सोनभद्र-कुख्यात नक्सली अजय राजभर गिरफ्तार

सोनभद्र समाचार


नौशाद अन्सारी
ब्यूरो सोनभद्र,उर्जांचल टाइगर 

सोनभद्र।। कुख्यात नक्सली अजय राजभर गिरफ्तार।सोनभद्र से सटे रोहतास पुलिस और कैमूर पुलिस को एक बड़ी कामयाबी प्राप्त हुई है।

यूपी,बिहार और झारखंड में दहशत का पर्याय बन चुके कुख्यात नक्सली टीपीसी का एरिया कमांडर अजय राजभर को झारखंड के गढ़वा से गिरफ्तार कर लिया गया है।"आपको बताते चलें के टीपीसी नक्सल संगठन का असर उत्तर प्रदेश के सोनभद्र जिले के कोन, माची, रायपुर सहित चंदौली जिले के नौगढ़ में था"।पुलिस इसे बड़ी कामयाबी मान रही है। जानकारी के मुताबिक नक्सली संगठन टीपीसी का कुख्यात कमांडर अजय राजभर झारखण्ड के पलामू से गिरफ्तार किया गया है। माना जा रहा है कि अजय राजभर किसी बड़ी घटना को अंजाम देने के लिये ही झारखंड के पलामू और गढ़वा के इलाके में लगातार कैम्प कर अपने संगठन को मजबूत कर रहा था।अजय राजभर अपने 20 सदस्यीय टीम के साथ झारखंड के पलामू में नक्सलियों को प्रशिक्षण भी दे रहा था ताकि कैमूरांचल किसी बड़ी घटना को अंजाम दे सके।



"आपको बतादें के 2011 में कुख्यात अजय राजभर को सोनभद्र के तत्कालीन पुलिस अधीक्षक दीपक कुमार के निर्देशन में उस समय के तेज तर्रार दरोगा में शुमार प्रदीप सिंह चंदेल,रविन्द्र यादव और नागेंद्र चौबे ने गिरफ्तार किया था"।

अजय राजभर रोहतास-कैमूर-औरंगाबाद सहित आसपास के इलाके में सक्रिय रहा है तथा इस पर पुलिस टीम पर हमला करने सहित लेवी के लिए हत्या के भी आरोप हैं। इतना ही नहीं लूटपाट, बमबारी और दर्जनों हत्या जैसे कई मामले दर्ज हैं।2014 में अजय सासाराम जेल से जमानत पर बाहर आया था तथा फिर टीपीसी संगठन से जुड़ गया था। जिसके बाद रोहतास और कैमूर जिले में आतंक का पर्याय बन चूका था। कैमूर पहाड़ी के इलाके में अजय राजभर का ग्रुप लगातार पुलिस के नाक में दम किए हुए था। वो समय-समय पर अपना लोकेशन बदलकर पहाड़ी क्षेत्र में अपना दबदबा बना रहा था। इसके अलावे ईट भट्ठा ठेकेदारों से जबरन लेवी वसूलने की भी सूचना मिल रही थी।
Reactions:

टिप्पणी पोस्ट करें

MKRdezign

संपर्क फ़ॉर्म

नाम

ईमेल *

संदेश *

Blogger द्वारा संचालित.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget