी और भ्रामक संदेशों के प्रसार को रोकने के लिए प्रभावी समाधान करने को कहा है। सरकार ने कंपनी को चेतावनी दी है कि अफवाहों के प्रसार में माध्यम बनने वाले भी दोषी माने जाएंगे और मूक दर्शक बने रहने पर उन्हें भी कानूनी कार्रवाई का सामना करना पड़ सकता है। 

लेबल:
प्रतिक्रियाएँ:

एक टिप्पणी भेजें

MKRdezign

संपर्क फ़ॉर्म

नाम

ईमेल *

संदेश *

Blogger द्वारा संचालित.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget